Home /News /business /

कमाई का शानदार मौका! जानें Bharat Bond ETF से जुड़ी सभी जरूरी बातें

कमाई का शानदार मौका! जानें Bharat Bond ETF से जुड़ी सभी जरूरी बातें

हर महीने हो रही लाखों में कमाई

हर महीने हो रही लाखों में कमाई

बहुत जल्द भारत बॉन्ड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) लॉन्च होने वाला है. ऐसे में निवेशकों के पास मौका है कि वे इसमें निवेश कर मोटी कमाई कर सकते हैं.

    नई दिल्ली. बहुत जल्द निवेशकों (Investors) को कमाई करने का एक शानदार मौका मिलने वाला है, क्योंकि भारत बॉन्ड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) लॉन्च होने जा रहा है. हालांकि, म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) निवेशक समेत कई लोग इस बॉन्ड ईटीएफ (Bond ETF) के बारे में जरूरी बातें नहीं जानते हैं. ऐसे में आपको इसे लेकर कोई चिंता करने की बात नहीं है. हम आपको भारत बॉन्ड ईटीएफ से जुड़ी कई अहम जानकारियां दे रहे हैं. तो आइए जानते हैं भारत बॉन्ड ईटीएफ के बारे में.

    क्या होता है ETF?
    ईटीएफ यानी एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (Exchange Traded Fund) कई तरह की सिक्योरिटीज में निवेश (Investment In Securities) करता है जो किसी विशेष इंडेक्स को ट्रैक करता है. ईटीएफ म्यूचुअल फंड की तरह ही होते हैं. इसमें सबसे बड़ा अंतर यही है कि इसे स्टॉक एक्सचेंज (Stock Exchange) के माध्यम से ही खरीदा या बेचा जा सकता है. जैसे आप किसी भी स्टॉक को खरीदते हैं, वैसे ही आप ETF को भी एक्सचेंज से ट्रेडिंग के समय खरीद सकते हैं.

    ये भी पढ़ें: 165 रुपये/किलो तक प्याज का भाव, दिसंबर में नहीं मिलेगी कोई राहत



    बॉन्ड ईटीएफ क्या होता है
    बॉन्ड ईटीएफ किसी एक इंडेक्स बॉन्ड्स में निवेश किया जाता है. बॉन्ड ईटीएफ सरकारी बॉन्ड, कॉरपोरेट बॉन्ड अया पब्लिक सेक्टर बॉन्ड में निवेश कर सकता है.

    क्या है बॉन्ड ईटीएफ की कीमत
    एक बॉन्ड ईटीएफ एक डेट फंड के मुकाबले अधिक सस्ता होता है. भारत बॉन्ड ईटीएफ की बात करें तो यह 0.0005 फीसदी ही चार्ज करेगा. एडेलवाइज म्यूचुअल फंड (Edelweiss Mutual Fund) ने दावा किया है कि यह भारत में सबसे सस्ता म्यूचुअल फंड प्रोडक्ट है. यहीं नहीं, पूरी दुनिया के मुकाबले यह सबसे सस्ता डेट फंड प्रोडक्ट है. एडेलवाइज म्यूचुअल फंड को भारत बॉन्ड ईटीएफ मैनेज का अधिकार मिला है.

    ये भी पढ़ें: लगातार दूसरे दिन घटा सोने का भाव, फटाफट जानिए आज के नए रेट्स

    भारत बॉन्ड ईटीएफ की अवधि क्या है
    बॉन्ड किसी तय अवधि की मैच्योरिटी की अवधि के हिसाब से होता है. इसमें शॉर्ट टर्म, मीडियम टर्म और लॉन्ग टर्म शामिल है. हालांकि, कुछ बॉन्ड्स की तय प​रिभाषित अवधि है. जैसे भारत बॉन्ड ईटीएफ की दो तय अवधि है. इसमें पहली अवधि 3 साल की और दूसरी अवधि 10 साल की है. इन तरह के ईटीएफ को टार्गेट मैच्योरिटी बॉन्ड ईटीएफ कहा जाता है. यह फिक्स्ड टर्म मैच्योरिटी प्लान की तरह ही होते हैं, लेकिन इसमें कभी भी समय लिक्विडी की सुविधा होती है.



    बॉन्ड ईटीएफ में टैक्स का क्या असर
    बॉन्ड ईटीएफ पर किसी भी डेट म्यूचुअल फंड के आधार पर ही टैक्स देय होता है. 36 महीनों से अधिक तक निवेश पर 20 फीसदी कैपिटल गेन टैक्स देना होता है. वहीं, 36 महीनों से कम अवधि के लिए उतना ही टैक्स देना होगा, जितना आपके टैक्स स्लैब में बनता है.

    ये भी पढ़ें: GST स्लैब की दरों में होने जा रहा बड़ा बदलाव! महंगी हो जाएंगी ये चीजें

    बॉन्ड ईटीएफ में कैसे निवेश करें?
    बॉन्ड ईटीएफ में निवेश के लिए आपको ​डीमैट अकाउंट की जरूरत होगी. म्यूचुअल फंड इन्वेस्टर्स के पास फंड ऑफ फंड के जरिए निवेश करने का विकल्प होगा. भारत बॉन्ड ईटीएफ के फंड ऑफ फंड में आप एडेलवाइज एएमसी के जरिए निवेश कर सकते हैं.

    Tags: Bombay stock exchange, Business news in hindi, ETF, Mutual fund, Mutual fund investors

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर