Home /News /business /

Bitcoin ने दिया जबरदस्त रिटर्न: 1000 रुपये का निवेश बन गया 76 करोड़ से भी ज्यादा

Bitcoin ने दिया जबरदस्त रिटर्न: 1000 रुपये का निवेश बन गया 76 करोड़ से भी ज्यादा

यदि आपने इसमें ₹1000 निवेश किया होता तो बिटकॉइन के उच्चतम स्तर पर आपके पास 76.43 करोड़ रुपए होते.

यदि आपने इसमें ₹1000 निवेश किया होता तो बिटकॉइन के उच्चतम स्तर पर आपके पास 76.43 करोड़ रुपए होते.

Bitcoin return : 13 सालों के सफर में बिटकॉइन ने इतना ज्यादा रिटर्न दिया है कि भरोसा करना आसान नहीं है. हम आपको इसे प्रतिशत में कैलकुलेट करके नहीं बताएंगे, मगर आपको यह जरूर जानना चाहिए कि यदि आपने इसमें ₹1000 निवेश किया होता तो बिटकॉइन के उच्चतम स्तर पर आपके पास 76.43 करोड़ रुपए होते.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. Bitcoin Return : बिटकॉइन 13 साल का हो गया है. किशोर अवस्था (Teenage) में प्रवेश करने वाली यह पहली क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) बन गई है. कहा जाता है कि बिटकॉइन का श्वेतपत्र (Whitepaper of Bitcoin) सातोशी नाकामोतो (Satoshi Nakamoto) द्वारा 38 अक्टूबर 2008 में जारी किया गया था, परंतु कई लोग मानते हैं कि इसकी छपाई की तारीख 3 जनवरी, 2009 है. इस हिसाब से 3 जनवरी को ही इसका जन्मदिन माना गया है. यदि 2009 से कैलकुलेट करें तो ये करेंसी अब 13 साल की हो चुकी है. इन 13 सालों में बिटकॉइन ने जबरदस्त रिटर्न दिया है.

    Mudrex के सीईओ और सह-संस्थापक Edul Patel का कहना है कि बिटकॉइन दुनियाभर में क्रिप्टोकरेंसी और ब्लॉकचेन के उदय के पीछे का आधार स्तंभ (फाउंडेशन पिलर) रहा है.
    बिटकॉइन का ये 13 वर्षीय सफर एक रोलर-कोस्टर राइड की तरह रहा है. लेकिन एक खरी हकीकत ये है कि बिटकॉइन ने जबरदस्त रिटर्न दिया है. इतना रिटर्न शायद ही किसी दूसरे एसेट ने दिया हो.

    ये भी पढ़ें – Cryptocurrency prices today : क्रिप्टो बाजार में सब लाल-लाल, मगर PAPPAY ने 2 दिनों में दिया 1800% का रिटर्न

    अस्तित्व की लड़ाई लड़ती करेंसी

    Itsblockchain के फाउंडर हितेश मालवीय कहते हैं कि अपने 13 साल के सफर में बिटकॉइन कई बार मरा है और कई बार जिंदा हुआ है और अभी भी अपने अस्तित्क की लड़ाई लड़ रहा है. उन्होंने कहा कि पिछले 2 सालों में बिटकॉइन में निवेश करने वालों की प्रकार (टाइप) में काफी बड़ा अंतर आया है. भविष्य में कम अनुमानित रिटर्न की संभावना के चलते इस स्तर पर रिटेल की तुलना में अधिक संस्थागत निवेशकों (Institutional Investors) की रुचि देखते हैं. रिटेल में काम करने वालों के पास बाजार में कई अन्य विकल्प उपलब्ध हैं.

    बिटकॉइन की रिटर्न हिस्ट्री (Return history of Bitcoin)

    हालांकि, जब बिटकॉइन की शुरुआत हुई थी, तब से इसका रिटर्न कैलकुलेट नहीं किया जा सकता. ऐसा इसलिए क्योंकि जब यह इंट्रोड्यूस हुआ था तब इसकी कीमत शून्य थी. 2010 में इसका प्राइस बढ़कर 0.09 डॉलर हो गया. उसके बाद बात करें तो इसके प्राइस के उच्चतम स्तर की तो ये नवम्बर 2021 में बढ़कर 68,790 डॉलर हो गया था.

    ये भी पढ़ें – Gold Price Today : सोना है कि गिरता ही जा रहा, चांदी की चमक भी फीकी, जानिए ताजा रेट

    अपने 13 सालों के सफर में बिटकॉइन ने इतना ज्यादा रिटर्न दिया है कि भरोसा करना आसान नहीं है. हम आपको इसे प्रतिशत में कैलकुलेट करके नहीं बताने वाले. लेकिन आपको यह जरूर जानना चाहिए कि यदि आपने इसमें ₹1000 निवेश किया होता तो बिटकॉइन के उच्चतम स्तर पर आपके पास 76.43 करोड़ रुपए होते.

    बेशक, बिटकॉइन या कहें कि क्रिप्टोकरेंसी अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है, फिर भी अगर इसका रिटर्न देखा जाए तो बेहद उम्दा है. आज की कीमत के हिसाब से भी यदि आप कैलकुलेट करें तो आप पाएंगे कि तब का 1000 रुपया अब 51 करोड़ रुपये से ज्यादा होता.

    Tags: Bitcoin, Crypto Ki Samajh

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर