बैंक ग्राहकों के लिए जरूरी खबर, चेक पेमेंट के नियमों में हो गया बड़ा बदलाव, जानें सबकुछ

आज से बदल गया चेक से पेमेंट करने का तरीका

आज से बदल गया चेक से पेमेंट करने का तरीका

बैंक ने चेक पेमेंट के जरिए होने वाले फ्रॉड को रोकने के लिए ये बदलाव किया है. अगर आप भी आज से चेक से पेमेंट करेंगे तो आपके लिए इस नियम को जानना बेहद जरूरी है.

  • Share this:

नई दिल्ली: बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) में खाता रखने वाले ग्राहकों के लिए बड़ी खबर है. 1 जून यानी आज से बैंक ने अपने पेमेंट सिस्टम में बड़ा बदलाव कर दिया है. बैंक ने चेक पेमेंट के जरिए होने वाले फ्रॉड को रोकने के लिए ये बदलाव किया है. अगर आप भी आज से चेक से पेमेंट करेंगे तो आपके लिए इस नियम को जानना बेहद जरूरी है. आज से चेक पेमेंट करने के लिए पॉजिटिव पे कन्फर्मेशन (Positive Pay Confirmation) जरूरी होगा. आइए आपको इस पेमेंट सिस्टम के बारे में डिटेल में बताते हैं-

BoB का कहना है कि ग्राहकों को पॉजिटिव पे सिस्टम के तहत चेक की डिटेल्स को रिकन्फर्म करना होगा. बता दें अगर आप 2 लाख रुपये या इससे ज्यादा का बैंक चेक जारी करते हैं तब भी आपको इसको रिकन्फर्म कराना होगा.

यह भी पढ़ें: LPG Price Today: सस्ता हो गया गैस सिलेंडर, जून में बुकिंग करने से पहले चेक कर लें लेटेस्ट रेट्स

क्या है ये पॉजिटिव पे सिस्टम?
आपको बता दें इस सिस्टम में चेक जारी करने वाले को SMS, इंटरनेट बैंकिंग, एटीएम या मोबाइल बैंकिंग के जरिए इलेक्ट्रॉनिकली चेक की डेट, बेनेफिशियरी का नाम, अकाउंट नंबर, कुल अमाउंट, ट्रांजेक्शन कोड और चेक नंबर की जानकारी बैंक को कन्फर्म करनी होगी. इस सिस्टम से चेक से पेमेंट जहां सुरक्षित होगा. इसके अलावा क्लियरेंस में भी कम समय लगेगा.

50 हजार रुपये के चेक पर नहीं है कंफर्म कराने की जरूरत

पॉजिटिव पे सिस्टम में 50 हजार या इससे बड़े अमाउंट के बैंक चेक के जरिए पेमेंट पर लागू है, लेकिन अगर ग्राहक की ओर से 2 लाख या इससे ज्यादा का चेक जारी किया गया तब ही उसको रिकन्फर्म कराना होगा.



यह भी पढ़ें: Indian Railways: रेलवे ने दी राहत, इन स्पेशल ट्रेनों में शुरू हुई बुकिंग, आसानी से मिलेगा कंफर्म टिकट

किस तरह करा सकते हैं कंफर्म

नए सिस्टम के तहत चेक जारी करने वाला व्यक्ति चेक की जानकारी एसएमएस, मोबाइल एप, इंटरनेट बैंकिंग और एटीएम के माध्यम से दे सकता है. चेक का भुगातन से पहले इन जानकारियों की दोबारा जांच की जाएगी. इसके अलावा नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) पॉजिटिव पे सिस्टम को विकसित कर इसे सहभागी बैंकों को उपलब्ध कराएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज