Car-Home लोन लेने वाले 21 हज़ार लोगों पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी, जारी होगी आरसी

बैंक स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर लोन लेने वाले 21 हज़ार लोगों को आरसी भेजने की तैयारी हो रही है.

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में रहने वाले करीब 21 हजार लोगों ने लीड बैंक के जरिए मकान और कार लोन लिया था. इनपर करीब 2.5 हजार करोड़ रुपये के लोन का पूर्नभुगतान नहीं करने का आरोप हैं. इनमें से अधिकतर लोगों ने तो अपने लोन की एक भी किश्त नहीं जमा की है.

  • Share this:
    नोएडा. लीड बैंक (Bank) और स्थानीय प्रशासन मिलकर नोएडा (Noida) में एक बड़ी कार्रवाई करने जा रहे हैं. ये कार्रवाई नोएडा और ग्रेटर नोएडा में रहने वाले करीब 21 हज़ार लोगों पर की जाएगी. इन 21 हज़ार लोगों पर बैंक का करीब 2.5 हज़ार करोड़ रुपये न चुकाने का आरोप है. जल्द ही बैंक प्रशासन के साथ मिलकर आरसी जारी करने की तैयारी कर रहा है. ये वो लोग हैं जिन्होंने बैंक से लोन लिया था और लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान से अब तक बैंक को एक भी किश्त नहीं चुकाई है.

    बैंक के मुताबिक सबसे ज़्यादा लोन कार और मकान के लिए लिया गया था. लेकिन लॉकडाउन के वक्त से बहुत सारे लोगों ने बैंक की किश्त देना बंद कर दिया. इसमे कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने लोन लेने के बाद अभी तक बैंक को एक भी किश्त नहीं दी है.

    बैंक के नोटिस का नहीं दिया जवाब
    लीड बैंक के एक अधिकारी का कहना है कि किश्त रुक जाने पर बैंक ने संबंधित लोगों को नोटिस भेजे थे, लेकिन बड़ी सख्या में लोगों ने बैंक के नोटिस का जवाब नहीं दिया. यही वजह है कि अब बैंक स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर लोन लेने वाले 21 हज़ार लोगों को आरसी भेजने की तैयारी कर रहा है. इसके बाद बकाय की वसूली राजस्व अधिनियम के तहत की जाएगी.

    शबनम के बाद 34 और लोगों को दी जानी है फांसी, लिस्‍ट में 3 महिलाओं के नाम भी शामिल

    3549 करोड़ में से चुकाए 11 सौ करोड़
    बैंक अधिकारियों के मुताबिक 21 हज़ार लोगों पर करीब 3,549 करोड़ रुपये का बकाया था. लेकिन जब बैंक ने वसूली के लिए कमर कसी तो इसमे से कुछ लोगों ने 1,100 करोड़ रुपये बैंक में जमा करा दिए. लेकिन 2,449 करोड़ रुपये अभी भी बकाया है. खासतौर से लॉकडाउन के वक्त से इन लोगों ने लो की किश्त चुकाने में लापरवाही बरती हुई है. किश्त चुकाना तो दूर की बात, बैंक के नोटिस तक का जवाब नहीं दे रहे हैं.


    ऐसे दिया गया था लोन
    नोएडा-ग्रेटर नोएडा में 42 बैंकों की 522 शाखाओं ने 9.53 लाख ग्राहकों को 60926 को करोड़ रुपए का लोन दिया था. इसमे से लॉकडाउन के बाद से बैंक की कोई किश्त ना देने वाले ग्राहकों की संख्या 25,109 है. जिसमें से किश्त नहीं देने वाले लोगों पर 35,049 करोड़ रुपये का लोन है. इन बकायेदारों में सबसे ज्यादा उपभोक्ता होम लोन और कार लोन वाले हैं. लेकिन बैंक नोटिस के बाद से 3513 ग्राहकों ने अपनी किश्तें जमा करा दी थीं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.