अपना शहर चुनें

States

खुशखबरी! अब 59 मिनट में मिलेगा होम और ऑटो लोन, जानें क्या है नया प्लान?

खुशखबरी! मोदी सरकार अब 59 मिनट में देगी होम और ऑटो लोन
खुशखबरी! मोदी सरकार अब 59 मिनट में देगी होम और ऑटो लोन

मोदी सरकार घरों की बिक्री में तेजी लाने और इकोनॉमी की रफ्तार बढ़ाने के लिए 59 मिनट में लोन देने की तैयारी शुरू करने वाली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 6, 2019, 8:52 PM IST
  • Share this:
घर खरीदारों के लिए अच्छी खबर है. मोदी सरकार घरों की बिक्री में तेजी लाने और इकोनॉमी की रफ्तार बढ़ाने के लिए 59 मिनट में लोन देने की तैयारी शुरू करने वाली है. वित्त मंत्रालय को बैंकों की तरफ से एक प्रस्ताव मिला है, जिसके बारे में जल्द फैसला लिया जाएगा. सरकारी बैंकों के चेयरमैन, एमडी और सीईओ के साथ बैठक में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को यह प्रस्ताव मिला है.

बिजनेस लोन के तर्ज पर मिलेगा लोन
हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, वित्त मंत्रालय इस प्रस्ताव पर गौर कर रहा है. इस बैठक में वित्त सचिव राजीव कुमार भी मौजूद थे. फिलहाल इस तरह की सुविधा केवल छोटे कारोबारियों को मिलती है, जो psbloansin59minutes.com से आसानी से एक करोड़ रुपये तक का लोन लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं.

कार, घर खरीदने के लिए लोन
बैंकों ने प्रस्ताव दिया है कि इस तरह का एक पोर्टल रिटेल ग्राहकों के लिए भी शुरू किया जाए, जिससे उनको आसानी से होम, ऑटो और पर्सनल लोन मिल सके. ऐसा करने से अर्थव्यवस्था को रफ्तार बढ़ेगी और मांग बढ़ने से ऑटो, रियल इस्टेट और इलेक्ट्रोनिक्स सेक्टर्स को ज्यादा फायदा मिलेगा.



ये भी पढ़ें: एशिया की बड़ी कंपनी जम्मू-कश्मीर में लगाएगी फैक्ट्री!

बैंकों ने बढ़ाई लोन की सीमा
MSME को लोन इन 59 मिनट लोन योजना के तहत अब 5 करोड़ रुपये तक का कर्ज मिल सकेगा और लोन का अमांउट 8 कामकाजी दिनों के अंदर अकाउंट में जाएगा. एसबीआई सहित पांच सरकारी बैंकों ने कर्ज की सीमा को बढ़ा दिया है. मोदी सरकार ने नवंबर 2018 में एमएसएमई क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए योजना की शुरुआत की थी.

इन बैंकों ने बढ़ाई कर्ज की राशि
पीएसबी लोन इन 59 मिनट योजना के तहत एमएसएमई को एक करोड़ का कर्ज उपलब्ध कराने की सुविधा दी गई थी. कारोबारियों के आवेदन को एक घंटे के भीतर स्वीकार करते हुए लोन पास कर दिया जाता है और 8 कारोबारी दिवस में कर्ज की राशि आवेदनकर्ता के खाते में आ जाती है. इस तरह के कर्ज पर ब्याज की शुरुआत 8.5 फीसदी से होती है.

ये भी पढ़ें: RBI का तोहफा! 1 सितंबर से जीरो बैलेंस वाले बैंक खाते पर फ्री में मिलेंगी ये सुविधाएं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज