ऑटो सेक्टर में मंदी, 4 महीने में कंपनियों ने की 3.5 लाख कर्मचारियों की छंटनी

अप्रैल से लेकर अब तक ऑटोमेकर्स, पार्ट्स मैन्युफैक्चरर्स और डीलर्स ने 3.5 लाख से ज्यादा कर्मचारियों की छुट्टी कर दी है.

News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 8:04 PM IST
ऑटो सेक्टर में मंदी, 4 महीने में कंपनियों ने की 3.5 लाख कर्मचारियों की छंटनी
4 महीने में कंपनियों ने की 3.5 लाख कर्मचारियों की छंटनी
News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 8:04 PM IST
ऑटो सेक्टर (Auto Sector) में महामंदी आ गई है. कार (Car) और बाइक (Bike) की बिक्री में लगातार गिरावट के चलते देश की ऑटो इंडस्ट्री (Auto Industry) में नौकरियों की छंटनी (layoffs) का दौर है. मंदी के चलते कंपनियों को अपनी फैक्ट्रियां बंद करनी पड़ रही हैं या फिर शिफ्ट्स में कटौती की जा रही है. इंडस्ट्री के सूत्रों के मुताबिक अप्रैल से लेकर अब तक ऑटोमेकर्स, पार्ट्स मैन्युफैक्चरर्स और डीलर्स ने 3.5 लाख से ज्यादा कर्मचारियों की छुट्टी कर दी है. यानी 4 महीने में कंपनियों ने इतनी बढ़ी छंटनी की है.

5 कंपनियों ने बड़े पैमाने पर की छंटनी
इसके अलावा कम्पोनेंट मैन्युफैक्चरर कंपनियों की ओर से 1 लाख कर्मचारियों की छंटनी किए जाने का आंकड़ा सामने आ रहा था. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक कम से कम 5 ऐसी कंपनियां हैं, जिन्होंने फिलहाल बड़े पैमाने पर छंटनी की है और आगे भी कर्माचारियों को बाहर कर सकती हैं. इन कंपनियों ने मुख्य तौर पर अस्थायी वर्क फोर्स को ही टारगेट किया है.

ये भी पढ़ें: नई प्रॉपर्टी खरीदने वालों के लिए खुशखबरी, गाजियाबाद में लगातार तीसरे साल नहीं बढ़ा सर्कल रेट

मोदी सरकार के लिए चिंता का विषय
ऑटो इंडस्ट्री में नौकरियों का यह संकट केंद्र की मोदी सरकार के लिए भी चिंता का विषय है. दूसरी बार चुनकर आने वाली सरकार पहले ही नौकरियों के संकट से गुजर रही है और अब ऑटो सेक्टर की कमजोरी के चलते यह आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. सेक्टर की ग्रोथ में सुधार के लिए इंडस्ट्री के दिग्गजों ने सरकार से टैक्स में कटौती और लोन के नियमों को आसान करने की मांग की है.

ऑटोमोटिव कम्पोनेंट मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की महानिदेशक विन्नी मेहता के मुताबिक ऑटो सेक्टर मंदी के दौर से गुजर रहा है.
Loading...

ये भी पढ़ें: अब इन शहरों में खरीद सकते हैं मोदी सरकार का सस्ता AC

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 8:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...