Home /News /business /

क्‍या दुनियाभर के लोग भारत में लगा रहे हैं पैसा, रिकॉर्ड स्‍तर पर पहुंच गया है विदेशी पूंजी भंडार

क्‍या दुनियाभर के लोग भारत में लगा रहे हैं पैसा, रिकॉर्ड स्‍तर पर पहुंच गया है विदेशी पूंजी भंडार

आरबीआई की ओर से जारी साप्‍ताहिक आंकड़ाें के मुताबिक, 12 जून को समाप्‍त हफ्ते के दौरान देश के विदेशी पूंजी भंडार में 5 अरब डॉलर से ज्‍यादा की वृद्धि दर्ज की गई है.

आरबीआई की ओर से जारी साप्‍ताहिक आंकड़ाें के मुताबिक, 12 जून को समाप्‍त हफ्ते के दौरान देश के विदेशी पूंजी भंडार में 5 अरब डॉलर से ज्‍यादा की वृद्धि दर्ज की गई है.

कोरोना संकट (Corona Crisis) के बीच देश के लिए अच्‍छी खबर है कि 12 जून को खत्‍म हुए सप्‍ताह में भारत का विदेशी पूंजी भंडार (Forex Reserve) 5.942 अरब डॉलर बढ़कर 507.64 अरब डॉलर हो गया है. आरबीआई के डाटा के मुताबिक, इस दौरान देश के विदेशी मुद्रा भंडार में भी अच्‍छा उछाल दर्ज किया गया है.

अधिक पढ़ें ...
    मुंबई. कोरोना संकट से निपटने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण कारोबारी गतिविधियां थमने से दुनियाभर में आर्थिक संकट की स्थिति पैदा हो गई है. इस बीच पिछले कुछ सप्‍ताह से भारत के विदेशी पूंजी भंडार (Forex Reserve) में लगातार हो रही बढ़ोतरी देश की अर्थव्‍यवस्‍था (Indian Economy) के लिए अच्‍छा संकेत मानी जा रही है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, 12 जून को समाप्‍त सप्‍ताह में देश का विदेशी पूंजी भंडार 5.942 अरब डॉलर बढ़कर 507.64 अरब डॉलर हो गया है. केंद्रीय बैंक के मुताबिक, विदेशी पूंजी भंडार में ये उछाल विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Currency Assets) में हुई बढ़त के कारण दर्ज किया गया है.

    ये भी पढ़ें- रेहड़ी-पटरी वालों को फिर कामधंधा शुरू करने के लिए इस सरकारी स्‍कीम से मिलेगा पैसा

    विदेशी मुद्रा भंडार में 5.1096 अरब डॉलर की वृद्धि
    देश का विदेशी पूंजी भंडार 5 जून को समाप्‍त सप्‍ताह के दौरान पहली बार 500 अरब डॉलर का बैरियर तोड़ने में सफल रहा था. उस सप्‍ताह‍ देश के विदेशी पूंजी भंडार में 8.22 अरब डॉलर की भारी-भरकम बढ़त दर्ज की गई थी. इससे फॉरेक्‍स रिजर्व 501.703 अरब डॉलर पहुंच गया था. आरबीआई ने बताया कि 12 जून को समाप्‍त सप्‍ताह के दौरान देश का विदेशी मुद्रा भंडार 5.106 अरब डॉलर की बढ़त के साथ 468.737 अरब डॉलर पर पहुंच गया. भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि विदेशी पूंजी भंडार में यह बढ़ोतरी ऐसे वक्त में हुई है, जब पूरा देश वैश्विक महामारी की वजह से बुरी तरह प्रभावित है.

    ये भी पढ़ें-PMC बैंक के ग्राहकों को RBI ने दी बड़ी राहत! अब मिली 1 लाख रुपये तक निकालने की छूट

    देश के स्‍वर्ण भंडार में भी दर्ज किया गया है उछाल
    विदेशी पूंजी भंडार में विदेशी मुद्रा भंडार, स्वर्ण भंडार (Gold Reserve), स्‍पेशल ड्रॉइंग राइट्स (SDR) और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) में भारतीय भंडार शामिल होते हैं. आरबीआई ने साप्ताहिक आंकड़े जारी करते हुए बताया कि देश का स्वर्ण भंडार 82.1 करोड़ की वृद्धि के साथ 33.173 अरब डॉलर पर आ गया है. स्‍पेशल ड्रॉइंग राइट्स (SDR) मूल्य 1.454 अरब डॉलर पर पहुंच गया है. देश का आईएमएफ में भंडार 30 लाख डॉलर बढ़कर 4.280 अरब डॉलर हो गया है.

    ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच देश का ये ई-कॉमर्स स्‍टार्टअप हजारों भारतीयों को देगा नौकरी

    विदेशी प्रत्‍यक्ष निवेश में बढ़ोतरी के हैं संकेत
    विदेशी मुद्रा भंडार में पिछले कई हफ्तों सप्ताहों से लगातार हो रही वृद्धि देश की अर्थव्यवस्था के लिए अच्‍छा संकेत माना जा सकता है. दरअसल, विदेशी पूंजी भंडार में वृद्धि का सीधा मतलब है कि देश के विदेशी व्यापार घाटे में कमी हो रही है. देश का निर्यात बढ़ रहा है और आयात कम हो रहा है. देश में विदेशी प्रत्‍यक्ष निवेश बढ़ रहा है. देश के पूंजी बाजार में भी विदेशी निवेश तेजी बढ़ रहा है. इन सभी कारणों के अर्थव्‍यवस्‍था में मौजूद होने पर ही विदेशी पूंजी भंडार में वृद्धि दर्ज की जाती है. इसका एक मतलब ये भी है कि दुनियाभर की कंपनियां भारत में निवेश के बारे में गंभीरता से विचार कर रही हैं. इससे दुनियाभर के लोग भारतीय बाजारों में पैसा लगा रहे हैं.

    Tags: Business news in hindi, Currency, Dollar, Foreign capital, Gold, RBI

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर