• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • इस कंपनी ने बनाई कोरोना संक्रमण से बचाने वाली चटाई! जानिए इसकी खासियत

इस कंपनी ने बनाई कोरोना संक्रमण से बचाने वाली चटाई! जानिए इसकी खासियत

KSCC ने नारियल के जट्टे की चटाइयां (क्वॉयर मैट्स) बनाई हैं जिनमें सेनेटाइजेशन की सुविधा है.

KSCC ने नारियल के जट्टे की चटाइयां (क्वॉयर मैट्स) बनाई हैं जिनमें सेनेटाइजेशन की सुविधा है.

केरल स्टेट क्वॉयर कॉर्पोरेशन (KSCC-Kerala State Coir Corporation) ने नारियल के जट्टे की चटाइयां (क्वॉयर मैट्स) बनाई हैं जिनमें सेनेटाइजेशन की सुविधा है. इस खासियत के कारण ये चटाइयां जूते-चप्पलों के जरिए घरों में कोरोना को आने से रोकने में सक्षम हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण (Coronavirus Pandemic) से आम आदमी को बचाने के लिए रोजोना नए-नए इनोवेशन हो रहे हैं. इसी कड़ी में केरल सरकार (Government of Kerala) की एक कंपनी केरल स्टेट क्वॉयर कॉर्पोरेशन (KSCC-Kerala State Coir Corporation) भी जुड़ गई है. KSCC ने नारियल के जट्टे की चटाइयां (क्वॉयर मैट्स) बनाई हैं, जिनमें सैनेटाइजेशन की सुविधा है. इस खासियत के कारण ये चटाइयां जूते-चप्पलों के जरिए घरों में कोरोना (Anti-Covid Health Plus Mats) को आने से रोकने में सक्षम हैं. इससे लोगों को कोविड-19 से सुरक्षा मिलेगी तो दूसरी तरफ मंद पड़ी अर्थव्यवस्था में कारोबारी संकट से भी राहत मिलेगी. इन्हें ऐंटी कोविड हेल्थ प्लस मैट्स नाम दिया गया है.

    केरल के वित्त मंत्री थॉमस आइजैक (Finance Minister of Kerala, TM Thomas Issac) के मुताबिक, कोविड-19 के कारण नारियल के जट्टे से बने उत्पादों की घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजारों में मांग बिल्कुल कम हो गई तो नए आइडिया पर काम शुरू किया गया. इसकी कीमत 200 रुपये है.

    आइजैक ने कहा कि वित्त वर्ष 2020 में राज्य में क्वॉयर प्रॉडक्शन करीब तीन गुना बढ़कर 20 हजार टन हो गया, जबकि पड़ोसी राज्य तमिलनाडु में लॉकडाउन लगा रहा. केरल फाइबर की जरूरतों के लिए तमिलनाडु पर ही निर्भर है.

    जानिए खासियत के बारे में...

    अंग्रेजी के अखबार हिंदु बिजनेसलाइन की खबर के मुताबिक, नेशनल क्वॉयर रिसर्च ऐंड मैनेजमेंट (NCRMI) और श्रीचित्रा तिरुनल इंस्टिट्यूट फॉर मेडिकल साइंस ऐंड टेक्नॉलजी ने नारियल की नई चटाई को विकसित किया है.

    दोनों ने पिछले डेढ़ महीने में यह काम किया है. चूंकि इन चटाइयों में सैनिटाइजिंग सॉल्युशंस हैं, इसलिए इनपर जूते-चप्पल रगड़कर घर में प्रवेश करें तो कोरोना अंदर नहीं जा पाता है. इन चटाइयों की बिक्री एक किट के साथ होगी, जिसमें ट्रे और सैनिटाइजर होंगे.

    आइजैक ने कहा कि कंपनी नई चटाई का अलापूझा में फील्ड ट्रायल करेगी और जुलाई से इसकी बिक्री शुरू कर दी जाएगी. पहले चरण में ऐंटी कोविड हेल्थ प्लस चटाइयों को हरेक पंचायत, नगर निकाय और संबंधित संस्थानों में पहुंचाया जाएगा. दूसरे चरण में आम लोगों के लिए ये उपलब्ध होंगी.

    कंपनी क्वॉयर बोर्ड के साथ मिलकर कोविड-19 मरीजों के लिए क्वॉयर कॉट और यूज ऐंड थ्रो मैट्रेस भी बनाने का विचार भी कर रही है. ये प्रॉडक्ट्स किफायती दामों में उपलब्ध किए जाएंगे.

    ये भी पढ़ें-कोरोना संकट में घर बैठे 2 लाख रुपए में शुरू करें ये बिजनेस! हर महीने होगी 1 लाख से ज्यादा की कमाई 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज