IPO के नाम रही साल की पहली तिमाही, 17 कंपनियों ने जुटाए 18800 करोड़ रुपये

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

IPO Market in January-March 2021: आईपीओ के जरिए कंपनियां अपने विस्तार या वर्किंग कैपिटल के लिए जरूरी फंड जुटाती हैं. इसके जरिए वह शेयर बाजार में लिस्ट होती हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. साल 2021 की पहली तिमाही इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग यानी आईपीओ (Initial Public Offer) के नाम रही है. जनवरी से मार्च के बीच 17 कंपनियों के आईपीओ जारी हुए हैं. इन कंपनियों ने आईपीओ (IPO) से कुल 18,800 करोड़ रुपये जुटाए हैं. यह 2018 मार्च तिमाही के बाद से सबसे ज्यादा है. 2018 की मार्च तिमाही में 14 आईपीओ जारी किए गए थे और 19,275 करोड़ रुपये जुटाए गए थे.

इंडियाफर्स्ट लाइफ इंश्योरेंस कंपनी की सीआईओ पूनम टंडन ने बताया, ''पहले भी हमने देखा है कि लिक्विडिटी बढ़ने के कारण आईपीओ मार्केट सहित फंड जुटाने की दूसरी कोशिशों में तेजी आएगी. आईपीओ के जरिए कंपनियां कम खर्च में ज्यादा फंड जुटा लेती हैं. इस फाइनेंशियर में आगे भी यह तेजी जारी रहेगी."

ये भी पढ़ें- OLA Money SBI Credit Card: ओला राइड पर पाएं 7 फीसदी कैशबैक, होटल बुकिंग पर 10% कैशबैक, जानें अन्य फीचर्स

आईपीओ के जरिए फंड जुटाती हैं कंपनियां
आईपीओ के जरिए कंपनियां अपने विस्तार या वर्किंग कैपिटल के लिए जरूरी फंड जुटाती हैं. इसके जरिए वह शेयर बाजार में लिस्ट होती हैं.

इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन के आईपीओ से हुई थी तिमाही की शुरुआत

मार्च तिमाही की शुरुआत इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन के आईपीओ से हुई थी. यह इंडियन रेलवे की फाइनेंस सब्सिडियरी कंपनी है. इसने आईपीओ के जरिए 4,633.38 करोड़ रुपये जुटाए हैं जो इस तिमाही में सबसे ज्यादा है.



ब्रूकफील्ड इंडिया रियल एस्टेट ट्रस्ट ने जुटाए 3800 करोड़ रुपये 

ब्रूकफील्ड इंडिया रियल एस्टेट ट्रस्ट ने 3800 करोड़ रुपये जुटाए हैं जो दूसरा सबसे बड़ा नंबर है. यह भारत की इकलौती इंस्टीट्यूशनली मैनेज्ड पब्लिक कमर्शियल रियल एस्टेट कंपनी है जो ब्रूकफील्ड एसेड मैनेजमेंट से एफिलिएटेड है. तीसरे नंबर पर इंडिगो पेंट्स, होम फ़र्स्ट फाइनेंस कंपनी और कल्याण ज्वैलर्स है. इन्होंने 1150 करोड़ रुपये से ज्यादा फंड जुटाया है.

इन कंपनियों के आए आईपीओ

इसके अलावा स्टोक क्राफ्ट, रेलटेल कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, हेरानबा इंडस्ट्रीज, एमटीएआर टेक, ईजी ट्रिप प्लानर्स, अनुपम रसायन, क्राफ्ट्समैन ऑटोमेशन, लक्ष्मी ऑर्गेनिक, नज़ारा टेक, सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक और बारबेक्यू नेशन ने आईपीओ के जरिए 400 रुपये से लेकर 800 रुपये जुटाए हैं. मेनबोर्ड आईपीओ में सबसे कम फंड जुटाने वाली कंपनी न्यूरेका रही है. हेल्थकेयर और वेलनेस प्रोडक्ट डिस्ट्रीब्यूटर कंपनी ने 100 करोड़ रुपये जुटाए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज