1 सितंबर को बंद हो जाएगी इस सरकारी कंपनी की पैकेजिंग यूनिट, 10 करोड़ रुपये की होगी बचत

1 सितंबर को बंद हो जाएगी इस सरकारी कंपनी की पैकेजिंग यूनिट, 10 करोड़ रुपये की होगी बचत
कोलकाता औद्योगिक पैकेजिंग इकाई को 1 सितंबर से बंद करेगी बामर लॉरी

सरकारी कंपनी बामर लॉरी एंड कंपनी लिमिटेड (Balmer Lawrie and Company Limited) के सभी कर्माचरियों ने वीआरएस (VRS) स्कीम को स्वीकर किया है. यूनिट कोलकाता पोर्ट से लीज पर ले गई जमीन पर है और इसके बंद होने के बाद जमीन वापस कर दी जाएगी.

  • Share this:
कोलकाता. विभिन्न क्षेत्रों में कारोबार करने वाली सरकारी कंपनी बामर लॉरी एंड कंपनी लिमिटेड (Balmer Lawrie and Company Limited) कोलकाता में स्थित अपनी औद्योगिक पैकेजिंग इकाई को एक सितंबर से बंद कर देगी. कंपनी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक (सीएमडी) प्रबल बसु ने कहा कि यह मांग कम होने के चलते कई साल से लगातार हो रहे घाटे के कारण किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इकाई के सभी 40 स्थायी कर्मचारियों ने अलग होने की योजना का चयन किया. बसु ने कहा कि इस इकाई को बंद करने से कंपनी को हर साल 7 से 10 करोड़ रुपये का फायदा होगा.

उन्होंने कहा कि इस इकाई में मुख्यत: औद्योगिक बैरल का उत्पादन होता है, लेकिन इसकी मांग काफी कम हो गयी है और इसे उबारा भी नहीं जा सकता है. इसके प्रमुख क्लाइंट सरकारी तेल रिफायनरी कंपनियां थीं लेकिन 2012 में सरकार ने एमएसएमई को बढ़ावा देने के लिए खरीद नीति में बदलाव किया था. उसके बाद से इन कंपनियों ने बामर लॉरी को ऑर्डर देना बंद कर दिया था.

यह भी पढ़ें- देश के हर ब्लॉक में खुलेंगे अब Gold हॉलमार्किंग केंद्र, लाखों लोगों को मिलेगा रोजगार यहां करें आवेदन



कर्मचारियों का क्या होगा
उन्होंने कहा, बोर्ड ने इस यूनिट को बंद करने का फैसला किया है जो कई सालों से घाटे में चल रही है. इसके लिए सरकार से जुलाई में मंजूरी मिली थी और अब इसे 1 सितंबर से बंद कर दिया जाएगा. कर्मचारियों के लिए एक वीआरएस स्कीम लाई गई थी और सभी स्थाई कर्मचारियों ने इसे स्वीकार कर लिया. सूत्रों ने कहा कि इस यूनिट में करीब 40 और कर्मचारी भी जुड़े हैं जो ठेकेदार के तहत काम करते हैं. यूनिट कोलकाता पोर्ट से लीज पर ले गई जमीन पर है और इसके बंद होने के बाद जमीन वापस कर दी जाएगी.

इंडस्ट्रियल पैकेजिंग यूनिट के बंद होने से शहर में कंपनी का बाकी कारोबार प्रभावित नहीं होगा. बामर लॉरी की इस तरह की अन्य पांच यूनिट नवी मुंबई, सिलवासा, चित्तूर, चेन्नई और वडोदरा में है. कंपनी इंडस्ट्रियल ग्रीस, स्पेशिएलिटी लुब्रिकेंट्स, कॉरपोरेट ट्रेवल और लॉजिस्टिक्स सर्विसेज के कारोबार में भी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज