Home /News /business /

Alert! बैंकों में भी सुरक्षित नहीं है आपका पैसा! अगले दो साल लगातार बढ़ेंगे बैंकिंग धोखाधड़ी के मामले : Deloitte

Alert! बैंकों में भी सुरक्षित नहीं है आपका पैसा! अगले दो साल लगातार बढ़ेंगे बैंकिंग धोखाधड़ी के मामले : Deloitte

बैंक और वित्तीय संस्थान साइबर धोखाधड़ी से निपटने के लिए खुद ही जूझ रहे हैं.

बैंक और वित्तीय संस्थान साइबर धोखाधड़ी से निपटने के लिए खुद ही जूझ रहे हैं.

Banking Fraud : महामारी के दौरान डिजिटल निर्भरता बढ़ने और डिजिटल परिचालन में तेजी से बैंकों व वित्तीय संस्थानों में साइबर धोखाधड़ी (Cyber Fraud) के मामले बढ़े हैं. पिछले दो साल में इसमें और तेजी आई है.

नई दिल्ली. लोग अपनी मेहनत की कमाई को सुरक्षित रखने के लिए उसे बैंकों में जमा (Bank Deposits) करते हैं. इस पर उन्हें रिटर्न भी मिलता है. क्या आपको पता है कि बैंकों में भी आपका पैसा सुरक्षित नहीं है क्योंकि बैंक खुद ही सुरक्षित नहीं हैं. बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों में जमा आपके पैसों पर किसी और की नजर है.

महामारी के दौरान डिजिटल निर्भरता बढ़ने और डिजिटल परिचालन में तेजी से बैंकों व वित्तीय संस्थानों में साइबर धोखाधड़ी (Cyber Fraud) के मामले बढ़े हैं. पिछले दो साल में इसमें और तेजी आई है. ऑडिट, कंसल्टिंग, टैक्स और एडवाइजरी सर्विसेज फर्म डेलॉयट इंडिया (Deloitte India) ने एक सर्वे में कहा आलम यह है कि ये बैंक और वित्तीय संस्थान इससे निपटने के लिए खुद ही जूझ रहे हैं. आगे भी साइबर धोखाधड़ी की घटनाएं होती रहेंगी.

ये भी पढ़ें- Budget 2022 : कोरोना काल में हेल्थ बजट बढ़ा सकती है सरकार, मिलेंगी आधुनिक स्वास्थ्य सुविधाएं, जानें क्या है वित्त मंत्री की तैयारी

इन वजहों से बढ़ी साइबर धोखाधड़ी

डेलॉयट टच तोहमात्सु इंडिया एलएलपी (Deloitte Touche Tohmatsu India LLP) ने कहा कि अगले दो वर्षों में धोखाधड़ी की घटनाओं में बढ़ोतरी के लिए जिन प्रमुख कारणों की पहचान की गई है, उनमें बड़े पैमाने पर कार्य स्थल से अलग बैठकर काम करना यानी रिमोट वर्किंग, ग्राहकों में ब्रांच से अलग बैंकिंग माध्यमों का बढ़ता उपयोग और फॉरेंसिक विश्लेषण साधनों की सीमित उपलब्धता शामिल है.

ये भी पढ़ें- PPF Calculator : हर दिन सिर्फ 250 रुपये बचाकर बन सकते हैं लाखों के मालिक, चेक करें डिटेल्‍स

अगले दो वर्ष में और बढ़ेंगे मामले

डेलॉयट का यह सर्वे भारत में स्थित विभिन्न वित्तीय संस्थानों के 70 सीनियर अधिकारियों से बातचीत पर आधारित है. ये अधिकारी जोखिम प्रबंधन, लेखा परीक्षण और संपत्ति की वसूली जैसे कार्यों को देखते हैं. सर्वे में शामिल होने वाले बैंकों और वित्तीय संस्थानों में प्राइवेट, पब्लिक, विदेशी, सहकारी और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक भी शामिल हैं. सर्वे में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी और नए डिजिटल परिचालन के कारण बैंक और वित्तीय संस्थान धोखाधड़ी की बढ़ती घटनाओं से निपटने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. सर्वे में 78 फीसदी लोगों ने आशंका जताई कि अगले दो वर्षों में धोखाधड़ी के मामले बढ़ सकते हैं.

Tags: Bank news, Banking fraud, Cyber Fraud

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर