Home /News /business /

before renewing health insurance review these 5 things there will be no problem jst

हेल्थ इंश्योरेंस रिन्यू करने से पहले करें इन 5 चीजों का रिव्यू, नहीं होगी कोई परेशानी

अनिश्चितता से बेफिक्र रहने को हेल्थ इंश्योरेंस जरूरी.

अनिश्चितता से बेफिक्र रहने को हेल्थ इंश्योरेंस जरूरी.

अगर एक बार आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी रिन्यू करवाने का ग्रेस पीरियड खत्म हुआ तो आपको फिर से नई पॉलिसी खरीदनी पड़ेगी. इस परेशानी से बचने के लिए आपको समय रहते अपनी पॉलिसी रिन्यू करा लेनी चाहिए.

नई दिल्ली. हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी बेहद मुश्किल समय में हमारे सहारे का काम करती हैं. जब आप या आपका कोई प्रियजन स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहा होता है तो पॉलिसी आपके लिए कम-से-कम पैसों की चिंता थोड़ी कम कर देती है. इसलिए जिस तरह आप अपनी बाइक या कार की समय-समय पर सर्विस करवाते हैं उसी तरह समयबद्ध तरीके से आपको अपनी पॉलिसी भी रिन्यू करवाते रहना चाहिए.

अगर एक बार आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी रिन्यू करवाने का ग्रेस पीरियड खत्म हुआ तो आपको फिर से नई पॉलिसी खरीदनी पड़ेगी. एक बार फिर से सारी प्रक्रियाएं दोहराना बहुत थकाऊ काम हो सकता है. इसलिए हमेशा पॉलिसी रिन्यू कराना याद रखें. साथ ही रिन्यू के वक्त कुछ चीजों की पुन: समीक्षा भी करें. मनीकंट्रोल में छपे बेशक.ओआरजी के सीईओ के लेख में ऐसी ही पांच बातों का जिक्र किया गया है.

ये भी पढ़ें- Post Office MIS: हर महीने होगी ₹4950 गारंटीड इनकम, जानें कितना करना है एकमुश्‍त निवेश

पॉलिसी की कवरेज
यह जरुरी नहीं स्वास्थ्य सेवाओं की जो कॉस्ट एक साल पहले थी वही इस साल भी रहेगी. मेडिकल ट्रीटमेंट दिन प्रति दिन महंगा होता जा रहा है. ऐसे में आपको यह देखना चाहिए क्या पॉलिसी की रकम को बढ़ाने की जरुरत है. अगर हां, तो आपको तुरंत अपना कवरेज अपडेट करना चाहिए. समय-समय पर पॉलिसी की रकम बढ़ाने से आप मुश्किल के वक्त आर्थिक रूप से बहुत हद तक तैयार रहेंगे.

नए ऐड ऑन्स देखें
पॉलिसी को रिन्यू करते समय आपको उसके साथ मिलने वाले ऐड ऑन्य को भी रिव्यू करना चाहिए. क्या आपकी पॉलिसी के साथ मिलने वाली अतिरिक्त सुविधाओं में कुछ बदलाव हुआ है लेकिन उसका फायदा आपको नहीं मिल रहा है. अगर ऐसा है तो आप अपने किसी सलाहकार से बात कर बीमादाता से नए ऐड ऑन्स मांग सकते हैं.

पॉलिसी पोर्ट करें
अगर आपको लगता है कि आपका मौजूदा बीमादाता बेहतर सेवाएं नहीं मुहैया करा पा रहा या फिर आपको किसी और कंपनी की पॉलिसी पसंद आई है जो आपकी मौजूदा पॉलिसी से बेहतर है तो आप रिन्यू के समय को पॉलिसी पोर्ट करने के मौके के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं. इसका मतलब है कि आप अपनी मौजूदा पॉलिसी किसी दूसरे बीमादाता के पास हस्तांतरित कर सकते हैं और आपको यहां जो बेनेफिट मिल रहे थे वे वहां ट्रांसफर हो जाएंगे. हालांकि, आपको बीमादाता बदलने से पहले अपने वर्तमान इंश्योरर को 45 दिन पहले बताना होगा.

ये भी पढ़ें- बस एक मिस कॉल! ये है PF बैलेंस की जानकारी तुरंत पाने का सबसे आसान और सुपरफास्ट तरीका

पॉलिसी टर्म बदलावों को देखें
वैसे तो हर बीमादाता को कोई भी बदलाव करने से 90 दिन पहले आपको सूचना देनी होती है. लेकिन फिर भी रिन्यू के समय पॉलिसी में किसी भी बदलाव पर आपको नजर रखनी चाहिए. अगर इंश्योरर ने कुछ ऐसा बदलाव किया है जो आपको पसंद नहीं है तो आप अपनी पॉलिसी पोर्ट कर सकते हैं.

मेंबर्स को जोड़े हटाएं
अगर आप अपनी पॉलिसी में किसी को जोड़ना या फिर हटाना चाहते हैं तो रिन्यू के समय ऐसा कर सकते हैं. उदाहरण के लिए अगर आपकी हाल में शादी या फिर संतान हुई है तो आप उन्हें ऐड कर सकते हैं. वहीं, फैमिली में किसी के देहांत की सूरत में आप उन्हें पॉलिसी से हटा सकते हैं.

Tags: Health insurance cover

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर