जून में लोगों ने उधार लेने के बजाए अकाउंट में ज्यादा पैसे जमा किए, RBI ने दी जानकारी

जून में लोगों ने उधार लेने के बजाए अकाउंट में ज्यादा पैसे जमा किए, RBI ने दी जानकारी
19 जून तक को खत्म हुए पखवाड़े में बैंक डिपॉजिट में 11 फीसदी का इजाफा हुआ है.

रिज़र्व बैंक (RBI) के आंकड़ों से पता चलता है कि 19 जून को खत्म हुए दूसरे पखवाड़े में बैंक क्रेडिट 6.18% रहा है. इसी प्रकार बैंक डिपॉजिट 11% के स्तर पर रहा है. CRISIL ने अपनी एक रिपोर्ट में बैंक क्रेडिट के 0-1% के दायरे में रहने का अनुमान लगाया था.

  • Share this:
मुंबई. जून महीने के पहले पखवाड़े में क्रेडिट और बैंक डिपॉजिट (Bank Deposit) के बारे में भारतीय रिज़र्व बैंक (Reserve Bank of India) ने आंकड़े जारी कर दिए हैं. RBI के अनुसार 19 जून को खत्म हुए पखवाड़े में बैंक क्रेडिट (Bank Credit) में 6.18 फीसदी और डिपॉजिट में 11 फीसदी का इजाफा हुआ है. ये दोनों आंकड़े क्रमश: 102.45 लाख करोड़ रुपये और 138.67 लाख करोड़ रुपये रहे हैं.

जून के पहले पखवाड़े में क्या स्थिति थी?
इसके पहले 5 जून को खत्म हुए पखवाड़े में बैंक क्रेडिट 6.24 फीसदी बढ़कर 96.48 लाख करोड़ रुपये रहा था. इसी प्रकार बैंक डिपॉजिट में 11.28 फीसदी का इजाफा हुआ, जिसके बाद यह 124.92 लाख करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया.

क्या था क्रिसिल का अनुमान?
ध्यान देने योग्य है कि हाल ही में रेटिंग एजेंसी क्रिसिल (Crisil) ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि बैंक क्रेडिट बीते कई दशकों में न्यूनतम स्तर पर फिसलकर 0 से 1 फीसदी के दायरे में रहेगा. क्रिसिल ने मौजूदा कोविड-19 महामारी की वजह से आर्थिक गतिविधियों (Economic Activities) सुस्त पड़ने से ऐसा होने का अनुमान लगाया था.





यह भी पढ़ें: 'कर्मचारियों की सैलरी देने के लिए अगले महीने सरकार को लेना पड़ सकता Loan'

मई महीने में नॉन-फूड क्रेडिट (Non-Food Credit) साल-दर-साल के आधार 11.4 फीसदी से फिसलकर 6.8 फीसदी के स्तर पर पहुंच गया था. यह आंकड़ा पिछले साल की सामान अवधि की तुलना में है, जिसके बारे में आरबीआई के आंकड़ों से पता चलता है. 24 मई 2019 के 84.51 लाख करोड़ रुपये की तुलना में 22 मई 2020 तक नॉन-फूड क्रेडिट 90.3 लाख करोड़ रुपये रहा.

>> इंडस्ट्रीज को दिए जाने वाले बैंक लोन ग्रोथ भी लुढ़ककर 1.7 फीसदी के स्तर पर रहा. एक साल पहले यानी मई 2020 में यह आंकड़ा 6.4 फीसदी के स्तर पर था.

>> पिछले साल की तुलना में सर्विस सेक्टर को दिए जाने वाला लोन ग्रोथ भी कम होकर 11.2 फीसदी पर आ गया है. मई 2019 में यह 14.8 फीसदी था.

>> आरबीआई के आंकड़ों से पता चलता है कि मई 2020 में पर्सनल लोन ग्रोथ 10.6 फीसदी के स्तर पर रहा है. पिछले साल यानी मई 2019 में यह 16.9 फीसदी के स्तर पर था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading