Covid impact: क्या अब हफ्ते में दो दिन बंद रहेंगे बैंक? जानें पूरा प्लान..

बैंक युनियनों ने अपने ज्ञापन में कहा है कि सभी बैंकों को शाखाओं/कार्यालयों में न्यूनतम कर्मचारियों को बुलाने का निर्देश दिया जाए

बैंक युनियनों ने अपने ज्ञापन में कहा है कि सभी बैंकों को शाखाओं/कार्यालयों में न्यूनतम कर्मचारियों को बुलाने का निर्देश दिया जाए

Bank News: कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. देशभर के कई शहरों में हालात बदत्तर हैं. इस बीच बैंक यूनियन (Bank Unions) ने बैंक कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर वित्त मंत्रालय (Ministry of Finance) से अपील की है. बैंक यूनियन ने बैंकों में कामकाज के घंटे और वर्किंग डेज घटाने का सुझाव दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2021, 11:44 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. देशभर के कई शहरों में हालात बदत्तर हैं और आंशिक लाॅकडाउन (Lockdown) लगा दिए गए हैं. इस बीच अब बैंक यूनियन (Bank Unions) ने बैंक कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर वित्त मंत्रालय (Ministry of Finance) से उपाय करने की मांग की है. यूनियनों ने कहा है कि बैंकों के वर्किंग डेज (Bank Working Days) में कमी और ब्रांचों को न्यूनतम कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति देकर कुछ प्रभावी उपाय किए जा सकते हैं.

कामकाज के घंटे घटाने का दिया सुझाव

नौ यूनियनों के संगठन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (UFBU) ने वित्तीय सेवा विभाग के सचिव देवाशीष पांडा को एक ज्ञापन दिया है. इसमें कहा गया है कि बैंक के ब्रांच कोरोना संक्रमण के लिए हॉटस्पॉट हैं. ऐसे में जल्द से जल्द सरकार उपाय निकाले. इसके अलावा यूनियन ने कामकाज के घंटे या वर्किंग डेज घटाने का सुझाव दिया है.

ये भी पढ़ें- Bank Privatisation को लेकर बड़ी खबर! ये दो सरकारी बैंक होंगे प्राइवेट, नीति आयोग ने दिया प्रस्ताव
आम लोगों पर क्या होगा असर?

बता दें कि अगर बैंक यूनियनों की बात मान ली जाती है तो आम लोगों के लिए बैंकों के खुलने और बंद होने का समय बदल सकता है. मुमकिन है कि बैंक सुबह 10 बजे के बजाय 9:30 बजे खुले और शाम 4 बजे तक ग्राहकों के काम निपटाए जाएं. ऐसा हुआ तो बैंक कर्मचारी हफ्ते में सिर्फ 5 दिन काम करेंगे. हर शनिवार और रविवार को बैंक बंद रहेंगे. इस बारे में एक प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है. बैंकों की संस्था इंडियन बैंक्स असोसिएशन (IBA) और बैंक यूनियनों के बीच पहले दौर की बातचीत हो चुकी है.

ये भी पढ़ें- 10 हजार में शुरू करें ये कारोबार, मंदी का भी नहीं पड़ेगा असर! हर महीने होगी 1 लाख की कमाई, सरकार देगी 25% सब्सिडी



कहा- घर से काम करने कि मिले अनुमति

बैंक युनियनों ने अपने ज्ञापन में कहा है कि सभी बैंकों को शाखाओं/कार्यालयों में न्यूनतम कर्मचारियों को बुलाने का निर्देश दिया जाए. अगले चार से छह माह तक एक-तिहाई कर्मचारियों के साथ काम, घर से काम यानी वर्क फ्रॉम होम किया जाना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज