Home /News /business /

अब फटाफट क्लियर होगा आपका चेक, सितंबर से पूरे देश में लागू होगा नया सिस्टम

अब फटाफट क्लियर होगा आपका चेक, सितंबर से पूरे देश में लागू होगा नया सिस्टम

चेक क्लीयरेंस में तेजी लाने की नई व्यवस्था सितंबर से पूरे देश में होगी लागू

चेक क्लीयरेंस में तेजी लाने की नई व्यवस्था सितंबर से पूरे देश में होगी लागू

RBI ने देशभर में सितंबर 2020 तक चेक ट्रंकेशन सिस्टम (CTS) लागू करने का ऐलान किया है, जिससे अब आपका चेक बेहद कम समय में क्लियर होगा. आरबीआई ने चालू वित्त वर्ष की अंतिम द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के दौरान यह घोषणा की.

    मुंबई. अब चेक क्लियर होने के लिए ज्यादा समय तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने चेक समाशोधन में तेजी लाने के लिए कदम उठाया है. आरबीआई (RBI) ने पूरे देश में सितंबर 2020 तक चेक ट्रंकेशन सिस्टम (CTS)) लागू करने का ऐलान कर दिया है. इस व्यवस्था के तहत संबंधित बैंक को चेक वास्तविक रूप से भेजने के बजाए इलेक्ट्रानिक रूप से उसकी तस्वीर भेजी जाती है. आरबीआई ने यह व्यवस्था 2010 में शुरू की थी. फिलहाल यह कुछ बड़े शहरों में ही परिचालन में है.

    केंद्रीय बैंक के विकासात्मक और नियामकीय नीतियों पर जारी बयान के अनुसार, सीटीएस फिलहाल कुछ बड़े शहरों के समाशोधन गृह में काम कर रहा है. यह प्रणाली सही तरीके से काम कर रही है और इसमें दक्षता आयी है. इसको देखते हुए पूरे देश में सीटीएस प्रणाली सितंबर 2020 से लागू की जाएगी.

    ये भी पढ़ें: नए-पुराने टैक्स स्लैब में कितना लगेगा टैक्स, अब घर बैठे ऐसे लगाएं पता



    चेक को किया जाएगा स्कैन
    इस प्रणाली के तहत चेक भौतिक रूप से भेजे जाने के बजाए, उसकी तस्वीर इलेक्ट्रॉनिक रूप से संबंधित बैंक को भेजी जाती है. इससे चेक समाशोधन में समय कम लगता है और प्रक्रिया में तेजी आती है. आरबीआई ने कहा कि भारत में डिजिटल भुगतान तेजी से बढ़ रहा है और जल्दी ही डिजिटल भुगतान सूचकांक (डीपीआई) जारी करेगा.

    शीर्ष बैंक ने बयान में कहा कि वह नियमित अवधि पर डीपीआई तैयार करेगा और उसे प्रकाशित करेगा ताकि प्रभावी तरीके से भुगतान में डिजिटलीकरण का पता लगाया जा सके. बयान के अनुसार, डीपीआई विभिन्न मानदंडों पर आधारित होगा और डिजिटल भुगतान के विभिन्न माध्यमों की पहुंच को सही तरीके से प्रतिबिंबित करेगा. डीपीआई जुलाई 2020 से उपलब्ध होगा.

    ये भी पढ़ें: PPF, सुकन्या समेत इन सभी सरकारी योजनाओं में कम हो सकता हैं मुनाफा, RBI ने दिए संकेत



    रिजर्व बैंक ने कहा कि डिजिटल भुगतान में उल्लेखनीय वृद्धि तथा भुगतान परिवेश में इकाइयों के परिपक्व होने के साथ के साथ अब स्व-नियमन संगठन (एसआरओ) की जरूरत है ताकि भुगतान व्यवस्था में इकाइयों का परिचालन व्यवस्थित तरीके से हो सके. केंद्रीय बैंक डिजिटल भुगतान प्रणाली को लेकर एसआरओ के लिये अप्रैल 2020 तक रूपरेखा लाएगा. इस पहल का मकसद सुरक्षा, ग्राहकों के संरक्षण, कीमत समेत अन्य मामलों में बेहतर गतिविधियों को अपनाना है.

    ये भी पढ़ें:- 

    RBI के फैसले से आपके फिक्सड डिपॉजिट (FD) पर होगा ये असर, जानिए कितना घटेगा या बढ़ेगा मुनाफा!
    इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने किया सावधान! ये SMS खाली कर सकता हैं आपका बैंक खाता

    Tags: Business news in hindi, Cheques and cards, RBI, RBI Governor, Rbi policy, Shaktikanta Das

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर