Free में मिलेगा आयुष्मान भारत कार्ड! 5 लाख रुपये तक का उठा सकते हैं फायदा, जानें क्या करना होगा?

Ayushman-Bharat-Yojana

Ayushman-Bharat-Yojana

केंद्र सरकार (Central Government) ने एक महत्वपूर्ण निर्णय में कहा है कि आयुष्मान इंडिया (Ayushman Bharat ) को प्रधानमंत्री जन आयोरग्य योजना द्वारा लाभ पहुंचाया जाएगा. अब कोई भी व्यक्ति आयुष्मान भारत कार्ड बिल्कुल मुफ्त में प्राप्त कर सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2021, 5:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. क्या आप आयुष्मान योजना (Ayushman Bharat Yojana) के लाभार्थी हैं या फिर पंजीकरण कराने की सोच रहे हैं तो मोदी सरकार ने आपको बड़ी राहत दी है. केंद्र सरकार (Central Government) ने एक महत्वपूर्ण निर्णय में कहा है कि आयुष्मान इंडिया (Ayushman Bharat ) को प्रधानमंत्री जन आयोरग्य योजना द्वारा लाभ पहुंचाया जाएगा. अब कोई भी व्यक्ति आयुष्मान भारत कार्ड बिल्कुल मुफ्त में प्राप्त कर सकता है. इससे पहले तक इसके लिए 30 रुपये चार्ज किया जा रहा था. आयुष्मान योजना के तहत हर परिवार को इलाज के लिए साल में 5 लाख रुपए दिए जाते हैं.

 जानें क्या है योजना?

इस अभियान के तहत आपके घर जाकर डिटेल ली जाएगी और फिर कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा. यह कार्ड पीवीसी के तौर पर मिलेगा. खास बात यह है कि इसमें आपसे कोई पैसा नही लिया जाएगा. इस अभियान का मसकद है कि आयुष्मान भारत स्कीम के तहत आने वाले लोगों के पक्के कार्ड बन सके जिससे कि बीमारी के वक्त उनका अस्पताल में इलाज हो सके. इलाज में लगे उन्हें इंश्योरेंस के पैसे मिल सकें. आयुष्मान योजना के तहत हर परिवार को इलाज के लिए साल में 5 लाख रुपए दिए जाते हैं.

ये भी पढ़ें: Indian Oil दे रहा 2 करोड़ रुपये जीतने का मौका, कोई भी ले सकता है भाग..बस करना होगा ये काम
जानें क्या कहते हैं जानकार?

इस अभियान का नाम आयुष्मान आपके द्वार है. इस अभियान में राज्य सरकारें बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रही हैं. नेशनल हेल्थ मिशन के सीईओ आर एस शर्मा ने बताया कि इस योजना को सफल बनाने में सबका योगदान मिल रहा है. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़, बिहार, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश बढ़िया काम रहे हैं. अभी तक छत्तीसगढ़ में करीब 28 लाख कार्ड बनाए गए हैं. मध्य प्रदेश में 1 लाख 12 हज़ार, पंजाब में 39 हज़ार, यूपी में 1 लाख 53 हज़ार, बिहार में 17 हज़ार 500, हरियाणा में 9 हज़ार 600 और जम्मू कश्मीर में 13 हज़ार 800 कार्ड बनाए गए हैं.

अभी कैसे बनता है कार्ड



अभी तक आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को ई कार्ड बनवाना पड़ता है, जिसके लिए उन्हें कॉमन सर्विस सेंटर जाना पड़ता था. वहां प्रति लाभार्थी से 30 रुपए लिए जाते थे वो भी एक कागज पर डिटेल लिखकर देते थे लेकिन अब घर पर ही फ्री में कार्ड मिलेगा।देशभर में आयुष्मान भारत योजना के तहत 10 करोड़ परिवार और जिसमे सदस्यों की संख्या 54 करोड़ है. अब तक करीब सवा करोड़ कार्ड ही बन पाया है यानी एक बड़ा गैप है जिसे भरना सरकार का उद्देश्य है.

ये भी पढ़ें: घर बैठे 50 हजार में शुरू करें ये कारोबार, हर महीने होगी 2 लाख की कमाई, जानें कैसे करें शुरुआत?

30 अप्रैल तक बनेंगे नि:शुल्क गोल्डन कार्ड

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत स्वास्थ्य विभाग की ओर से चलाए जा रहे नि:शुल्क गोल्डन कार्ड बनाने के विशेष अभियान की समय सीमा 30 अप्रैल तक बढ़ा दी है. गोल्डन कार्ड धारक को पांच लाख रुपये तक मेडिकल सुविधा लेने का प्रावधान किया गया है. इसके अतिरिक्त स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत 30 अप्रैल तक अटल सेवा केंद्रों (सीएससी) पर निश्शुल्क गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज