कोरोना ने किया गरीबों का बुरा हाल, कमाई नहीं होने की वजह से दो तिहाई बढ़ा कर्ज: सर्वे

कोरोना ने किया गरीबों का बुरा हाल, कमाई नहीं होने की वजह से दो तिहाई बढ़ा कर्ज: सर्वे
कोरोना ने किया गरीबों का बुरा हाल, कमाई नहीं होने की वजह से दो तिहाई बढ़ा कर्ज: सर्वे

कोरोना (Coronavirus Effect) का कहर गरीबों को ले डूबा है. एक सर्वे में ये बात सामने आई है कि कोरोने से करीब 40 फीसदी गरीब परिवार कर्जे (40 percent families are in debt) के जाल में फंस गए हैं. आधे से ज्यादा परिवारों में कमाने वालों की नौकरी चली गई.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना (Coronavirus Effect) का कहर गरीबों को ले डूबा है. एक सर्वे में ये बात सामने आई है कि कोरोने से करीब 40 फीसदी गरीब परिवार कर्जे (40 percent families are in debt) के जाल में फंस गए हैं. आधे से ज्यादा परिवारों में कमाने वालों की नौकरी चली गई. निम्न आय वर्ग पर Corona और Lockdown की परेशान करने वाली तस्वीर सामने आई है. हालांकि PDSऔर कैश ट्रांसफर स्कीम से कुछ गरीब परिवारों को राहत मिली है. बता दें कि ये Dalberg-Kantar की ये सर्वे रिपोर्ट 5 अप्रैल से 3 जून तक के बीच किए गए कुल 47000 परिवारों के Survey पर आधारित है.

ये भी पढ़ें:- August में 17 दिन बंद रहेंगे Bank, यहां चेक करें छुट्टियों की पूरी List

कोरोना काल में कमाई से दो तिहाई ज्यादा कर्ज का बोझ बढ़ा
Dalberg-Kantar की सर्वे रिपोर्ट से पता चलता है कि कम आय समूह (LIG) पर कोरोना का कहर सबसे ज्यादा बरपा है. इस वर्ग में हर 4 में से 3 शख्स की नौकरी गई है. हर 5 में 2 शख्स कर्ज के बोझ से दबा है. इस सर्वें से ये भी निकल कर आया है कि कोरोना काल में कमाई से दो तिहाई ज्यादा कर्ज का बोझ बढ़ा है.
ये भी पढ़ें:- चलती ट्रेन से गिरा यात्री, सुरक्षा बल से बचायी जान, देखें VIDEO



कोरोना के चलते लागू लॉकडाउन की वजह से शहरी इलाकों में 80 फीसदी लोग बेरोजगार हुए हैं. हालांकि PDS और कैश ट्रांसफर से थोड़ी मदद मिली है. 10 में 9 लोगों को PDS से सरकारी राशन मिला है. 14 फीसदी को कैश ट्रांसफर से मदद नहीं मिली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading