अपना शहर चुनें

States

उत्तर प्रदेश के पावर इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को दुरुस्त करने में मदद करेगा ADB, 7 करोड़ लोगों को होगा फायदा

एशियाई विकास बैंक उत्‍तर प्रदेश के पावर इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को बेहतर बनाने में मदद करेगा.
एशियाई विकास बैंक उत्‍तर प्रदेश के पावर इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को बेहतर बनाने में मदद करेगा.

उत्‍तर प्रदेश (UP) में बिजली आपूर्ति (Power Supply) के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर को दुरुस्‍त किया जाएगा, जिसके लिए एशियाई विकास बैंक (ADB) 43 करोड़ डॉलर का कर्ज देगा. इससे से 65 हजार किमी के गांवों को मिल रही कम वोल्टेज बिजली की समस्या से हमेशा के लिए निजात मिल जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 2, 2020, 7:43 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार (Central Government) के देश सभी घरों में सस्ती और 24 घंटे सातों दिन बिजली पहुंचाने (Power Supply) के लक्ष्य के तहत काम कर रही है. देश की सबसे बड़ी आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश (UP) में गुणवत्तापूर्ण और निर्बाध बिजली पहुंचाने के सरकार के प्रयासों को अब एशियाई विकास बैंक (ADB) का साथ मिल गया है. यूपी में बिजली आपूर्ति के लिए पावर इंफ्रास्ट्रक्चर (Power Infrastructure) को दुरुस्‍त किया जाएगा, जिसके लिए एडीबी 43 करोड़ डॉलर का कर्ज देगा. उत्तर प्रदेश पावर डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क रिहैब्लिटेशन प्रोजेक्ट के पूरा होने से यूपी को किफायती बिजली (Affordable Electricity) मिल पाएगी.

एडीबी से मिले कर्ज की रकम से होंगे ये बदलाव
एडीबी से मिलने वाले कर्ज की मदद से 65 हजार किमी के गांवों को मिल रही कम वोल्टेज बिजली की समस्या से हमेशा के लिए निजात मिल जाएगी. बेयर कंडक्टर को एरियल बंडल कंडक्टर में बदला जाएगा. इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से प्रदेश के 46 हजार गांवों में रह रहे 7 करोड़ लोगों को सीधा फायदा मिलेगा. यही नहीं, कृषि और घरेलू उपभोक्ताओं तक गुणवत्तापूर्ण बिजली पहुंचाने के लिए 17,000 किमी में 11 किलोवॉट के समानांतर फीडर नेटवर्क का निर्माण किया जाएगा. बिजली इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किए जाने से कृषि कार्यों और ग्रामीण मांग को पूरा करने के लिए सोलर एनर्जी प्रोडक्‍शन भी किया जा सकेगा. ऊर्जा और जल संरक्षण करने में भी मदद मिलेगी.

ये भी पढ़ें- वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महंगाई भत्‍ते से हटाई रोक! 24 फीसदी बढ़ोतरी को दी मंजूरी, जानें सच्‍चाई
पावर इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत होने से होंगे फायदे


बिजली इंफ्रास्ट्रक्चर को दुरुस्‍त करने से ना सिर्फ बिजली आपूर्ति सुनिश्चित हो पाएगी बल्कि औद्योगिक गतिविधियों को भी बढ़ावा मिलेगा. औद्योगिक गतिविधियां बढ़ने से सरकार का राजस्व बढ़ेगा और लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी पैछा होंगे. कृषि और इससे जुड़ी गतिविधियों का भी ग्राफ तेजी से बढ़ने की उम्‍मीद है. इसके अलावा उम्मीद की जा रही है कि गुणवत्तापूर्ण और निर्बाध बिजली मिलने से लोगों की जीवनशैली में भी बड़ा बदलाव होगा. स्‍टूडेंट्स को पढ़ने के लिए पर्याप्त रोशनी मिल पाएगी, जिससे वे अपने सपनों को आसानी से पूरा कर पाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज