• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए राहत की खबर! एडीबी ने GDP अनुमान सुधारकर किया -8 फीसदी

भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए राहत की खबर! एडीबी ने GDP अनुमान सुधारकर किया -8 फीसदी

इकोनॉमी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इकोनॉमी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एशियाई विकास बैंक (ADB)की अनुपूरक रिपोर्ट में कहा गया कि अर्थव्यवस्था सामान्य स्थिति की ओर लौट रही है और दूसरी तिमाही में संकुचन 7.5 प्रतिशत रहा, जो उम्मीद से बेहतर है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. एशियाई विकास बैंक (Asian Development Bank- ADB) ने गुरुवार को भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए अपने अनुमानों को संशोधित करते हुए कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान 8% संकुचन देखने को मिल सकता है, जबकि पहले इसके नौ प्रतिशत रहने की बात कही गई थी. ADB ने सितंबर माह में भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को लेकर अनुमान लगाया था कि चालू वित्त वर्ष 2020-21 में देश की अर्थव्यवस्था में 9 फीसदी की गिरावट आ सकती है.

    अर्थव्यवस्था सामान्य स्थिति की ओर लौट रही
    एशियाई विकास परिदृश्य (एडीओ) की अनुपूरक रिपोर्ट में कहा गया कि अर्थव्यवस्था सामान्य स्थिति की ओर लौट रही है और दूसरी तिमाही में संकुचन 7.5 प्रतिशत रहा, जो उम्मीद से बेहतर है. कोरोना वायरस महामारी के चलते अर्थव्यवस्था में चालू वित्त वर्ष की जून तिमाही के दौरान 23.9 प्रतिशत का संकुचन हुआ था. रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष 2020 के लिए जीडीपी के अनुमानों को नौ प्रतिशत संकुचन से बढ़ाकर आठ प्रतिशत कर दिया गया है, और दूसरी छमाही में जीडीपी के एक साल पूर्व के समान रहने का अनुमान है. वित्त वर्ष 2020-21 के लिए वृद्धि का अनुमान आठ प्रतिशत पर यथावत है.

    ये भी पढ़ें : Gold Price Today: आज भी गिरे गोल्‍ड के दाम, चांदी 628 रुपये हुई सस्‍ती, देखें नई कीमतें

    रिपोर्ट में कहा गया कि भारत में आर्थिक भरपाई उम्मीद से बेहतर है और इस कारण दक्षिण एशिया में संकुचन के अनुमान को 6.8 प्रतिशत से संशोधित कर 6.1 प्रतिशत कर दिया गया है.

    RBI का अनुमान
    भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने भी चालू वित्त वर्ष (2020-21) के संशोधित पूर्वानुमान में आर्थिक वृद्धि दर के -7.5 फीसदी रहने की संभावना जाहिर की है, जबकि पहले इसके पहले -9.5 फीसदी रहने का पूर्वानुमान जताया गया था. भारतीय अर्थव्यवस्था सितंबर तिमाही में लगाए गए अनुमान के मुकाबले ज्यादा तेजी से रिकवरी कर रही है. इसका एक कारण विनिर्माण के क्षेत्र में उछाल आना है, जो जीडीपी को 7.5 फीसदी के कम सिकुड़न वाले स्तर पर पहुंचने में मदद कर रहा है और आगे बेहतर उपभोक्ता मांग के लिए उम्मीदें पैदा कर रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज