लाइव टीवी

6.3 करोड़ EPF खाताधारकों को होली से पहले मिला तोहफा! इस शर्त पर मिलेगी ज्यादा पेंशन

News18Hindi
Updated: February 25, 2020, 9:51 AM IST
6.3 करोड़ EPF खाताधारकों को होली से पहले मिला तोहफा! इस शर्त पर मिलेगी ज्यादा पेंशन
15 साल बाद पूरी पेंशन निकालने का ऑप्शन चुना

श्रम मंत्रालय ने 20 फरवरी, 2020 को एक अधिसूचना में कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) योजना के तहत उन पेंशनभोगियों को ज्यादा पेंशन मिलेगी जिन्होंने सेवानिवृत्ति के 15 साल बाद पूरी पेंशन को निकालने की सुविधा को ऑप्ट किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2020, 9:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. श्रम मंत्रालय ने 20 फरवरी, 2020 को एक अधिसूचना में कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) योजना के तहत उन पेंशनभोगियों (pensioners) को ज्यादा पेंशन मिलेगी, जिन्होंने सेवानिवृत्ति के 15 साल बाद पूरी पेंशन को निकालने की सुविधा का विकल्प चुना है. ये नियम उनके लिए है, जिन्होंने सेवानिवृत्ति के समय अपनी पेंशन का कुछ हिस्सा कम किया. श्रम मंत्रालय ने कहा कि कर्मचारी ​भविष्य निधि संगठन (EPFO) के कर्मचारी पेंशन योजना के तहत पेंशन कोष से एक मुश्त आंशिक निकासी यानी 'कम्युटेशन' की सुविधा अब प्राप्त कर सकेंगे.

क्या है अग्रिम पेंशन की सुविधा
इस सुविधा के तहत पेंशनधारक को अग्रिम में पेंशन का एक हिस्सा एकमुश्त दे दिया जाता है. उसके बाद अगले 15 साल के लिये उसकी मासिक पेंशन में एक तिहाई की कटौती की जाती है. 15 साल बाद पेंशनभोगी पूरी पेंशन लेने के लिये पात्र होते हैं.

ये भी पढ़ें: PF खाते से अपना पैसा निकालने पर देना होता हैं टैक्स, जानिए नियम को...



6.3 लाख पेंशनभोगियों के ​लिए प्रस्ताव को मंजूरी
ईपीएफओ का निर्णय लेने वाला शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड ने 21 अगस्त 2019 को हुई बैठक में इस सुविधा का लाभ लेने वाले 6.3 लाख पेंशनभोगियों को 'कम्युटेशन' प्रावधान बहाल करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी. केंद्रीय न्यासी बोर्ड के अध्यक्ष श्रम मंत्री हैं.

EPFO की एक समिति ने आंशिक निकासी के 15 साल बाद पेंशन राशि बहाल करने को लेकर EPFC-95 में संशोधन की सिफारिश की थी. पेंशन 'कम्युटेशन' को बहाल करने की मांग थी. इससे पहले, EPS-95 सदस्यों को 10 साल के लिये पेंशन मद में से एक तिहाई राशि निकालने की अनुमति थी. इसे 15 साल बाद बहाल किया गया है. यह सुविधा सरकारी कर्मचारियों के लिये पहले से चली आ रही है.

क्या होता है EPF?
आपको बता दें कि एम्प्लॉइज प्रॉविडेंट फंड (Employee Provident Fund) यानी EPF सैलरी पाने वाले कर्मचारियों को रिटायरमेंट के बाद आर्थिक फायदा देने वाली स्कीम है, जो एम्प्लॉइज़ प्रॉविडेंट फंड ऑर्गनाइजेशन द्वारा चलाई जाती है. इसकी ब्याज दरें सरकार तय करती है. हर महीने कंपनी सभी कर्मचारियों की बेसिक सैलरी से 12 फीसदी पैसा काटकर PF के खाते में डाल देती है. कर्मचारियों के साथ-साथ कंपनी की ओर से भी 12 फीसदी पैसा उस कर्मचारी के PF खाते में डाला जाता है.

ये भी पढ़ें: ₹6000 वाली PM-Kisan के साथ साथ लाखों के फायदे पाने का आखिरी मौका!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 9:46 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर