लाइव टीवी

कोरोना वायरस के चलते म्यूचुअल फंड में निवेशकों को नुकसान, एक महीन में 25 फीसदी कम रिटर्न

भाषा
Updated: March 22, 2020, 5:39 PM IST
कोरोना वायरस के चलते म्यूचुअल फंड में निवेशकों को नुकसान, एक महीन में 25 फीसदी कम रिटर्न
बाजार में बिकवाली से म्यूचुअल फंड रिटर्न में अब 25 फीसदी तक की गिरावट आई है.

आईफास्ट फाइनेशियल इंडिया में वरिष्ठ शोध विश्लेषक कृष्णा करवा ने कहा कि COVID-19 महामारी के आर्थिक असर से देश की प्रमुख 44 म्यूचुअल फंड कंपनियां भी बच नहीं सकी हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. इक्विटी आधारित म्यूचुअल फंड (Equity Mutual Fund) योजनाओं में निवेश करने वाले निवेशकों का रिटर्न पिछले एक महीने में 25 प्रतिशत गिरा है. कोरोना वायरस महामारी के चलते मंदी की आशंका से बाजार में भारी गिरावट देखने को मिली है.

आईफास्ट फाइनेशियल इंडिया में वरिष्ठ शोध विश्लेषक कृष्णा करवा ने कहा कि COVID-19 महामारी के आर्थिक असर से देश की प्रमुख 44 म्यूचुअल फंड कंपनियां भी बच नहीं सकी हैं.

यह भी पढ़ें: कोरोना के डर से कहीं आपने तो बंद नहीं की म्युचूअल फंड्स SIP, जानें अब क्या

छोटी और मिडकैप इक्विटी पर सबसे अधिक दबाव



बाजार में अस्थिरता के कारण छोटी से मध्यम अवधि के दौरान छोटी और मिड-कैप इक्विटी योजनाएं दबाव में रहेंगी. मॉर्निंग स्टार इंडिया के आंकड़ों के अनुसार इक्विटी योजना श्रेणी में सभी इक्विटी आधारित बचत योजनाओं (ईएलएसएस), स्मॉल कैप, मिडकैप और लार्ज-कैप योजनाओं ने 19 फरवरी से 18 मार्च 2020 के बीच 25-26 प्रतिशत के बीच नकारात्मक प्रतिफल दिया है.

बाजार में भारी गिरावट का दौर
इसी अवधि के दौरान बीएसई सेंसेक्स लगभग 30 प्रतिशत गिर गया. कोरोना वायरस महामारी और अन्य कारणों के चलते सूचकांक 41,000 के स्तर से गिरकर 29,000 के स्तर तक नीचे आ गया. मॉर्निंग स्टार के शोध निदेशक कौस्तुभ बेलापुरकर ने कहा, ‘‘हमने बाजार में इस तरह की गिरावट कई बार देखी है. निराशावाद कुछ समय तक बना रह सकता है, क्योंकि कोरोना वायरस के प्रसार को लेकर अनिश्चित स्थिति है. लेकिन जैसा कि हमने पहले भी देखा है, लंबी अवधि में बाजार ठीक हो जाएगा.’’

यह भी पढ़ें: इस राज्य में पेट्रोल-डीजल हो गए महंगे, सरकार ने बढ़ाया 4% वैट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 22, 2020, 5:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर