अपना शहर चुनें

States

अटल पेंशन योजना में घर बैठे खुलवाएं खाता, 60 साल के बाद आजीवन मिलेगा Pension का लाभ

अटल पेंशन योजना में 42 रुपये से भी निवेश की शुरुआत की जा सकती है.
अटल पेंशन योजना में 42 रुपये से भी निवेश की शुरुआत की जा सकती है.

Atal Pension Yojna: अटल पेंशन योजना में निवेश कर अपने भविष्य को वित्तीय रूप से सुरक्षित किया जा सकता है. इसके योजना में जितनी जल्दी निवेश किया जाएगा, 60 साल की उम्र के बाद उतना ही ज्यादा लाभ मिल सकेगा. इसमें कम से कम 42 रुपये प्रति महीने के निवेश से भी आजीवन पेंशन का लाभ उठाने का मौका मिलता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 1:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अपने भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित करने के लिए केंद्र सरकार की अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojna) का लाभ उठाया जा सकता है. इस योजना के तहत थोड़ी सी बचत और निवेश आपके रिटायरमेंट की उम्र के बाद बड़ा सहायक होगी. सरकार की इस योजना में सब्सक्राइबर्स की संख्या करीब 2.50 करोड़ के आसपास हैं. अटल पेंशन योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के लोगों के लिए प्रति माह पेंशन की व्यवस्था होती है. गरीब और मजदूर तबके के लोग इस स्कीम का फायदा उठा सकते हैं. यही कारण है कि अपने बुढ़ापे को वित्तीय रूप से सुरक्षित करने के लिए इस योजना को चुन रहे हैं. आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में...

सिर्फ 42 रूपये से शुरू करें निवेश
इस साल अक्टूबर के अंत में सब्सक्राइबर्स के मामले में 34.51 प्रतिशत वृद्धि हुई है. खास बात यह है कि इस स्कीम में आप सिर्फ 42 रुपये प्रति माह में आजीवन पेंशन लाभ ले सकते हैं. इसके लिए 18 साल में इस स्कीम में जुड़ना होगा. इसके बाद प्रति माह 42 रुपये का भुगतान कर 60 साल की उम्र के पड़ाव को पार कर लेने के बाद आपको 1 हजार रुपये महीना पेंशन मिलेगी. वहीं अगर आप 210 रुपये महीना जमा करेंगे तो आपको 5 हजार रुपये महीना पेंशन मिलेगी.

ये भी पढ़ें : Bad Bank क्या है? बैंकिंग सेक्टर में सुधार के लिए बजट में सरकार इसका क्यों ऐलान कर सकती है?
इन लोगों को मिलता है पेंशन का लाभ


आपको बता दें कि अटल पेंशन योजना का मकसद वृद्धावस्था में आय सुरक्षा प्रदान करना है. इसमें 60 साल की उम्र के बाद न्यूनतम पेंशन की गारंटी दी जाती है. इस योजना को देश का कोई भी नागरिक 18 से 40 साल की उम्र में ले सकता है. योजना की खासियत यह है कि इसमें अंशधारक के निधन होने पर पेंशन उसके पति/पत्नी को दी जाती है. इतना ही नहीं, दोनों के निधन के बाद पेंशन कोष में जमा राशि नामित व्यक्ति को दे दी जाती है.

मृत्यु के बाद भी मिलता है स्कीम का फायदा
अगर 60 साल से पहले ही योजना से जुड़े किसी व्‍यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो फिर उसकी पत्नी इस योजना में पैसे जमा करना जारी रख सकती है और 60 साल के बाद हर महीने पेंशन पा सकती है. दूसरा विकल्‍प यह है कि उस व्‍यक्ति की पत्नी अपने पति की मौत के बाद एकमुश्त रकम का दावा कर सकती है. अगर पत्नी की भी मौत हो जाती है तो एक एकमुश्त रकम उनके नॉमिनी को दे दी जाती है.

इंटरनेट बैंकिंग के बिना भी खोल सकते हैं खाता
जल्द ही बचत खाताधारक इंटरनेट बैंकिंग के बिना भी अटल पेंशन योजना (APY) के तहत खाता खोल सकेंगे. पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA), APY-POPs को अपने मौजूदा बचत खाताधारकों को ऑनलाइन APY खाता खुलवाने के लिए एक वैकल्पिक माध्यम पेश करने की इजाजत दे रहा है. नए माध्यम के तहत व्यक्ति इंटरनेट बैंकिंग या मोबाइल ऐप का इस्तेमाल किए बिना APY अकाउंट खोल सकेगा.

ये भी पढ़ें : Union Budget 2021: अगर बजट में बढ़ती है सेक्शन 80C की लिमिट तो PPF, NSC और LIC में से कौन सा बेस्ट

क्या है नया तरीका?
अटल पेंशन योजना के लिए 5 चरणों में आवेदन किया जा सकता है. इसके लिए सबसे पहले मोबाइल ऐप या https://enps.nsdl.com/eNPS/NationalPensionSystem.html लिंक पर जाना होगा. इसके बाद एपीवाई एप्लीकेशन पर क्लिक करना होगा. अब अपने आधार कार्ड की डिटेल टाइप करें. इसके बाद आधार से जुड़े मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा. ओटीपी भरने और बैंक डिटेल्स देने के बाद पता टाइप करें. बैंक इन जानकारियों को वेरिफाई करेगा और फिर खाता सक्रिया हो जाएगा. इसके बाद आप नॉमिनी और प्रीमियम जमा करने के बारे में जानकारी दे सकते हैं. वेरिफिकेशन के लिए फॉर्म को ई-साइन करने पर अटल पेंशन योजना के लिए आपका रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा हो जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज