Home /News /business /

बैंकों पर निर्भर करेगा NBFC's को मोरेटोरियम का लाभ देना: शक्तिकांत दास

बैंकों पर निर्भर करेगा NBFC's को मोरेटोरियम का लाभ देना: शक्तिकांत दास

भारतीय रिज़र्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास

भारतीय रिज़र्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने सोमवार को यह साफ कर दिया है कि NBFC को मोरेटोरियम का लाभ देना बैंकों का अंतिम फैसला होगा. वहीं, एक रिपोर्ट में कहा गया है कि NBFC's को तुरंत फंड की जरूरत है.

    नई दिल्ली. भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने सोमवार को साफ कर दिया कि गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC's) को मोरेटोरियम का लाभ देना पूरी तरह से बैंकों पर निर्भर करता है. हाल ही में आरबीआई ने एनबीएफसी के लिए मोरेटोरियम का ऐलान किया था.

    RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, "27 मार्च के सर्कुलर में दो चीजें कही गई थी. वो ये था कि लेंडिंग इंस्टीट्यूशंस (बैंकों) को तीन महीने की किस्त पर मोरटोरियम देने की इजाजत दी गई है. हमने तब ये भी कहा था कि लेंडिंग इंस्टीट्यूशंस को इसके लिए अपने बोर्ड की मंजूरी लेनी होगी."

    यह भी पढ़ें: Lockdown के बाद इकॉनमी को संभालने के लिए भारत को बनाना होगा नया प्लान:राजन

    लिक्विडिटी पोजिशन के बाद आधार पर बैंक ले सकेंगे फैसला
    इसका मतलब यह है कि हर बैंक को अपने लिक्विडिटी पोजीशन के हिसाब से यह फैसला लेना होगा. इस मामले में आखिरी फैसला बैंक को लेना होगा. उन्होंने कहा कि जहां तक इस स्कीम को लागू करने की बात है तो हर बैंक अपनी स्थिति के आधार पर यह फैसला ले सकता है. यानी NBFC को मोरटोरियम का फायदा मिलेगा या नहीं यह पूरी तरह बैंकों के फैसले पर निर्भर करता है.

    एनबीएफसी को तुरंत चाहिए फंड
    संकट के इस दौर में NBFC अपने ग्राहकों को मोरटोरियम का फायदा दे रहे हैं लेकिन उन्हें इसका फायदा मिलेगा या नहीं..यह तय नहीं हो पा रहा है. Acuité Ratings & Research की एक रिपोर्ट के मुताबिक, NBFC को तुरंत फंड की जरूरत है. इनकी फंडिंग गैप फिलहाल 15,000 से 25,000 करोड़ रुपए के बीच है.

    यह भी पढ़ें: Aadhaar में कौन सा मोबाइल नंबर है रजिस्टर्ड, घर बैठे ऐसे करें पता

    '83% भारतीयों ने माना मोदी सरकार ने कोरोना महामारी को अच्छी तरह से संभाला'

    सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट उम्र 60 से हो जाएगी 50! जानिए हकीकत

    Tags: Business news in hindi, NBFCs, RBI Governor, Shaktikanta Das

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर