होम /न्यूज /व्यवसाय /

यह ऑटो स्टॉक इस सप्ताह अपने भारी डिविडेंड के लिए रिकॉर्ड डेट घोषित करेगा, पढ़िए पूरी जानकारी

यह ऑटो स्टॉक इस सप्ताह अपने भारी डिविडेंड के लिए रिकॉर्ड डेट घोषित करेगा, पढ़िए पूरी जानकारी

बजाज ऑटो कंपनी 2008 से अपने निवेशकों ​को डिविडेंड दे रही है.

बजाज ऑटो कंपनी 2008 से अपने निवेशकों ​को डिविडेंड दे रही है.

कुछ कंपनियां अपने शेयरधारकों को समय-समय पर अपने मुनाफे का कुछ हिस्सा देती रहती हैं. मुनाफे का यह हिस्सा वे शेयरधारकों को डिविडेंड के रूप में देती हैं. बजाज ऑटो इस बार 140 रुपए प्रति शेयर का डिविडेंड देगी. कंपनी की बोर्ड बैठक आज प्रस्तावित है.

अधिक पढ़ें ...

मुंबई . कुछ कंपनियों के शेयर ऐसे होते हैं जो डिविडेंड के रूप में निवेशकों को मोटा रिटर्न देते हैं. बजाज ऑटो भी उन्हीं में से एक है. बजाज ऑटो इस बार 140 रुपए प्रति शेयर का डिविडेंड देगी. कंपनी इस डिविडेंड के लिए आज रिकॉर्ड डेट घोषित करेगी. साथ में कंपनी आज शेयर बाई बैक का भी ऐलान कर सकती है. कंपनी की बोर्ड बैठक आज प्रस्तावित है.

एनुअल जनरल मी​टिंग (AGM) में शेयरहोल्डर्स की अनुमति मिलने के बाद वित्त वर्ष 22 के लिए घोषित डिविडेंड शेयरहोल्डर्स के अ​काउंट में  जुलाई में क्रेडिट हो जाएंगे. बजाज ऑटो कंपनी 2008 से अपने निवेशकों ​को डिविडेंड दे रही है. कंपनी हर साल कंपनी डिविडेंड की रकम बढ़ा देती है. वित्त वर्ष 2008 में कंपनी ने 20 रुपये प्रति शेयर की दर से डिविडेंड का ऐलान किया था, जबकि वित्त वर्ष 2022 में कंपनी ने 140 रुपए प्रति डिविडेंड का ऐलान किया है.

यह भी पढ़ें- भारतीयों ने सोने से भी ज्यादा निवेश रियल एस्टेट में किया, इसमें इंवेस्टमेंट के क्या हैं फायदे और कैसे करें निवेश?

डिविडेंड के लिए कुल भुगतान ₹4,051 करोड़
डिविडेंड, यदि घोषित किया जाता है, तो उन इक्विटी शेयरधारकों को भुगतान किया जाएगा जिनके नाम कंपनी के रजिस्टर में या डिपॉजिटरी के रिकॉर्ड में शुक्रवार, 1 जुलाई 2022 को शेयरहोल्डर्स में दिखाई देते हैं. कंपनी ने कहा कि डिविडेंड के लिए कुल भुगतान ₹4,051 करोड़ होगा.

बजाज ऑटो भारत में मोटरसाइकिल और तिपहिया वाहनों का अग्रणी निर्माता है. बजाज ऑटो के शेयरों में अब तक 2022 (YTD) में 18% से अधिक की वृद्धि हुई है, जबकि एक वर्ष की अवधि में ऑटो स्टॉक में लगभग 8% की गिरावट आई है. आज बजाज ऑटो के शेयर 3869 पर ट्रेड कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें- Bank FD और Tax-free Bonds: निवेश के नजरिए से आपके लिए कौन सा बेहतर? एक्सपर्ट्स से समझिए

डिविडेंड का गणित
कुछ कंपनियां अपने शेयरधारकों को समय-समय पर अपने मुनाफे का कुछ हिस्सा देती रहती हैं. मुनाफे का यह हिस्सा वे शेयरधारकों को डिविडेंड के रूप में देती हैं.  आमतौर पर पीएसयू कंपनियां डिविडेंड के लिहाज से अच्छी मानी जाती हैं. जानकारों का कहना है कि अगर कोई कंपनी डिविडेंड दे रही है तो इसका मतलब साफ है कि उस कंपनी को मुनाफा आ रहा है. कंपनी के पास कैश की कमी नहीं है.

डिविडेंड देने के ऐलान से शेयर को लेकर भी सेंटीमेंट अच्छा होता है और उसमें तेजी आती है. हालांकि ऐसे शेयर चुनते समय यह ध्‍यान रखना चाहिए कि निवेश उसी कंपनी में करें जिनका ट्रैक रिकॉर्ड बेहतर ग्रोथ के साथ रेग्युलर डिविडेंड देने का हो.

Tags: Auto, Bajaj Group, Stock return, Stock tips

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर