अच्छी खबर: Bandhan Bank ने चौथी तिमाही में दिखाया दम, सालाना आधार पर 21% की बढ़ोतरी

मार्च तिमाही में बंधन बैंक  ना सिर्फ अपनी बिजनेस ग्रोथ को कायम रखने में सफल रहा है बल्कि इसने अपने 96 फीसदी ग्राहकों से रिपेमेंट भी हासिल किया है.

मार्च तिमाही में बंधन बैंक ना सिर्फ अपनी बिजनेस ग्रोथ को कायम रखने में सफल रहा है बल्कि इसने अपने 96 फीसदी ग्राहकों से रिपेमेंट भी हासिल किया है.

कोरोनावायरस (Coronavirus) के दूसरी लहर के डर के बीच बंधन बैंक ( Bandhan Bank) ने निवेश का फैसला निवेशकों के लिए सही साबित हुआ है. मार्च तिमाही में बंधन बैंक ना सिर्फ अपनी बिजनेस ग्रोथ को कायम रखने में सफल रहा है बल्कि इसने अपने 96 फीसदी ग्राहकों से रिपेमेंट भी हासिल किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोनावायरस (Coronavirus) के दूसरी लहर के डर के बीच बंधन बैंक ( Bandhan Bank) ने निवेश का फैसला निवेशकों के लिए सही साबित हुआ है. मार्च तिमाही में बंधन बैंक ना सिर्फ अपनी बिजनेस ग्रोथ को कायम रखने में सफल रहा है बल्कि इसने अपने 96 फीसदी ग्राहकों से रिपेमेंट भी हासिल किया है.

मार्च तिमाही में बैंक के लोन बुक में सालाना आधार पर 21 फीसदी की ग्रोथ हुई है जबकि तिमाही आधार पर बैंक की लोन बुक में 8.5 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है. बंधन बैंक ने ये सफलता कोरोना के बढ़ते खतरे और स्टेट इलेक्शन की अफरा-तफरी के बाद हासिल की है.एनालिस्ट का कहना है कि ये चुनौतीपूर्ण समय में बैंक के मजबूती से जमे रहने की क्षमता का संकेत है. बता दें कि चुनाव के मौसम में अक्सर लोन रीपेमेंट का गणित गड़बड़ा जाता है. कई कर्जदार नई सरकार और व्यवस्था बदलने पर कर्ज छूट की उम्मीद में कर्ज लेने और कर्ज का भुगतान करने दोनों ही कामों को रोक देते हैं.

ये भी पढ़ें- एयर इंडिया को बेचने के लिए अब सरकार ने उठाया ये अगला कदम, सालों से घाटे में चल रही एयरलाइन कंपनी

बता दें कि बंधन बैंक का मुख्य कारोबार माइक्रो फाइनेंस का है. इस अवधि में बैंक के कलेक्शन में भी अच्छा सुधार देखने को मिला है. माइक्रो फाइनेंस लोन का कलेक्शन इस अवधि में 95 फीसदी के आसपास रहा है जबकि नॉन माइक्रो लोन का कलेक्शन 98 फीसदी पर रहा है. इससे बैंक में निवेशकों के विश्वास में और बढ़ोतरी होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज