लाइव टीवी

कोरोना की वजह से सबसे बुरे दौर में एयरलाइंस कंपनियां! 80 फीसदी तक छंटनी का ऐलान

News18Hindi
Updated: April 2, 2020, 7:50 PM IST
कोरोना की वजह से सबसे बुरे दौर में एयरलाइंस कंपनियां! 80 फीसदी तक छंटनी का ऐलान
एविएशन सेक्टर पर कोरोना का बुरा असर

कोरोना वायरस महामारी ने वैश्विक स्तर पर कई बड़ी विमान कंपनियों को तगड़ा झटका दिया है. यही कारण है कि अब कर्मचारियों की छंटनी करने में एविएशन सेक्टर की कंपनियां सबसे आगे दिखाई दे रही हैं. कई देशों में लॉकडाउन के बाद इन कंपनियों के रेवेन्यू पर बुरा असर पड़ा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोविड-19 महामारी  (COVID-19 Pandemic) की वजह से सबसे अधिक धक्का एविएशन सेक्टर (Aviation Sector) को लगा है. यही कारण है कि अब एक-एक कर लगातार कई कंपनियों ने अपनी वर्कफोर्स में कटौती करने का ऐलान किया है. अंतरराष्ट्रीय स्तर की दो बड़ी कंपनियों ने अपनी कर्मचारियों की संख्या में कटौती करने का ऐलान किया है. इसके बाद अब भारत की सरकारी विमानन कंपनी एअर इंडिया (Air India) ने गुरुवार को करीब 200 कर्मचारियों का कॉन्ट्रैक्ट अस्थायी रूप से खत्म कर दिया है. इसमें एअर इंडिया के पायलट भी शामिल हैं.

कंपनी की एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि इस लिस्ट में वही कर्मचारी हैं, जिन्हें रिटायरमेंट के बाद दोबारा मौका दिया गया था. कोविड-19 (COVID-19) महामारी (Pandemic) की वजह से सभी घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय पैसेंजर फ्लाइट्स का संचालन 14 अप्रैल तक बंद कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें: फेक न्यूज रोकने के लिए सरकार ने उठाया कदम, जारी किया व्हाट्सएप नंबर और ईमेल ID



लॉकडाउन की वजह से कंपनी के रेवेन्यू को झटका



वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'चूंकि, लगभग सभी प्लेन्स ग्राउंडेड हैं इसलिए पिछले सप्ताह कंपनी के रेवेन्यू में भारी गिरावट आई है. इसी को देखते हुए एयरलाइन ने फैसला किया है​ कि जिन कर्मचारियों को रिटायरमेंट के बाद एक बार फिर मौका दिया गया था, उनका कॉन्ट्रैक्ट अस्थायी रूप से कैंसिल कर दिया जाए.'

सभी कर्मचारियों के अलाउंस में भी 10 फीसदी की कटौती
एअर इंडिया ने इसके पहले भी सभी कर्मचारियों को दिए जाने वाले अलाउंस में 10 फीसदी की कटौती की है, जिसमें केबिन क्रू भी शामिल हैं. इस सरकारी विमानन कंपनी ने अपने कर्मचारियों के इस अलाउंस में अगले तीन महीनों के लिए कटौती की है.

यह भी पढ़ें: इस बैंक ने ग्राहकों को दिया तोहफा! EMI के काटे गए पैसे बैंक कर रहा है वापस

कतर एयरवेज करेगी 40 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी
मीडिल ईस्टर्न कैरियर कतर एयरवेज ने भी अपनी कर्मचा​री संख्या में 40 फीसदी तक कटौती करने का ऐलान किया है. इस विमान कंपनी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, हामद इंटरनेशनल एयरपोर्ट के कर्मचारियों की संख्या में 40 फीसदी कटौती की जाएगी. फूड, बेवरेज, रिटेल और ग्राउंड स्टाफ की संख्या में कटौती की जाएगी. ​कंपनी ने कहा कि पैसेंजर्स की संख्या में कमी होने के बाद कंपनी की रेवेन्यू पर दबाव बढ़ा है.

ब्रिटिश एयरवेज 80 फीसदी कम करेगी वर्कफोर्स
इसके अलावा, ब्रिटिश एयरवेज ने भी अपने कर्मचारियों की संख्या में 80 फीसदी तक कटौती करने का ऐलान किया है.​ ब्रिटिश एयरवेज द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, यह विमान कंपनी अपने 36,000 कर्मचारियों को निकालेगी. कोरोना वायरस महामारी फैलने की वजह से दुनियाभर की कई सरकारों ने अपने देश में विमान सेवाओं को कुछ दिन के लिए रोक दिया है. लिहाजा कंपनियों को अपने फ्लाइट्स ग्राउंडेड करने पड़े है और उनके प्रॉफिट पर इसका बुरा असर पड़ा है.

यह भी पढ़ें: SBI में बेटी के नाम पर खोलें गारंटीड मुनाफा वाला ये खाता, मिलेंगे लाखों रुपये

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 2, 2020, 3:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading