इस कंपनी ने किया बड़ा ऐलान, Covid से मरने वाले कर्मचारियों के परिवार को 2 साल तक सैलरी के साथ बच्चों की पढ़ाई का भी देगी खर्च

ये कंपनी दो साल तक देगी सैलरी

ये कंपनी दो साल तक देगी सैलरी

Covid-19 Crisis: जिन कर्मचारियों की कोरोना के कारण मौत हो गई है, उनके परिवार को ये कंपनी दो साल तक सैलरी देती रहेगी. इतना ही नहीं मृतक कर्मचारियों के बच्चों की पढ़ाई-लिखाई का भी खर्च कंपनी उठाएगी.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश कोरोना से मरने वालों आंकड़ा अब तक 2 लाख को पार कर गया है. संक्रमण को रोकने में मदद के लिए कई कंपनियों ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया है. इसी कड़ी में बजाज ऑटो (Bajaj Auto) ने फैसला किया है कि जिन कर्मचारियों की Covid-19 के कारण मौत हो गई है, उनके परिवार को कंपनी दो साल तक उनकी सैलरी देती रहेगा. इतना ही नहीं मृतक कर्मचारियों के बच्चों की पढ़ाई-लिखाई का भी खर्च कंपनी उठाएगी.

मेडिकल इंश्योरेंस की 5 साल तक बढ़ाई गई अवधि

पुणे स्थित ऑटो प्रमुख ने एक बयान में कहा कि कंपनी की तरफ से दिया गया मेडिकल बीमा भी आश्रितों के लिए पांच साल तक बढ़ाया जाएगा. ये लाभ बजाज ऑटो द्वारा पेश किए गए दूसरे जीवन बीमा लाभ से ऊपर और ज्यादा हैं.

पढ़ाई के लिए देगी 5 लाख तक की मदद
एक लिंक्डिन पोस्ट में, बजाज ऑटो ने कहा, "सहायता नीति के तहत 24 महीने के लिए प्रति माह 2 लाख रुपये तक के मासिक वेतन का भुगतान, अधिकतम दो बच्चों के लिए 12वीं कक्षा तक प्रति वर्ष प्रति बच्चा 1 लाख रुपये की शिक्षा सहायता और स्नातक के लिए प्रति बच्चे प्रति वर्ष 5 लाख रुपये की मदद दी जाएगी."

ये भी पढ़ें: नौकरीपेशा लोगों के लिए निवेश के हैं ये 4 Best ऑप्शन, बचत के साथ होगा मोटा मुनाफा

पिछले साल कोरोना में जान गवानें वालों को भी दी जाएगी सहायता



बजाज ऑटो ने यह भी स्पष्ट किया कि ये सहायता नीति 1 अप्रैल, 2020 से सभी स्थायी कर्मचारियों के लिए लागू है. यानी कि जिन कर्मचारियों की पिछले साल कोरोना से मौत हुई है उन्हें भी यह मदद दी जाएगी.

बजाज ऑटो ने कहा कि हम विभिन्न उपायों और पहलुओं के माध्यम से अपने कर्मचारियों को निरंतर सहायता प्रदान करते रहेंगे, जो केवल वैक्सीनेशन सेंटर्स तक ही सीमित नहीं हैं, बल्कि Covid केयर सर्विस, एक्टिव टेस्टिंग और अस्पताल में भर्ती के लिए सहायता भी देते हैं.

ये भी पढ़ें: Jandhan अकाउंट को घर बैठे Aadhaar से तुरंत करें लिंक, वरना होगा लाखों का नुकसान

इन कंपनियों ने भी की सैलरी देने की घोषणा

इससे पहले मई में बोरोसिल और बोरोसिल रिन्यूएबल्स ने अपने कर्मचारियों के लिए इसी तरह की सहायता नीति शुरू की थी. मुंबई स्थित ग्लासवेयर कंपनी ने कहा कि Covid-19 के कारण जान गंवाने वाले उसके कर्मचारी के परिवार को अगले दो साल तक सैलरी देगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज