Home /News /business /

aviation sector recovering from epidemic 1 08 crore domestic passengers traveled by air in april pmgkp

महामारी की मार से उबर रहा एविएशन सेक्टर, अप्रैल में 1.08 करोड़ घरेलू यात्रियों ने किया हवाई सफर

डीजीसीए ने बताया कि अप्रैल में देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडिगो ने अकेले 64.11 लाख घरेलू यात्रियों को हवाई यात्रा कराई.

डीजीसीए ने बताया कि अप्रैल में देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडिगो ने अकेले 64.11 लाख घरेलू यात्रियों को हवाई यात्रा कराई.

महामारी से सबसे ज्यादा मार खाए हवाई सफर की स्थिति में तेजी से सुधर रही है. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने शुक्रवार को अपने मासिक बयान में कहा कि अप्रैल में सभी एयरलाइंस की सीटें भरने की दर 78 प्रतिशत से अधिक रही. देश में अप्रैल, 2022 के दौरान करीब 1.08 करोड़ यात्रियों ने घरेलू उड़ानों से यात्रा की.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली . देश में अप्रैल, 2022 के दौरान करीब 1.08 करोड़ यात्रियों ने घरेलू उड़ानों से यात्रा की. यह आंकड़ा मार्च की तुलना में दो प्रतिशत अधिक है. तब 1.06 करोड़ घरेलू यात्रियों ने हवाई सफर किया था. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने शुक्रवार को अपने मासिक बयान में कहा कि अप्रैल में सभी एयरलाइंस की सीटें भरने की दर 78 प्रतिशत से अधिक रही.

डीजीसीए के आंकड़ों के अनुसार स्पाइसजेट, इंडिगो, विस्तारा, गो फर्स्ट, एयर इंडिया और एयरएशिया इंडिया की सीटों की बुकिंग दर क्रमश: 85.9 प्रतिशत, 78.7 प्रतिशत, 82.9 प्रतिशत, 80.3 प्रतिशत, 79.5 प्रतिशत और 79.6 प्रतिशत रही. गौरतलब है कि कोविड-19 महामारी की वजह से पिछले दो साल में विमानन क्षेत्र को यात्रा संबंधी पाबंदियों की मार झेलनी पड़ी है.

Indigo सबसे आगे
डीजीसीए ने बताया कि अप्रैल में देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडिगो ने अकेले 64.11 लाख घरेलू यात्रियों को हवाई यात्रा कराई. यह इस महीने में कुल घरेलू हवाई परिवहन का 58.9 प्रतिशत है. वहीं 11.09 लाख यात्रियों की संख्या के साथ गो फर्स्ट दूसरे स्थान पर रही. इसके अलावा देश के चार प्रमुख शहरों… बेंगलुरु, दिल्ली, हैदराबाद और मुंबई के हवाईअड्डों पर समय से उड़ानों के संचालन में 94.8 प्रतिशत के साथ एयर एशिया इंडिया ने सबसे अच्छा प्रर्दशन किया.

यह भी पढ़ें- CNG Price Hike: आज फिर बढ़े सीएनजी के रेट, एक हफ्ते में दूसरी बढ़ोतरी, चेक करिए लेटेस्ट प्राइस

विमानन ईंधन की बढ़ती कीमत बड़ा संकट
भारत का एविएशन सेक्टर तेजी से सुधर रहा है. लोग दो साल से अधिक की महामारी से संबंधित प्रतिबंधों के बाद छुट्टी और आधिकारिक यात्रा फिर से शुरू कर रहे हैं. हालांकि, विमानन ईंधन की कीमत, एविएशन सेक्टर के लिए सबसे बड़ा निगेटिव फैक्टर है. विमानन ईंधन की कीमत तेजी से बढ़ी है. वहीं, इस सेक्टर में प्रतिस्पर्धा और तेज होगी क्योंकि दो नए एयरलाइन मार्केट में आ रहे हैं.

जनवरी से अब तक 51 हजार रुपये बढ़े दाम
हवाई यात्रियों पर महंगे ईंधन का बोझ किस कदर बढ़ रहा है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सरकार ने साल 2022 में जनवरी से अब तक हवाई ईंधन की कीमतों में 50,938 रुपये की बढ़ोतरी की है. पिछले साढ़े चार महीने में ही हवाई ईंधन की कीमतों में 61.7 फीसदी की बढ़ोतरी की जा चुकी है. 2022 की शुरुआत में एटीएफ का मूल्‍य 72,062 रुपये प्रति किलोलीटर था, जो अब बढ़कर 1.23 लाख रुपये पहुंच गया है.

Tags: Air, Air India Flights, Airline News, Airlines

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर