कोरोना की सबसे कारगर दवा Remdesivir की भारत में हुई कमी, Cipla अगले 1-2 दिनों में करेगी सप्लाई

कोरोना की सबसे कारगर दवा Remdesivir की भारत में हुई कमी, Cipla अगले 1-2 दिनों में करेगी सप्लाई
Cipla अगले 1-2 दिनों में करेगी सप्लाई

अमेरिकी दवा नियामक यूएसएफडीए ने कोविड-19 (COVID-19) के मरीजों को आपातकालीन स्थिति में रेमडेसिविर (Remdesivir) देने की स्वीकृति दी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश की जानी-मानी फार्मा कंपनी सिप्ला (Cipla) अगले एक से दो दिनों में कोरोना वायरस मरीजों के इलाज में कारगर रेमडेसिविर (Remdesivir) दवा का अपना वर्जन बाजार में पेश करेगी. कंपनी ने CNBC-TV18 को यह जानकारी दी. सिप्ला के रेमडेसिवीर के पहले बैच की दवा सॉवरेन फार्मा (Sovereign Pharma) के दमन स्थित प्लांट से निकल चुका है. कंपनी ने सॉवरेन फार्मा को रेमडेसिवीर का देसी वर्जन का उत्पादन करने के लिए अनुबंधित किया है. बता दें कि अमेरिकी दवा नियामक यूएसएफडीए ने कोविड-19 के मरीजों को आपातकालीन स्थिति में Remdesivir देने की स्वीकृति दी है.

सिप्ला ने मुंबई स्थित बीडीआर फार्मा (BDR Pharma) को रेमडेसिवीर के निर्माण का ठेका दिया है, जो दवा के लिए सक्रिय दवा घटक (एपीआई) भी बनाती है. वहीं, बीडीआर फार्मा ने तैयार खुराक और पैकेजिंग का उप-अनुबंध सॉवरेन फार्मा को दिया. सिप्ला के सीएफओ  केदार उपाध्याय ने CNBC-TV18 को बताया, हम अगले 1-2 दिनों में Remdesivir लॉन्च करने का प्रयास कर रहे हैं. हम अभी तक वॉल्यूम पर टिप्पणी नहीं कर सकते हैं, लेकिन बाजार में मांग की आपूर्ति में भारी अंतर है.

यह भी पढ़ें- बैंक ने बच्चों के लिए लॉन्च किया 'Bhavishya' बचत खाता, मिलेंगे कई फायदे



गिलियड (Gilead) की पेटेंटेड ड्रग Remdesivir को भारत में COVID-19 मरीजों में आपातकालीन उपयोग के लिए अनुमोदित किया गया है. हालांकि यह दवा अभी भी क्लिनिकल ट्रायल में है, लेकिन इसने गंभीर COVID-19 मरीजों में वायरल लोड को कम करने के प्रमाण दिखाए हैं.
सॉवरेन फार्मा (Sovereign Pharma) ने अपने द्वारा भेजे गए शीशियों की मात्रा या संख्या का खुलासा नहीं किया है. कंपनी ने कहा कि वह प्रति माह 95,000 शीशियों के उत्पादन को बढ़ाने की क्षमता रखती है. हाल ही में सेंट्रल ड्रग स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन (CDSCO) ने सॉवरेन फार्मा के संयंत्र का निरीक्षण किया था और एक सप्ताह के भीतर दवा निर्माण के लिए आवश्यक अनुमति मिल गई थी.

सिप्ला, सिप्रेमी (Cipremi) ब्रांड नाम के तहत 4,000 रुपये प्रति शीशी की कीमत पर रेमडेसिवीर बेचेगी. उपाध्याय ने खुलासा किया कि कंपनीएक रेमडेसिवीर निर्माण सुविधा स्थापित करने के उन्नत चरणों में थी.

अब तक, हेटेरो फार्मा एकमात्र ऐसी दूसरी कंपनी है, जिसने 5,400 रुपये प्रति शीशी के हिसाब से दवा लॉन्च की है और अब तक भारत में 20,000 शीशियों की आपूर्ति की जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading