होम /न्यूज /व्यवसाय /

आईपीओ के सूखे के बाद बाढ़ के लिए रहें तैयार, एक साथ तीन आईपीओ में निवेश का मिलेगा मौका, देखें डिटेल्स

आईपीओ के सूखे के बाद बाढ़ के लिए रहें तैयार, एक साथ तीन आईपीओ में निवेश का मिलेगा मौका, देखें डिटेल्स

इन आईपीओ को फिलहाल सेबी से मंजूरी मिलना बाकी है.

इन आईपीओ को फिलहाल सेबी से मंजूरी मिलना बाकी है.

इस साल की पहली छमाही में अब तक 15 आईपीओ आए हैं जो कि पिछले साल की समान अवधि से काफी कम हैं. हालांकि, अब 3 कंपनियों ने आईपीओ के लिए सेबी के पास दस्तावेज जमा किए हैं. इनमें से एक कंपनी दिवगंत राकेश झुनझुनवाला की रेयर एंटरप्राइजेज द्वारा समर्थित है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

3 कंपनियों ने आईपीओ के लिए सेबी का पास दस्तावेज जमा किए.
यह कंपनिंया हैं- बालाजी सॉल्यूशंस, कॉनकॉर्ड बायोटेक और गो-डिजिट.
कॉनकॉर्ड बायोटेक के आईपीओ में कोई नया शेयर जारी नहीं किया जाएगा.

नई दिल्ली. इस साल की पहली छमाही में आईपीओ का बाजार ठंडा ही रहा है. 2022 के आधे हिस्से में केवल 15 आईपीओ आए हैं जबकि पिछले साल की समान अवधि में इनकी संख्या 65 थी. बेशक इस साल एलआईसी भारत का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ लेकर आई लेकिन वह फ्लॉप साबित हुआ. इसके बाद सेबी से अनुमति मिलने के बावजूद कई कंपनियों ने कुछ समय के लिए आईपीओ के प्लान को ठंडे बस्ते में डाल दिया.

हालांकि, अब आईपीओ का बाजार एक बार फिर गुलजार हो सकता है. निवेशकों को एक साथ 3 कंपनियों के लिए आईपीओ में बोली लगाने का मौका मिल सकता है. बालाजी सॉल्यूशंस, गो डिजिट जनरल इंश्योरेंस और कॉनकॉर्ड बायोटेक ने सेबी के पास आईपीओ संबंधी शुरुआती दस्तावेज जमा करा दिए हैं. अगर सेबी से तीनों कंपनियों को अनुमति मिलती है तो आईपीओ के निवेशकों के लिए बड़ी खुशखबरी होगी.  बहरहाल, आइए जानते इन तीन कंपनियों के बारे में जिन्होंने आईपीओ के लिए पेपर फाइल किए हैं.

ये भी पढ़ें- धीमी रेल टिकट बुकिंग वेबसाइट से जल्द मिलेगा निजात, ई-टिकटिंग प्रणाली को तेज बनाने के लिए सलाहकार फर्म नियुक्त

बालाजी सॉल्यूशंस

यह एक आईटी हार्डवेयर और मोबाइल एक्सेसरीज कंपनी है. सेबी के पास जमा किए गए दस्तावेज के मुताबिक आईपीओ में 120 करोड़ रुपये तक के नए शेयर जारी किए जाएंगे. वहीं, कंपनी के प्रमोटर व अन्य शेयरधारक 75 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) करेंगे. ड्राफ्ट पेपर में पात्र कर्मचारियों के लिए आईपीओ में आरक्षण भी शामिल है. कंपनी आईपीओ से पहले 24 करोड़ रुपये तक जुटाने का प्रयास करेगी. अगर कंपनी पैसा जुटा लेती है तो आईपीओ का साइज कम हो जाएगा.

कॉनकॉर्ड बायोटेक

दिवगंत निवेशक राकेश झुनझुनवाला की अगुआई वाली रेयर एंटरप्राइजेज द्वारा समर्थित कॉनकॉर्ड बायोटेक ने भी सेबी के पास दस्तावे जमा किए हैं. आईपीओ में कोई नए शेयर नहीं होंगे. यह पूरी तरह ओएफएस के तहत होगा. हेलिक्स इन्वेस्टमेंट होल्डिंग्स पीटीई लिमिटेड 2,09,25,652 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) करेगी. आईपीओ संबंधी दस्तावेज में कर्मचारियों के लिए शेयर आरक्षित करने का प्रस्ताव रखा गया है.

गो डिजिट जनरल इंश्योरेंस

यह कंपनी कनाडा के फेयरफैक्स समूह द्वारा समर्थित है. कंपनी द्वारा जमा दस्तावेजों के अनुसार, आईपीओ में 1,250 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे. इसके अलावा एक प्रवर्तक और मौजूदा शेयरधारक 10,94,45,561 इक्विटी शेयरों के लिए बिक्री पेशकश (ओएफएस) करेंगे. ओएफएस के तहत गो डिजिट इन्फोवर्क्स सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड 10,94,34,783 इक्विटी शेयर बेचेगी. कंपनी की आईपीओ से पहले 250 करोड़ रुपये की फंडिंग जुटाने की योजना है. गौरतलब है कि भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली और उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा गो इस कंपनी के निवेशक हैं.

Tags: Business news, Investment, IPO, Rakesh Jhunjhunwala, Stock market

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर