कोरोना संकट के बीच इस सेक्टर ने पकड़ी रफ्तार, सितंबर में 29 फीसदी ज्यादा लोगों को दी नौकरी

देश में अब नौकरियों को लेकर भी हालात में सुधार हो रहा है.
देश में अब नौकरियों को लेकर भी हालात में सुधार हो रहा है.

देश का ऑटो सेक्‍टर (Auto Sector) अब भी कोरोना वायरस महामारी से पहले के स्‍तर से नीचे बना हुआ है. इसके बाद भी इस सेक्‍टर में नई नौकरियों (Jobs) के मामले में तेज सुधार हुआ है. रोजगार (Employment) से जुड़ी ऑनलाइन सेवाएं देने वाले पोर्टल नौकरी डॉट कॉम के मुताबिक, इस सेक्‍टर में नई भर्तियों की स्थिति हर महीने सुधर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 5:48 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना संकट के बीच अब हर सेक्‍टर से सुधार की खबरें आ रही हैं. इसी कड़ी में ऑटो सेक्‍टर (Auto Sector) में नई नौकरियों (New Jobs) के मामले में लगातार सुधार की जानकारी मिल रही है. ऑटो सेक्‍टर ने सितंबर 2020 के दौरान 29 फीसदी ज्‍यादा लोगों को नौकरी (Recruitment) दी है. हालांकि, ये सेक्‍टर अभी तक कोरोना वायरस से पहले के स्तर तक भी नहीं पहुंच पाया है. रोजगार से जुड़ी ऑनलाइन सेवाएं देने वाले पोर्टल नौकरी डॉट कॉम के मुताबिक, ऑटो सेक्‍टर में रोजगार (Employment) की स्थिति हर महीने सुधरती जा रही है.

जून 2020 से बना हुआ पॉजिटिव ट्रेंड
पोर्टल के मुताबिक, ऑटो सेक्‍टर में लॉकडाउन में ढील मिलने के बाद जून 2020 से ही सकारात्मक रुख बना हुआ है. कोरोना संकट से पहले और मौजूदा समय में ऑटो सेक्‍टर के प्रदर्शन की तुलना करने पर सुधार साफ नजर आ रहा है. हालांकि, यह अब भी कोरोना संकट से पहले के मुकाबले सितंबर में 25 फीसदी नीचे है. वहीं, अप्रैल 2020 में यह कोरोना संकट से पहले के स्तर से 80 फीसदी नीचे था. नियुक्तियों में पिछले कुछ महीने में धीरे-धीरे सुधार दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें- अब पूरे देश में इस एक ही नंबर पर बुक करा सकते हैं गैस सिलेंडर, पुराना नंबर कर दें डिलीट
इन पदों पर की जा रही हैं नियुक्तियां


कंपनी के मुताबिक, ऑटो सेक्‍टर में प्रोडक्‍शन मैनेजर से लेकर इंडस्ट्रियल इंजीनियर तक और सेल्‍स डेवलपमेंट मैनेजर से लेकर सर्विस मेंटेनेंस इंजीनियर तक के पदों पर भर्तियों की गई हैं. इसके अलावा डिजाइन इंजीनियर और अकाउंटेंट्स की भी इस दौरान नियुक्तियां हुई हैं. प्रोजेक्ट मैनेजर मैन्युफैक्चरिंग में 57 फीसदी, सर्विस मेंटेनेंस इंजीनियर में 46 फीसदी और प्रोडक्शन मैनेजर की भूमिकाओं में सालाना आधार पर 22 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है.

ये भी पढ़ें- अब 30 नवंबर तक ले सकेंगे ECLGS स्कीम का फायदा, MSME को होगा ये फायदा

इन कंपनियों को है लोगों की तलाश
पोर्टल पर प्रोडक्शन मैनेजर, क्वालिटी इंजीनियर और सेल्स जॉब को लेकर सबसे ज्‍यादा सर्च किएृया जा रहा है. कंपनी का कहना है कि ऑटो सेक्‍टर में निकली नौकरियों में 52 फीसदी पुणे, दिल्ली, चेन्‍नई व बेंगलुरु में हैं. इन चारों शहरों का नौकरियों में अलग-अलग योगदान पुणे का 22 फीसदी, दिल्‍ली का 14 फीसदी, चेन्‍नई का 9 फीसदी और बेंगलुरु का 7 फीसदी रहा. इसके अलावा इस समय सुजुकी, कार्स24, एक्साइड, रॉयल एनफील्ड, एलएंडटी और टीवीएस जैसी कंपनियां कैंडिडेट्स की तलाश में हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज