वित्त राज्य मंत्री का मीडिया और मनोरंजन सेक्टर में नौकरियों को लेकर आया बड़ा बयान- कही ये बात

वित्त राज्य मंत्री का मीडिया और मनोरंजन सेक्टर में नौकरियों को लेकर आया बड़ा बयान- कही ये बात
वित्त राज्य मंत्री का मीडिया-मनोरंजन सेक्टर में नौकरियों को लेकर आया बड़ा बयान

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा है कि मीडिया और मनोरंजन उद्योग (Media And Entertainment Industry) कोरोना के बाद के हालात में ज्यादा नौकरियां देगा. उन्होंने मंगलवार को कहा कि वर्क फ्रॉम होम जारी रहने वाला है. ऐसे में मीडिया और मनोरंजन नौकरी देने वाले बड़े सेक्टर के रूप में उभर सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा है कि मीडिया और मनोरंजन उद्योग (Media And Entertainment Industry) कोरोना के बाद के हालात में ज्यादा नौकरियां देगा. उन्होंने मंगलवार को कहा कि वर्क फ्रॉम होम जारी रहने वाला है. ऐसे में मीडिया और मनोरंजन नौकरी देने वाले बड़े सेक्टर के रूप में उभर सकता है. ठाकुर ने कहा कि यह महामारी और लॉकडाउन की स्थिति ने हमें दिखाया है कि वर्क फ्रॉम होम जारी रहने वाला है. इस संकट में हमें अवसर की तलाश करनी होगी. यह विकास करने के लिए सही समय है. उन्होंने कहा कि हमें मीडिया और मनोरंजन उद्योग में रोजगार और ग्रोथ की बड़ी संभावना दिख रही है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार देश के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही है.

भारतीय उद्योग जगत इस मुश्किल घड़ी से निकलने और इस पर विजय पाने में सफल रहेगा. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार ने सिर्फ दो हफ्ते में दो दशकों के रिफॉर्म्स के एलान किए. इन्हें अब लागू किया जा रहा है. उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए फिक्की फ्रेम में अपने विचार साझा किए.

ये भी पढ़ें:- प्राइवेट ट्रेनों में यात्रा करने के लिए ज्यादा ढीली करनी होगी जेब, जानिए क्यों



ठाकुर ने कहा कि कोरोना की महामारी ने देश की लंबी अवधि की योजनाओं को चोट पहुंचाई है. ग्लोबल सप्लाई चेन और लेबर मार्केट पर इसका बड़ा असर पड़ा है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 ने कारोबार के हर क्षेत्र में अनिश्चितताएं पैदा की है. कोई यह नहीं बता सकता कि यह महामारी कब खत्म होगी. वित्त मंत्रालय में हम रोजाना स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं.
केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर पैकेज का अर्थव्यवस्था पर व्यापक असर होगा. कोरोना से प्रभावित अर्थव्यवस्था को सहायता देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मई में 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की थी. लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना की महामारी काबू में नहीं आ रही है. इस महामारी से प्रभावित लोगों की संख्या 7 लाख के पार हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज