Home /News /business /

10 लाख करोड़ रुपये के लोन को रिस्ट्रक्चर कर सकते हैं बैंक, RBI जारी करने वाला है गाइडलाइंस

10 लाख करोड़ रुपये के लोन को रिस्ट्रक्चर कर सकते हैं बैंक, RBI जारी करने वाला है गाइडलाइंस

पेंशनभोगी 1 नवंबर 2020 से लेकर 31 दिसंबर, 2020 तक अपना लाइफ सर्टिफिकेट जमा करा सकते हैं.

पेंशनभोगी 1 नवंबर 2020 से लेकर 31 दिसंबर, 2020 तक अपना लाइफ सर्टिफिकेट जमा करा सकते हैं.

लोन मोरेटोरियम (Loan Moratorium) की अवधि खत्म होने के बाद RBI ने उधारदाताओं को एक बार लोन रिस्ट्रक्चरिंग की छूट दी है. वित्त मंत्री (Finance Minister) ने भी इसे 15 सितंबर तक लागू करने की अपील की है. वर्तमान में बैंकिंग सिस्टम (Banking System) में बैंकों का कुल बकाया करीब 100 लाख करोड़ रुपये है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. बैंकिग क्षेत्र (Banking Sector) के अधिकारियों का अनुमान है कि कोविड-19 महामारी की मार से प्रभावित वर्तमान दौर में बैंक दस लाख करोड़ रुपये से अधिक के कर्जों का ​लोन रिस्ट्रक्चरिंग (Loan Restructuring) कर सकते हैं. इनमें से ज्यादातर कर्ज विमानन, व्यावसायिक अचल सम्पत्ति और होटल कारोबार जैसे पांच-छह अधिक प्रभावित व्यावसायिक क्षेत्र की इकाइयों के होंगे. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने पिछले सप्ताह ही बैंकों और गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC) को कोविड-19 के कारण संकटग्रस्त खातों के कर्ज का एक बार के लिए रिस्ट्रक्चरिंग करने की योजना शुरू करने की अपील की थी. उन्होंने बैंकों से यह काम 15 सितंबर तक चालू करने को कहा था.

    बैंकों और बॉरोवर्स को होगा फायदा
    सावर्जनिक क्षेत्र के एक बैंक के शीर्ष अधिकारी ने कहा कि इस तरह की योजना बैंक और ऋणी दोनों के लिए लाभदायक है. उसने कहा कि इससे एक तरह कंपनियां अपने कारोबार को NPA घोषित होने से बचा सकेंगी, दूसरे बैंकों को रिस्ट्रक्चरिंग कर्ज के एवज में कम पूंजी का प्रावधान करना पड़ेगा.

    यह भी पढ़ें: कर्ज लेने वालों को जल्द मिलेगी खुशखबरी! लोन रिस्ट्रक्चरिंग पर बड़ा ऐलान करने की तैयारी में RBI

    क्यों बैंकों के लिए होगा फायदेमंद
    बैंकों को रिस्ट्रक्चरिंग करने पर उस सम्पत्ति के केवल 10 फीसदी के बराबर धन का प्रावधान करना पड़ेगा, जबकि एनपीए होने पर यह प्रावधान शुरू में ही 15 फीसदी करना होता है. अधिकारी ने कहा कि इस पांच फीसदी का लोभ बैंकों को ऋण रिस्ट्रक्चरिंग के लिए प्रेरित करेगा.

    बैंकों का कुल बकाया करीब 100 लाख करोड़ रुपये
    अधिकारी ने कहा कि इस लाभ को देखते हुए 12-15 फीसदी कर्ज का रिस्ट्रक्चरिंग किए जाने की संभावना दिखती है. उल्लेखनीय है कि बैंकिग सिस्टम में इस समय बैंकों का कुल बकाया कर्ज 100 लाख करोड़ रुपये के स्तर पर है.

    यह भी पढ़ें: GDP घटने से अर्थव्‍यवस्‍था को होगा 20 लाख करोड़ रुपये का नुकसान! आप पर भी होगा सीधा असर

    एक अन्य बैंक अधिकारी ने कहा कि कुल 30 फीसदी कर्ज पर किस्त जमा करने की मोहलत का लाभ लिया गया है. इसमें से करीब आधे कर्ज पुनगर्ठन के लिए आ सकते हैं. किस्त-वसूली पर स्थगन की अवधि 31 अगस्त को समाप्त हो चुकी है.undefined

    Tags: Bank Loan, Business loan, Business news in hindi, RBI

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर