होम /न्यूज /व्यवसाय /

कोरोना का कहर भारत पर ही नहीं Australia पर भी दिखा, 30 साल में पहली बार मंदी की चपेट में आया ऑस्ट्रेलिया

कोरोना का कहर भारत पर ही नहीं Australia पर भी दिखा, 30 साल में पहली बार मंदी की चपेट में आया ऑस्ट्रेलिया

कोरोना का कहर! 30 साल में पहली बार मंदी की चपेट में आया ऑस्ट्रेलिया

कोरोना का कहर! 30 साल में पहली बार मंदी की चपेट में आया ऑस्ट्रेलिया

कोरोनावायरस के कारण पूरी दुनिया की इकॉनमी बुरी हालत (Economy in worst condition) में आ गई है. भारत की जीडीपी में इस तिमाही में जहां 40 साल बाद गिरावट दिखी वहीं ऑस्ट्रेलिया की जीडीपी में भी 30 बाद इतनी बड़ा डाउनफॉल आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. कोरोनावायरस के कारण पूरी दुनिया की इकॉनमी बुरी हालत (Economy in worst condition) में आ गई है. भारत की जीडीपी में इस तिमाही में जहां 40 साल बाद गिरावट दिखी वहीं ऑस्ट्रेलिया की जीडीपी में भी 30 बाद इतनी बड़ा डाउनफॉल आया है. कोरोना वायरस महामारी के कारण 30 साल बाद ऑस्ट्रेलिया आर्थिक मंदी (Economic Recession) की गिरफ्त में आ गया है. वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही (Q1) में जहां भारत की GDP में 23.9% कि गिरावट आई और ब्रिटेन का इकोनॉमिक ग्रोथ 21% कम रहा. वहीं, दुनिया की सबसे स्थिर अर्थव्यवस्थाओं में शुमार ऑस्ट्रेलिया की GDP में वर्ष 1959 के बाद अब तक की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई है.

    बता दें कि पिछले 30 सालों में ऑस्ट्रेलिया आधिकारिक रूप से आर्थिक मंदी की चपेट में कभी नहीं आया है. स्ट्रेलियन स्टैटिस्टिक्स ब्यूरो (Australian Bureau of Statistics- ABS) के मुताबिक, वित्त वर्ष 2020-21 के Q1 में ऑस्ट्रेलिया कि GDP में 7% की गिरावट दर्ज की गई है. इससे पहले वित्त वर्ष 2019-20 की अंतिम तिमाही यानी जनवरी से मार्च के बीच ऑस्ट्रेलिया की इकोनॉमी में 0.3% की गिरावट आई थी. ABS की रिपोर्ट से यह भी कहा गया है कि लोगों की सहायता के लिए दिया जाने वाला सामाजिक सहायता लाभ (Social security benefits) बढ़कर 41.6% कर दिया गया है, ताकि महामारी से जूझ रही आबादी को राहत मिल सके.

    घर की छत से करें लाखों की कमाई, सिर्फ 70 हजार रुपये में होगी 25 साल तक इनकम

    ट्रांसपोर्ट, होटल और रेस्टोरेंट से बिज़नेस पर सबसे ज्यादा प्रभाव
    ABS की रिपोर्ट के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया के प्राइवेट सेक्टर में सबसे अधिक 17.6% की गिरावट दर्ज की गई है, जो ट्रांसपोर्ट, होटल, और रेस्टोरेंट जैसे बिजनेस से जुड़ी है. इस रिपोर्ट के मुताबिक, राज्यों में न्यू साउथ वेल्स, विक्टोरिया और तस्मानिया की सबसे ज्यादा खराब स्थिति है. न्यू साउथ वेल्स की GDP में 8.6% और विक्टोरिया की GDP में 8.5% की गिरावट आई है. ABS के नेशनल अकाउंट्स हेड मिचेल स्मेड्स ने इस गिरावट के पीछे कोरनो वायरस महामारी और उससे जुड़ी नीतियों को जिम्मेदार बताया है. उन्होंने कहा कि यह पिछले 61 वर्षों में सबसे बड़ी गिरावट है. आपको बता दें कि साल 1974 में ऑस्ट्रेलियाई अर्थव्यवस्था 2% की गिरावट दर्ज हुई थी, लेकिन इस बार तीन गुना से भी अधिक गिरावट दर्ज की गई है.

    कोरोना के कारण 10 लाख लोगों की गई नौकरी
    आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलिया में कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन से आर्थिक मंदी आने के कारण देश में 10 लाख लोगों को नौकरी से हाथ धोना पड़ा है.undefined

    Tags: Annual Economic Survey, Australia, Economic Reform

    अगली ख़बर