Home /News /business /

Bank Strike Day-2: आज भी बंद रहेंगे बैंक, निजीकरण के खिलाफ दूसरे दिन भी हड़ताल करेंगे बैंककर्मी

Bank Strike Day-2: आज भी बंद रहेंगे बैंक, निजीकरण के खिलाफ दूसरे दिन भी हड़ताल करेंगे बैंककर्मी

बैंककर्मियों की हड़ताल के कारण लगातार दूसरे दिन एसबीआई समेत कई बैंकों में नहीं होगा कामकाज.

बैंककर्मियों की हड़ताल के कारण लगातार दूसरे दिन एसबीआई समेत कई बैंकों में नहीं होगा कामकाज.

Bank Strike Day 2 - सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण के खिलाफ बैंककर्मी आज दूसरे दिन यानी 17 दिसंबर 2021 को भी देशव्यापी हड़ताल (National wide bank strike) पर रहेंगे. हड़ताल के पहले दिन एसबीआई (SBI) समेत कई बैंकों के कर्मचारियों ने कामकाज ठप रखा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. बैंक कर्मचारियों (Bank Employees) के 9 संगठनों के शीर्ष निकाय यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (UFBU) ने 16 और 17 दिसंबर 2021 को दो दिन की देशव्‍यापी हड़ताल (Nationwide Bank Strike) का ऐलान किया था. देशभर में 16 दिसंबर 2021 को स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (CBI) के कर्मचारियों ने कामकाज ठप रखा. बता दें कि दो सरकारी बैंकों के प्रस्तावित निजीकरण के खिलाफ इस हड़ताल का ऐलान किया गया है.

    FM सीतारमण ने की थी दो बैंकों के निजीकरण की घोषणा
    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने के विनिवेश लक्ष्य के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के निजीकरण (Bank Privatization) की घोषणा की थी. इससे पहले सरकार ने 2019 में आईडीबीआई बैंक में अपनी बहुलांश हिस्सेदारी एलआईसी (LIC) को बेचकर आईडीबीआई बैंक (IDBI Bank) का निजीकरण कर दिया था.

    ये भी पढ़ें- 7th Pay Commission: सरकारी कर्मचारियों की फिर बढ़ेगी सैलरी, DA में 3% बढ़ोतरी करने पर विचार कर रहा केंद्र

    केंद ने चार साल में कर दिया 14 सरकारी बैंकों का विलय
    केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार (Modi Government) ने पिछले चार साल में 14 सरकारी बैंकों का विलय (Bank Mergers) किया है. सरकार ने बैंकिंग अधिनियम (संशोधन) विधेयक, 2021 को संसद के मौजूदा सत्र के दौरान पेश करने और पारित करने के लिए सूचीबद्ध किया है.

    बैंकों ने कर्मियों से की थी हड़ताल पर ना जाने की अपील
    स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कर्मचारियों से हड़ताल पर नहीं जाने की अपील की थी. बैंक ने कहा था कि कोरोना महामारी को देखते हुए कर्मचारियों की हड़ताल से स्टेकहोल्डर्स को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा. एसबीआई ने बैंक यूनियनों को बातचीत का न्यौता भी भेजा था, लेकिन बैंककर्मी अड़े रहे और हड़ताल पर रहे.

    ये भी पढ़ें – छोटे से कमरे में शुरू करें फ्रोजन मटर का बिजनेस, लागत से 10 गुना तक होगी कमाई, जानें पूरी प्रोसेस

    सेंट्रल बैंक (Central Bank of India) ने भी अपने कर्मचारियों और यूनियनों को खत लिखकर कहा कि वे अपने सदस्यों को बैंक के बेहतरी के काम करें. पंजाब नेशनल बैंक (PNB) की हड़ताल पर नहीं जाने की अपील भी बेअसर रही.

    Tags: Bank Privatisation, Bank Strike, Banking services, Punjab national bank, Sbi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर