ऑटो सेक्टर के लिए SBI ने उठाया बड़ा कदम! किया ये छूट देने का ऐलान

News18Hindi
Updated: August 19, 2019, 12:25 PM IST
ऑटो सेक्टर के लिए SBI ने उठाया बड़ा कदम! किया ये छूट देने का ऐलान
देश के ऑटो सेक्टर की खराब हालत को देखते हुए देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) ने बड़ा कदम उठाया है.

देश के ऑटो सेक्टर की खराब हालत को देखते हुए देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) ने बड़ा कदम उठाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2019, 12:25 PM IST
  • Share this:
देश के ऑटो सेक्टर (Auto Sector Crisis) की खराब हालत को देखते हुए देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) ने बड़ा कदम उठाया है. बैंक ने कार-बाइक डीलर्स (Automobile Dealers) को राहते देते हुए कर्ज चुकाने की अवधि को बढ़ा दिया है यानी SBI ने डीलर्स का क्रेडिट पीरियड बढ़ गया है. इस फैसले से उन डीलर्स को फायदा होगा, जो सेल्स में कमी और इन्वेंट्री बिल्डअप का सामना कर रहे हैं. आपको बता दें कि भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) की धड़कन कहलाने वाले ऑटो सेक्टर (Auto Sector) की हालत नाजुक बनी हुई है. कार (Car) और बाइक (Bike) की बिक्री घटने की वजह से पिछले 4 महीने में ऑटोमेकर्स, पार्ट्स मैन्युफैक्चरर्स और डीलर्स ने 3.5 लाख से ज्यादा कर्मचारियों (Layoff) की छुट्टी कर दी है. आलम ये है कि अगले कुछ महीने में 10 लाख से ज्यादा नौकरियों (Jobs) पर तलवार लटकी हुई है.

SBI ने किया बड़ी राहत देने का ऐलान- देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक ने डीलर्स को राहत दे दी है. बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर (रिटेल और डिजिटल बैंकिंग) पीके गुप्ता ने बताया है कि वो ऑटो डीलर्स के साथ लगातार संपर्क में है.

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक ने डीलर्स को राहत दे दी है. (फाइल फोटो)


आमतौर पर क्रेडिट पीरियड 60 दिन का होता है, लेकिन बैंक ने अब इसे बढ़ाकर 75 दिन दिन और कुछ मामलो में 90 दिन करने का फैसला किया है.

ये भी पढ़ें-जल्द बढ़ेगी गाड़ियों की सेल, ये है मोदी सरकार का नया प्लान!

उन्होंने कहा है कि हम सिर्फ फाइनेंसिंग (वित्तीय) मामलों में भी मदद कर सकते हैं. बैंक का मुख्य मकसद कार खरीदारों को सस्ते दर पर कर्ज मुहैया कराना है. हम मैन्युफैक्चरर्स से कार खरीदने वाले डीलर को भी कर्ज मुहैया कराते हैं, लेकिन जहां तक मांग में बढ़ोत्तरी लाने का पहलू है, तो उस दिशा में सिर्फ सरकार हस्तक्षेप कर सकती है. उन्होंने ये भी कहा कि, हाल के महीनों में कई वजहों से ऑटो लोन लेने में गिरावट आई है.


Loading...

बिक्री में 18 साल की बड़ी गिरावट- ऑटो इंडस्ट्री में लगातार 9वें महीने गिरावट दर्ज की गई है. ब्रिकी के लिहाज़ से जुलाई का महीना बीते 18 साल में सबसे खराब रहा. इस दौरान बिक्री में 31 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.


ये भी पढ़ें-अब Maruti ने की 3 हजार कर्मचारियों की छंटनी!

ऑटो इंडस्ट्री में लगातार 9वें महीने गिरावट दर्ज की गई है.


सोसायटी ऑफ़ इंडियन ऑटोमोबिल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) के मुताबिक जुलाई में बीते नौ महीने के दौरान सबसे कम 2,00,790 वाहनों की बिक्री हुई. सियाम के महानिदेशक विष्णु माथुर कहते हैं कि इस इंडस्ट्री को तुरंत एक राहत पैकेज की ज़रूरत है. उनका कहना है कि जीएसटी की दरों में अस्थायी कटौती से भी इंडस्ट्री को कुछ राहत मिल सकती है.

ये भी पढ़ें-ऑटो सेक्टर में इस वजह से गई 4 महीने में 3.5 लाख नौकरियां!

(मनीकंट्रोल)

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 19, 2019, 12:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...