लाइव टीवी

दिसंबर की छुट्टियों में घूमने जाने से पहले अपनी कार पर जरूर लगवाएं ये स्टिकर, वरना चुकाना होगा डबल टोल

News18Hindi
Updated: November 22, 2019, 3:04 PM IST
दिसंबर की छुट्टियों में घूमने जाने से पहले अपनी कार पर जरूर लगवाएं ये स्टिकर, वरना चुकाना होगा डबल टोल
1 दिसंबर (1 December) के बाद आपको हाईवे (Highway) पर चलते समय आपको थोड़ा सजग रहने की जरूरत है. जानिए क्यों?

1 दिसंबर (1 December) के बाद आपको हाईवे (Highway) पर चलते समय आपको थोड़ा सजग रहने की जरूरत है. जानिए क्यों?

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2019, 3:04 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सर्दियों ने दस्तक दे दी है और मौसम सुहाना हो चला है. जल्द ही दिसंबर आने वाला है और इसी के साथ आप न्यू ईयर और क्रिसमस को लेकर एक्साइटेड भी हो जाएंगे. सर्दियों के लिए वेकेशन प्लान करने का यही सही समय है. इसीलिए आज हम आपको एक महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं. दरअसल 1 दिसंबर (Fast) के बाद आपको हाईवे (Highway) पर चलते समय थोड़ा सजग रहने की जरूरत है. क्योंकि यदि कोई वाहन बिना फास्टैग के टोल प्लाजा (Toll Plaza) की फास्टैग लेन (FastTag) से गुजरता है, तो उस वाहन चालक को दोगुना टोल भुगतान करना होगा.

1 दिसंबर के बाद चुकाना होगा डबल टोल- केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को ये बड़ा ऐलान किया है. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की प्रमुख पहल नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (NETC) के तहत 1 दिसंबर से टोल भुगतान गेट से केवल फास्टैग के जरिये ही भुगतान होगा.

उन्होंने कहा कि जिन वाहनों में फास्टैग नहीं लगा होगा, उन्हें फास्टैग वाहनों के लिए बनी लेन से निकलने पर दोगुनी राशि चुकानी होगी. हालांकि, टोल प्लाजा पर एक लेन ऐसी भी होगी, जहां बिना-टैग वाले वाहनों से सामान्य टोल ही वसूला जाएगा. गडकरी ने कहा कि देशभर के राष्ट्रीय राजमार्गों पर 537 टोल प्लाजा पर बिना फास्टैग के वाहनों के फास्टैग वाली लेन से गुजरने पर एक दिसंबर से दोगुना शुल्क देना होगा.

ये भी पढ़ें: नो पार्किंग में खड़ी गाड़ियों की फोटो खींचकर भेजें, सरकार आपको देगी पैसा!

फास्टैग है क्या?
फास्टैग वाहनों पर एक इलेक्ट्रॉनिक तरह से पढ़ा जाने वाला टैग लगा दिया जाता है. इसके बाद वाहन जब किसी टोल प्लाजा से गुजरता है, तो वहां लगी मशीन उस टैग के जरिए इलेक्ट्रॉनिक तरीके से शुल्क वसूल कर लेती है. इससे वाहनों को चुंगी शुल्क गेट पर रुक कर नगद भुगतान नहीं करना होता. गडकरी ने कहा कि फास्टैग को लोकप्रिय बनाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) एक दिसंबर तक इसे निशुल्क वितरित कर रहा है.

हालांकि, फास्टैग को वाहन चालक को अपनी जरूरत के मुताबिक, चार्ज कराना होगा, ताकि टोल प्लाजा से निकलते समय उससे टोल राशि का भुगतान पूरा किया जा सके. 1 दिसंबर के बाद एनएचएआई फास्टैग के लिए राशि लेगा. गडकरी ने कहा कि अगले पांच साल में एनएचएआई की सालाना आय बढ़कर एक लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाने की उम्मीद है. अगले दो साल में एनएचएआई का टोल राजस्व 30 हजार करोड़ रुपये तक पहुंच जाने का अनुमान है.
Loading...

ये भी पढ़ें: हर महीने करना चाहते हैं 1 लाख रुपये तक की कमाई तो शुरू करें ये खास बिजनेस

इस नंबर पर मिलेगी फास्टैग की जानकारी-(Fastag Toll Free Number) की जानकारी टोल फ्री नंबर 1033 से ली जा सकती है. उन्होंने कहा कि दिल्ली एनसीआर के 50 पेट्रोल पंप पर भी फास्टैग उपलब्ध है. फास्टैग को जीएसटी से जोड़ने की भी योजना है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 22, 2019, 12:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...