4 महीने में Gold ETF AUM बढ़कर 5 हजार करोड़ के पार, जानें सोने में क्यों बढ़ा निवेश?

भाषा
Updated: August 25, 2019, 2:43 PM IST
4 महीने में Gold ETF AUM बढ़कर 5 हजार करोड़ के पार, जानें सोने में क्यों बढ़ा निवेश?
4 महीने में गोल्ड ETF में बढ़ा निवेश, जानें क्या है वजह?

गोल्ड (Gold) एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETF) के प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियां (AUM) चालू वित्त वर्ष के शुरुआती चार महीनों में बढ़कर 5,079.22 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी हैं.

  • Share this:
गोल्ड (Gold) एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETF) के प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियां (AUM) चालू वित्त वर्ष के शुरुआती चार महीनों में बढ़कर 5,079.22 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी हैं. अप्रैल-जुलाई अवधि में शेयर बाजारों में 3 प्रतिशत की गिरावट देखी गई है जिसके चलते निवेशकों का रुख सोने (Gold) में निवेश की ओर बढ़ा है.

निवेश सलाहकार कंपनी मॉर्निंगस्टार के आंकड़ों के अनुसार इस साल अप्रैल से गोल्ड ईटीएफ (Gold ETFs) की प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियों में इजाफा हो रहा है. अप्रैल-जुलाई अवधि में बीएसई सेंसेक्स (Sensex) 1,191.79 अंक यानी तीन प्रतिशत गिरा है. जबकि पिछले महीनों के मुकाबले जुलाई में सेंसेक्स में करीब 5 प्रतिशत तक की भारी गिरावट देखी गयी है.

ये भी पढ़ें: सोना खरीदने और बेचने से पहले जान ले ये सभी जरूरी नियम, नहीं मिलेगा नोटिस हमेशा रहेंगे टेंशन फ्री

निवेश की है ये वजह

मॉर्निंगस्टार इंवेस्टमेंट एडवाइजर इंडिया में वरिष्ठ शोध विश्लेषक हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा कि 2012 में उच्चतम स्तर छूने के बाद लंबे समय से निवेशकों ने Gold ETF या कोष में निवेश से दूरी बनायी हुई थी. हालांकि सोने की कीमतें बढ़ने के साथ इस साल इसमें सुधार की प्रवृत्ति देखी जा रही है. उन्होंने कहा कि सोना परिसंपत्ति वर्ग में मुद्रास्फीति से बचाव के तौर पर कार्य करता है. वहीं आर्थिक ऊहापोह की स्थिति में यह एक सुरक्षित निवेश होता है. हाल में वैश्विक अर्थव्यवस्था काफी उतार-चढ़ाव के दौर से गुजर रही है. ऐसे में सोना फिर से सुरक्षित निवेश बन गया है.

आंकड़ों के अनुसार अप्रैल में गोल्ड ईटीएफ के प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियों का मूल्य 4,594.06 करोड़ रुपये था जो मई में बढ़कर 4,606.69 करोड़ रुपये, जून में 4,931.16 करोड़ रुपये और जुलाई में 5,079.22 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

ये भी पढ़ें: 1 सितंबर से होंगे ये बड़े बदलाव, जानिए आपके जेब पर कैसे पड़ेगा असर?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 25, 2019, 2:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...