Home /News /business /

पिछले कुछ महीनों में एक्सिस बैंक के 15 हजार कर्मचारियों ने छोड़ी नौकरी: रिपोर्ट

पिछले कुछ महीनों में एक्सिस बैंक के 15 हजार कर्मचारियों ने छोड़ी नौकरी: रिपोर्ट

एक्सिस बैंक अलगे साल 550 ब्रांच खोलने जा रहा है .इसमें 30 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा.

एक्सिस बैंक अलगे साल 550 ब्रांच खोलने जा रहा है .इसमें 30 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा.

एक्सिस बैंक (Axis Bank) के 15 हजार कर्मचारियों ने पिछले कुछ महीनों में बैंक का साथ छोड़ दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैंक का मैनेजमेंट के बदलने से मिड लेवल के कर्मचारियों को काम करने में दिक्कतें आ रही थी.

    मुंबई. एक्सिस बैंक (Axis Bank) के 15 हजार कर्मचारियों ने पिछले कुछ महीनों में बैंक का साथ छोड़ दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैंक का मैनेजमेंट (Axis Bank Management Changes) के बदलने से कर्मचारियों को काम करने में दिक्कतें आ रही थी. इसलिए मिड लेवल के एग्जीक्यूटिव ने बैंक की नौकरी छोड़ी है. नया मैनेजमेंट, बैंक की ग्रोथ को बढ़ाने के लिए ब्रांच के ऑपरेशन में बदलाव कर रहा हैं. आपको बता दें कि शिखा शर्मा के एमडी और सीईओ का पद छोड़ने के बाद 1 जनवरी 2019 से एक्सिस बैंक ने अमिताभ चौधरी को नया सीईओ और एमडी नियुक्त किया. उनका कार्यकाल तीन साल का है. अमिताभ चौधरी 2010 से एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस के सीईओ और एमडी भी रहे हैं.

    अंग्रेजी के बिजनेस न्यूजपेपर इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, पिछले कुछ महीने में कई वरिष्ठ लोगों ने बैंक का साथ छोड़ा है. इसके पीछे बैंक में हो रहे नए जमाने के बदलावों को बताया जा रहा है. बैंक का कहना है कि बैंक तेजी से नए लोगों को भर्ती कर रहा है.

    दरअसल बैंक के ऑपरेशंस में बड़ा बदलाव किया गया है. हालांकि, बैंक एक कर्मचारी ने अखबार को बताया कि नए बदलावों के बाद कई लोगों रो उनके रोल को लेकर चिंताएं थी. वो नए बदलाव में असहज महसूस कर रहे थे.

    एक्सिस बैंक ने मौजूदा वित्त वर्ष में कुल 28 हजार लोगों को नौकरी पर रखा है. साथ ही, जनवरी-मार्च तिमाही में बैंक ने 4 हजार कर्मचारियों को नौकरी देने की योजना बनाई है.

    बैंक के एमडी सीईओ अमिताभ चौधरी का कहना है कि रेगुलेटरी मंजूरी के बाद इंश्योरेंस में कदम रखेंगे. Axis Bank इंश्योरेंस का बड़ा डिस्ट्रीब्यूटर है. इंश्योरेंस में ग्रोथ अच्छी है. रेगुलेटरी मंजूरी मिलने पर इंश्योरेंस में कदम रखेंगे. RBI ने रेगुलेटरी बदलाव किए हैं.

    बैंकों को इंश्योरेंस में ज्यादा हिस्सेदारी की मंजूरी नहीं है. इसके लिए नई इंश्योरेंस कंपनी नहीं बनाएंगे बल्की किसी ट्रांजैक्शन की उम्मीद है. मौजूदा फ्रेमवर्क के तहत मौके ढूंढ रहे हैं. बैंक की अच्छी इंश्योरेंस कंपनी खरीदने पर नजर है.

    ये भी पढ़ें-सरकार की इन 6 स्कीम में करें Invest, पैसे डबल होने के साथ मिलेंगे ये फायदें

    Tags: Axis bank, Bank rates, Banking services, Business news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर