• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • ध्यान दें! 30 नवंबर के बाद काम नहीं करेंगी इस सरकारी बैंक की चेकबुक और IFSC कोड

ध्यान दें! 30 नवंबर के बाद काम नहीं करेंगी इस सरकारी बैंक की चेकबुक और IFSC कोड

30 नवंबर के बाद काम नहीं करेंगी इस बैंक चेकबुक और बंद हो जाएंगे IFSC कोड, बंद हुई 50 से ज्यादा ब्रांच

30 नवंबर के बाद काम नहीं करेंगी इस बैंक चेकबुक और बंद हो जाएंगे IFSC कोड, बंद हुई 50 से ज्यादा ब्रांच

सरकारी बैंक ऑफ महाराष्ट्र (BoM) ने अपनी 51 ब्रांच (शाखाएं) बंद करने का ऐलान किया है. बैंक के पुणे मुख्यालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बंद होने वाली ब्रांच (शाखाएं) शहरी क्षेत्रों में हैं. जानिए अब क्या करें ग्राहक

  • Share this:
    सरकारी बैंक बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने अपने तिमाही नतीजों का ऐलान किया है. बैंक को जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान 27 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है. पिछले साल की इस तिमाही के दौरान बैंक ने 23.2 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. आपको बता दें कि बैंक ने अपने खर्च घटाने के लिए अपनी 51 ब्रांच (शाखाएं) बंद करने का ऐलान किया था.

    कौन सी ब्रांच बंद की-बैंक की ओर से जारी बयान में कहा गया था कि इन ब्रांचों से बैंक को मुनाफा नहीं हो रहा था. इसीलिए बैंक ने 51 शाखाओं को बंद करके उनका विलय पास की शाखाओं में कर दिया गया है. इसका मतलब साफ है कि अब ग्राहकों का खाता दूसरी ब्रांच में शिफ्ट हो जाएगा. (ये भी पढ़ें-SBI का नया ATM कार्ड: घर बैठे ऐसे मुफ्त में करें चेंज, RBI ने दिया पुराने कार्ड को बंद करने का आदेश)

     रद्द हुए IFSC कोड- बैंक ऑफ महाराष्ट्र की देशभर में 1,900 शाखाएं हैं. बीओएम ने सोमवार को अपनी घोषणा में कहा कि बैंक ने लोगों की सुविधा के लिए इन शाखाओं का विलय कर दिया है. (ये भी पढ़ें-सोना हुआ 555 रुपये महंगा, इस महीने में पहली बार कीमतें 32 हजार रुपये प्रति दस ग्राम के पार)

    अब ग्राहक क्या करेंगे- बंद हुई शाखाओं के आईएफएससी कोड और एमआईसीआर कोड रद्द कर दिए गए हैं और सभी बचत, चालू व अन्य खाते विलय की गईं शाखाओं में स्थानांतरित कर दिए गए हैं. इसका मतलब साफ है कि अब ग्राहकों का खाता दूसरी ब्रांच में शिफ्ट हो जाएगा. (ये भी पढ़ें-आपको नहीं देना होगा आधार नंबर! वेरिफिकेशन के लिए सरकार ने उठाया नया कदम)

    30 नवंबर के बाद काम नहीं करेंगी चेकबुक- बैंक ऑफ महाराष्ट्र की बंद की गईं शाखाओं के सभी ग्राहकों को उनको पहले जारी किए गए चेकबुक 30 नवंबर तक वापस जमा करने व नई शाखा के आईएफसीएस/एमआईसीआर कोड के साथ भुगतान उपकरण प्राप्त करने का निर्देश दिया गया है. बैंक ऑफ म‍हाराष्‍ट्र ने कहा है कि पुराने IFSC/MICR कोड 31 दिसंबर से हमेशा के लिए अमान्‍य हो जाएंगे इस लिए ग्राहक अपने सभी बैंकिंग लेनदेन नए IFSC/MICR कोड के जरिए करें. (ये भी पढ़ें-IL&FS संकट से क्या है आपके पैसों को खतरा? जानिए इससे जुड़े सभी सवालों के जवाब)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज