बाबा रामदेव की पतंजलि रुचि सोया के लिए बनी गेमचेंजर, निवेशकों की हुई चांदी एक साल में 70 गुना बढ़ा शेयर

रुचि सोया के लिए गेमचेंजर बनी रामदेव की पतंजलि, 70 गुना बढ़ गया स्टॉक प्राइस
रुचि सोया के लिए गेमचेंजर बनी रामदेव की पतंजलि, 70 गुना बढ़ गया स्टॉक प्राइस

शायद कभी किसी ने सोचा भी नहीं हो की दिवालिया हो चुकी रुचि सोया (Ruchi Soya) शेयर मार्केट (Share Market) में धूम मचा देगी. रूचि सोया के शेयर का भाव सालभर पहले 16.9 रुपये था जो शुक्रवार को 1,181 रुपये पर बंद हुआ, ये 52 सप्ताह का उच्च स्तर है.

  • Share this:
नई दिल्ली. शायद कभी किसी ने सोचा भी नहीं हो की दिवालिया हो चुकी रुचि सोया (Ruchi Soya) शेयर मार्केट (Share Market) में धूम मचा देगी. खाद्य तेल कंपनी रुचि सोया हिंदुस्तान पेट्रोलियम, हिंडाल्को और बॉश से भी अधिक मूल्यवान हो गई है, जो अपने-अपने क्षेत्र की टॉप कंपनियों में से एक है. रूचि सोया के शेयर का भाव सालभर पहले 16.9 रुपये था जो शुक्रवार को 1,181 रुपये पर बंद हुआ, ये 52 सप्ताह का उच्च स्तर है. बीएसई के आंकड़ों के मुताबिक, शेयर का दाम 52 सप्ताह में एक बार 3.28 रुपये तक गया था. इस वर्ष अब तक, रुचि सोया का स्टॉक 70 गुना बढ़ गया है.

बता दें कि रुचि सोया, एक ऐसी कंपनी है जो एक साल पहले इंसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (IBC) के दायरे में आई थी. इसके बाद पतंजलि आयुर्वेद ने इसे खरीद लिया था. अब इस कंपनी का बाजार पूंजीकरण लगभग 35,000 करोड़ रुपये हो गया है, जो बड़ी कंपनियों की तरह है. अब ये कंपनी मार्केट कैपिटलाइजेशन में टाटा मोटर्स और टाटा स्टील को टक्कर दे रही है.

ये भी पढ़ें:- राशनकार्ड होल्डर्स को 3 महीने और मिल सकता है मुफ़्त राशन, सरकार कर सकती है ऐलान



बाजार के खिलाड़ियों का कहना है कि योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण द्वारा संचालित पतंजलि द्वारा रुचि सोया के अधिग्रहण से कंपनी का भाग्य बदल जाएगा और उम्मीद है की ये कंपनी निवेशकों को उआर फायदा पहुंचाएगी.
बीते साल एनसीएलटी में कंपनी का अधिग्रहण करने के बाद पतंजलि के पास रुचि सोया की 98.87 फीसदी हिस्सेदारी है. इसने कंपनी के 4,350 करोड़ रुपये के कर्ज को चुकाया था.

ये भी पढ़ें:- PMC बैंक के ग्राहकों को बड़ी राहत, RBI ने दी 1 लाख रुपये तक निकालने की छूट

कंपनी न्यूट्रिला ब्रांड के तहत तीन नए उत्पाद जल्द पेश करेंगी. यह उत्पाद हृदय, कोलेस्ट्रोल और उच्च रक्तचाप जैसी बीमारियों से जूझ रहे लोगों को ध्यान में रखकर पेश किए जाएंगे. कंपनी न्यूट्रिला गोल्ड नाम से खाद्य तेल के अलावा न्यूट्रैला हनी और न्यूट्रिला प्रोटीन आटा पेश करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज