नीलाम होगी Apple के सह-संस्थापक स्टीव जॉब्स की पहली जॉब एप्लीकेशन, पढ़ें इसमें क्या लिखा है

स्टीव जॉब्स ने 1973 में अपनी पहली जॉब के लिए अप्लाई किया था.

स्टीव जॉब्स (Steve Jobs) द्वारा 1973 में पहली बार नौकरी के​ लिए आवेदन करने वाले एप्लीकेशन की नीलामी होगी. इस एप्लीकेशन में उन्होंने अपने स्किल्स और रुचि के बारे में जानकारी दी है. हालांकि, इसमें यह ज़िक्र नहीं है कि उन्होंने किस पद या कंपनी में अपनी पहली नौकरी के लिए आदेदन किया था.

  • Share this:
    नई दिल्ली. एप्पल कंपनी के सह-संस्थापक स्टीव जॉब्स (Steve Jobs) ने 1973 में अपने हाथों से लिखे एप्लीकेशन के जरिए अपनी पहली नौकरी के लिए आवेदन किया था. अब उनकी इस जॉब एप्लीकेशन की नीलामी होने जा रही है. एक पन्ने के इस जॉब एप्लीकेशन लेटर में यह जानकारी नहीं है कि उन्होंने किस पोस्ट या किस कंपनी में नौकरी के लिए आवेदन किया था. 2018 में भी इसकी नीलामी के जरिए 1,75,000 डॉलर जुटाए गए थे. आज के समय में भारतीय रुपये के हिसाब से देखें तो यह करीब 1.27 करोड़ रुपये होगा. चार्टरफील्ड इसे 24 फरवरी से 24 मार्च तक एक महीने के लिए नीलामी के लिए लिस्ट करेगी. चार्टर​फील्ड्स द्वारा नीलामी में रखे जा रहे इस एप्लीकेशन में लिखा गया है ​कि स्टीव जॉब्स ने रीड कॉलेज से अंग्रेजी साहित्य में पढ़ाई की है.

    इसमें एप्लीकेशन में स्टीव जॉब्स ने अपने स्कील के तौर पर 'कम्प्युटर' और 'कैलकुलेटर' का जिक्र किया है. इसके अलावा भी ​'डिज़ाइन' और 'टेक्नोलॉजी' का भी जिक्र है. उन्होंने अपने स्पेशल स्किल के तौर पर 'इलेक्ट्रॉनिक्स' और डिजिटल 'टेक व डिज़ाइन इंजीनियर' में रुचि जताने की बात लिखी है.

    नीलामी से पहले एप्लीकेशन को लेकर क्या जानकारी दी गई है?
    चार्टरफील्ड्स की वेबसाइट पर स्टीव जॉब्स के नौकरी एप्लीकेशन को लेकर लिखा गया है, '1973 में नौकरी के लिए एक पन्ने के आवेदन को नीलामी के लिए रखा जा रहा है. इस एप्लीकेशन में स्टीव जॉब्स ने कम्प्युटर व कैलकुलेटर को लेकर अपने अनुभव के बारे में बताया है. उन्होंने यह भी बताया है कि उनके पास इलेक्ट्रॉनिक व डिज़ाइन इंजीनियर डिजिटल में विशेष योग्यता था.'

    यह भी पढ़ें: Reebok से अलग होने की तैयारी में Adidas, जर्मन कंपनी ने अपना फेमस शूज ब्रांड बेचने की औपचारिक प्रक्रिया की शुरू

    इसमें लिखा है, 'माना जा रहा है कि यह एप्लीकेशन तब की है, जब उन्होंने ओरेगॉन के पोर्टलैंड स्थित रीड कॉलेज में अपनी पढ़ाई को बीच में ही छोड़ दिया था. इसके एक साल बाद उन्होंने टेक्निशियन के तौर पर अटारी ज्वाइन किया था, जहां उन्होंने स्टीव वॉज़नियाक के साथ काम किया है. 1976 में दोनों ने मिलकर एप्पल की स्थापना की.'



    किस हालत में है स्टीव जॉब्स का यह एप्लीकेशन?
    इस वेबसाइट पर यह नीलामी से पहले यह भी बताया गया कि थोड़ा सिकुड़न और रंग हल्का होने को छोड़ दें तो यह एप्लीकेशन अभी भी बेहतर हालात में है. यह कहीं से कटा-फटा नहीं है. इस एप्लीकेशन के साथ ऑथेन्टिसिटी लेटर व सर्टिफिकेट भी है. 2018 में पहले इसे एक नीलामी में 1,75,000 डॉलर में बेचा गया ​था.

    यह भी पढ़ें: छोटी कंपनियों की मदद करेगी गूगल, भारतीय कंपनियों को मिलेगी डेढ़ करोड़ डॉलर की पूंजी

    इस एप्लीकेशन से यह जानकारी नहीं मिलती है कि जॉब्स ने किसी पोस्ट के लिए आवेदन किया था. इसमें यह भी जानकारी नहीं है कि उन्होंने किस कंपनी में अपनी इस पहली नौकरी के लिए आवेदन किया था. हालांकि, ​इसके स्क्लि सेक्शन से संकेत मिलता है कि वह कोई कम्प्युटिंग कंपनी होगी. इस एप्लीकेशन को आॅनलाइन नीलामी के लिए एक महीने तक रखा जाएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.