Franklin में पैसा लगाने वाले निवेशकों के लिए खुशखबरी! कंपनी के किया जल्द से जल्द पैसा वापस करने का ऐलान

Franklin में पैसा लगाने वाले निवेशकों के लिए खुशखबरी! कंपनी के किया जल्द से जल्द पैसा वापस करने का ऐलान
करोड़ों पॉलिसीधारकों को झटका! इस वजह से लगभग डबल हो सकता है इश्योरेंस प्रीमियम

फ्रैंकलिन टेंपलटन (Franklin Templeton) म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) ने सोमवार को कहा कि वह निवेशकों का पैसा जल्द से जल्द लौटाने का प्लान तैयार किया जा रहा है. कंपनी ने हाल में नकदी संकट के चलते अपनी छह बांड योजनाओं को बंद कर दिया.

  • Share this:
नई दिल्ली. फ्रैंकलिन टेंपलटन (Franklin Templeton) म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) ने सोमवार को कहा कि वह निवेशकों का पैसा जल्द से जल्द लौटाने का प्लान तैयार किया जा रहा है. कंपनी ने हाल में नकदी संकट के चलते अपनी छह बांड योजनाओं को बंद कर दिया. कंपनी ने कहा कि योजनाओं को बंद करने का मतलब निवेशकों का पैसा डूबना नहीं है.

फ्रैंकलिन टेंपलटन एसेट मैनेजमेंट (इंडिया) के अध्यक्ष संजय सप्रे ने निवेशकों को भेजे एक संदेश में कहा कि जो योजनाएं बंद की गयी हैं, हम उनके निवेशकों को जल्द से जल्द पैसा लौटाने के लिए प्रतिबद्ध हैं. साथ ही यह हमारे ब्रांड में निवेश करने वालों के विश्वास को बहाल करने की भी कोशिश है.

ये भी पढ़ें: सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट उम्र 60 से हो जाएगी 50! जानिए हकीकत



ये फंड हुए बंद
कंपनी ने शुक्रवार को फ्रैंकलिन इंडिया लो ड्यूरेशन फंड, फ्रैंकलिन इंडिया डायनेमिक एक्यूरल फंड, फ्रैंकलिन इंडिया क्रेडिट रिस्क फंड, फ्रैंकलिन इंडिया शॉर्ट टर्म इनकम प्लान, फ्रैंकलिन इंडिया अल्ट्रा शॉर्ट बॉन्ड फंड और फ्रैंकलिन इंडिया इनकम अपॉर्चुनिटीज फंड जैसी छह बांड योजनाएं बंद करने की घोषणा की थी.

छह योजनाओं में निवेशकों की 25,000 करोड़ रुपये फंसे
इन छह योजनाओं में निवेशकों की 25,000 करोड़ रुपये से अधिक की फंसी है. कंपनी ने बांड बाजार में नकदी की कमी का हवाला देते हुए इन योजनाओं को स्वयं से बंद करने की पहल की है. उन्होंने कहा कि यह निर्णय ग्राहकों के हित को ध्यान में रखकर लिया गया है. सप्रे ने कहा कि फ्रैंकलिन टेंपलटन ने भारत में बहुत पहले काम शुरू किया था. कंपनी ने यहां 25 साल से अधिक अवधि में दीर्घावधि कारोबार खड़ा किया है. उसके कुल वैश्विक कार्यबल का 33 प्रतिशत से अधिक भारत में रहता है. उन्होंने कहा कि कंपनी के वैश्विक मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेनी जॉनसन ने भी कहा है कि कंपनी भारत को लेकर प्रतिबद्ध है.

ये भी पढ़ें: Lockdown खुलने के बावजूद मई में 13 दिन बैंक रहेंगे Bank, यहां चेक करें लिस्ट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading