कोरोना संकट की मार, असंगठित क्षेत्र में 22 फीसदी महिलाओं का छिन गया रोजगार

महिला वर्कर्स की प्रतीकात्मक तस्वीर

अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी (Azim Premji University) के सर्वे के मुताबिक, पिछले साल अक्टूबर-दिसंबर के दौरान असंगठित क्षेत्र की 22 फीसदी महिला वर्कर्स की जॉब चली गई.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण हुए लॉकडाउन (Lockdown) को भले ही कई क्षेत्रों से हटा लिया गया लेकिन असंगठित क्षेत्र (Informal Sector) भीषण त्रासद समय से गुजर रहा है. पिछले साल अक्टूबर-दिसंबर के दौरान असंगठित क्षेत्र की 22 फीसदी महिला वर्कर्स की जॉब चली गई. ये बात अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी (Azim Premji University) के सर्वे में सामने आई है.

    15 फीसदी पुरुष वर्कर्स की तुलना में 22 फीसदी महिला वर्कर्स बेरोजगार
    हालांकि लॉकडाउन के दौरान असंगठित क्षेत्र के लगभग 70 फीसदी पुरुष और महिलाएं काम से बाहर थे. लेकिन रिकवरी महिलाओं की तुलना में पुरुषों में कहीं बेहतर है. 15 फीसदी पुरुष वर्कर्स की तुलना में 22 फीसदी महिला वर्कर काम से बाहर हैं.

    ये भी पढ़ें- Budget 2021: विनिवेश का टार्गेट नहीं हो सकेगा पूरा, अगले साल के लिए 2 लाख करोड़ रुपये हो सकता है लक्ष्य

    असंगठित क्षेत्र में जॉब रिकवरी बहुत धीमी
    यह देखते हुए कि असंगठित क्षेत्र में काम करने वाली महिलाएं अपने परिवारों के लिए एक वित्तीय आवश्यकता हैं, 22 फीसदी महिला वर्कर की बेरोजगारी एक बड़ी संख्या है, यह दर्शाता है कि असंगठित क्षेत्र में जॉब रिकवरी बहुत धीमी है.

    ये भी पढ़ें- Budget 2021: आम आदमी को बड़ी राहत देने की तैयारी, टैक्स में मिल सकती है 80 हजार रुपये की छूट

    लॉकडाउन नियमों में ढील के बाद भी असंगठित क्षेत्र की हालत खराब
    सर्वे में कहा गया है कि पुरुषों की तुलना में कम महिलाओं को अपनी खोई हुई नौकरी वापस मिली. असंगठित क्षेत्र में कार्यरत सभी महिलाओं में से, जिन्होंने महामारी के दौरान अपनी नौकरी खो दी, 17 फीसदी को नौकरियां वापस नहीं मिली. पुरुषों के मामले को देखें तो 11 फीसदी को अपनी खोई हुई नौकरियां नहीं मिली. कुल मिलाकर लॉकडाउन नियमों में ढील के 6 महीने के बाद भी असंगठित क्षेत्र के 15 फीसदी वर्कर्स को खोई हुई नौकरियां नहीं मिली.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.