लाइव टीवी

भारत के लिए Apple ने बनाया बड़ा प्लान! कंपनी इन चीजों में करेगी 7000 करोड़ रुपये का निवेश

भाषा
Updated: September 18, 2019, 1:53 PM IST
भारत के लिए Apple ने बनाया बड़ा प्लान! कंपनी इन चीजों में करेगी 7000 करोड़ रुपये का निवेश
दुनिया की सबसे भरोसेमंद कंपनी एप्पल भारत में करेगी 7100 करोड़ का निवेश

आईफोन (iPhone) निर्माता कंपनी एप्पल (Apple) देश में कारोबार की बड़ी योजनाओं के साथ आने वाली है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 18, 2019, 1:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कानून एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद (Law Minister Ravi Shankar Prasad) ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक कंपनियां (Electronic Companies) भारतीय बाजार को लेकर उत्साहित और आश्वस्त हैं. आईफोन (iPhone) निर्माता कंपनी एप्पल (Apple) देश में कारोबार की बड़ी योजनाओं के साथ आने वाली है. वह भारत में लगभग 7000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि उनके कार्यकाल के दौरान भारत में मोबाइल कारखाने 2 से बढ़कर 268 हो गए हैं. इसमें हैंडसेट के लिए पुर्जे बनाने वाली इकाइयां भी हैं. सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने कहा कि उन्होंने सोमवार को इलेक्ट्रॉनिक उद्योग के वैश्विक और घरेलू मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ पूरे दिन बैठक की.

रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार को एआईएमए के एक कार्यक्रम में कहा कि सभी भारत को लेकर उल्लास में हैं. यहां तक कि एप्पल भी भारत में बड़े पैमाने पर आने की तैयारी कर रही है. सैमसंग आ चुका है. मेरा ध्यान अब रणनीतिक इलेक्ट्रॉनिक, रक्षा और चिकित्सा में इस्तेमाल होने वाले इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों पर है. मैं उद्योगों से आग्रह करूंगा कि यह वृद्धि का एक अच्छा क्षेत्र है.

ये भी पढ़ें: बिना UAN के भी PF खाते से निकाल सकते हैं पैसा, ये है आसान तरीका

सरकार ने सोमवार को अगले 2-3 महीने में इलेक्ट्रॉनिक के साथ - साथ फोन उद्योग के लिए नए प्रोत्साहनों का वादा करते हुए एप्पल जैसी कंपनियों से भारत में विनिर्माण बढ़ाने और देश को अपना बड़ा निर्यात केंद्र बनाने पर जोर दिया.

अमेरिकी कंपनी अनुबंध पर विनिर्माण करने वाली ताइवान की कंपनी विस्ट्रान के साथ काम कर रही है. फिलहाल , कंपनी आईफोन 6 एस और 7 यहां बना रही है. मंत्री ने एआईएमए के कार्यक्रम में मौजूद उद्योगपतियों से चिकित्सा इलेक्ट्रॉनिक कारोबार में आने का आग्रह किया है.

ये भी पढ़ें: इस बैंक में पैसे रखने पर मिलता है कैशबैक, साथ में ये सुविधाएं भी फ्री

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि एमआरआई मशीन से लेकर पैथलॉजी मशीन, एक्सरे मशीन तक चिकित्सा इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की बड़ी संभावनाएं हैं. यहां बड़ा बाजार मौजूद है. भारत एक बड़ा बाजार है, जो चाहता है कि उसके अवसरों का लाभ उठाया जाए.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 18, 2019, 1:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...