Home /News /business /

BharatPe से अशनीर ग्रोवर की पत्‍नी माधुरी जैन ग्रोवर बर्खास्त, शेयर भी छीने, जानें लगाए गए हैं कौन से 5 आरोप?

BharatPe से अशनीर ग्रोवर की पत्‍नी माधुरी जैन ग्रोवर बर्खास्त, शेयर भी छीने, जानें लगाए गए हैं कौन से 5 आरोप?

BharatPe ने अशनीर ग्रोवर की पत्‍नी माधुरी ग्रोवर को वित्‍तीय अनियमितताओं के आरोप में बर्खास्‍त कर दिया है.

BharatPe ने अशनीर ग्रोवर की पत्‍नी माधुरी ग्रोवर को वित्‍तीय अनियमितताओं के आरोप में बर्खास्‍त कर दिया है.

BharatPe sacks co-founder Grover’s wife : फिनटेक कंपनी भारतपे ने अपने कंट्रोल्स डिपार्टमेंट की प्रमुख, सह-संस्थापक व प्रबंध निदेशक (अशनीर ग्रोवर की पत्‍नी माधुरी जैन ग्रोवर (Madhuri Jain Grover) को वित्तीय अनियमितताओं के आरोप में बर्खास्‍त कर दिया.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. फिनटेक कंपनी भारतपे (‍BharatPe) ने अपने कंट्रोल्स विभाग की प्रमुख, सह-संस्थापक व प्रबंध निदेशक (Co-Founder and Managing Director) अशनीर ग्रोवर (Ashneer Grover) की पत्‍नी माधुरी जैन ग्रोवर (Madhuri Jain Grover) को वित्तीय अनियमितताओं के आरोप में बर्खास्‍त कर दिया है. उनसे कंपनी के शेयर भी छीन लिए गए हैं. माधुरी पर पर्सनल ब्यूटी ट्रीटमेंट, इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों की खरीद और विदेश यात्रा के लिए कंपनी के फंड का इस्तेमाल करने का आरोप है.

    भारतपे के एक प्रवक्ता ने बुधवार को माधुरी जैन ग्रोवर की 22 फरवरी से बर्खास्ती की पुष्टि की, लेकिन इसकी वजह नहीं बताई. मामले से जुड़े सूत्रों ने बताया कि भारतपे ने 24 अनवेस्टेड और 56 वेस्टेड कर्मचारी स्टॉक विकल्पों (ESOPs) को भी निरस्त कर दिया है. उन्हें पिछले महीने ही प्रबंधन ने छुट्टी पर भेज दिया था. ग्रोवर दंपति से जुड़े विवाद सामने आने के बाद कंपनी प्रबंधन ने जोखिम सलाहकार फर्म अल्वारेज एंड मार्शल को कामकाज का रिव्यू करने को कहा था. भारतपे के देश के 150 शहरों में 75 लाख से ज्यादा मर्चेंट हैं. निवेशकों में टाइगर ग्लोबल, ड्रैगोनीर इनवेस्टमेंट समूह, स्टीडफास्ट कैपिटल, रैबिट कैपिटल शामिल हैं.

    ये भी पढ़ें – Chinese Apps Banned: चीन के ऐप पर प्रतिबंध लगाने से कितना प्रभावित हुआ भारतीय कारोबार, Finance Minister ने दिया बड़ा अपडेट

    समीक्षा में माधुरी पर क्‍या आरोप लगे?

    – माधुरी जैन ने कथित तौर पर गोपनीय जानकारियां (Confidential Information) साझा कीं, जिसके इस्तेमाल से उनके पिता और भाई ने घोटाले (Scams) किए.
    – अप्रैल 2021 में उन्होंने अपने चेहरे का ट्रीटमेंट (Beauty Treatment) कराया. अपने घर के लिए दो टेलीविजन (एलईडी टीवी और 65-इंच की सोनी ब्राविया) के साथ फ्रिज खरीदा. इन सबका भुगतान कंपनी के खातों से किया.
    – अमेरिका व दुबई की पारिवारिक यात्रा (Family Trip) के लिए कंपनी के फंड का इस्तेमाल किया.
    – अपने निजी स्टाफ को भुगतान भी कंपनी के खातों से किया और परिचित लोगों से फर्जी रसीदें (Fake Receipts) बनवाकर पेश कीं.
    – अक्टूबर 2018 से भारतपे की वित्तीय प्रभारी माधुरी ने खुद इन बिलों को मंजूरी दी थी.

    ये भी पढ़ें- LIC IPO : अगले महीने आने वाले पब्लिक ऑफर में PMJJBY के पॉलिसीधारकों को नहीं मिलेगी छूटएलआईसी ने जारी किया स्पष्टीकरण

    अशनीर क्‍यों गए हैं तीन महीने की छुट्टी पर?

    कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) के एक कर्मचारी के साथ अभद्र भाषा के इस्तेमाल की जानकारी सामने आने के बाद माधुरी के पति अशनीर ग्रोवर भी तीन महीने की छुट्टी पर चल रहे हैं. हालांकि, उन्होंने इन सभी आरोपों से इनकार किया है.

    ये भी पढ़ें- ITR Verification करने को बचे हैं बस कुछ दिनजल्‍द कर लें ये कामचूक गए तो होगी बहुत मुश्किल

    अशनीर ने चेयरमैन पर क्‍या आरोप लगाया?

    तनातनी के बीच अशनीर ग्रोवर ने भारतपे बोर्ड के चेयरमैन रजनीश कुमार पर पक्षपात करने और कंपनी के सह-संस्थापक भाविक कोलाडिया पर बुरा बर्ताव करने का आरोप लगाया है. उन्होंने यह भी कहा कि वह इस मामले में कानूनी कार्रवाई करने का अधिकार सुरक्षित रखना चाहते हैं. अशनीर ने 22 फरवरी 2022 को भारतपे की पैरेंट कंपनी रेजिलिएंट इनोवेशंस के बोर्ड को लिखे पत्र में कहा, कोलाडिया ने उन्हें फोन कर मिलने बुलाया और मीटिंग का एजेंडा नहीं बताया. कोलाडिया का जब फोन आया, उस वक्त रजनीश भी उनके साथ थे. वजह पूछने पर कोलाडिया ने उनके साथ बुरा बर्ताव किया और अपशब्दों का इस्तेमाल किया. हालांकि, रजनीश ने अशनीर के सभी आरोप को गलत बताया है.

    Tags: Business news in hindi, Digital payment

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर