रेलयात्री ध्यान दें! अब ऑनलाइन ट्रेन का टिकट बुक करना आपकी जेब पर पड़ेगा भारी, इतने रुपए बढ़ेगा खर्च

ऑनलाइन रिजर्वेशन के लिए अब आपको ज्यादा पैसे खर्च करने होंगे. इसकी वजह है ई-टिकटों पर जो सर्विस चार्ज खत्म किया गया था, वह जल्द फिर से वसूला जाने लगेगा.

News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 3:41 PM IST
रेलयात्री ध्यान दें! अब ऑनलाइन ट्रेन का टिकट बुक करना आपकी जेब पर पड़ेगा भारी, इतने रुपए बढ़ेगा खर्च
ऑनलाइन रिजर्वेशन पर अब ज्यादा देना होगा चार्ज
News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 3:41 PM IST
भारत में लाखों लोग हर रोज रेलवे से यात्रा करते हैं. आपको बता दें कि रेलवे से यात्रा करना अब आपकी जेब पर भारी पड़ने वाला है. ऑनलाइन रिजर्वेशन के लिए अब आपको ज्यादा पैसे खर्च करने होंगे. इसकी वजह है ई-टिकटों पर जो सर्विस चार्ज खत्म किया गया था, वह जल्द फिर से वसूला जाने लगेगा. पहले स्लीपर क्लास के टिकट पर 20 रुपये और एसी बोगी में सीट के लिए 40 रुपये का सर्विस चार्ज देना पड़ता था. 3 अगस्त के रेलवे मंत्रालय के लेटर के मुताबिक, मंत्रालय ने संचालन लागत दोबारा वसूलने का फैसला किया है, जिसमें मार्केटिंग और बिक्री सेवाएं शामिल हैं.

नोटबंदी के ऐलान से पहले यानी नवंबर 2016 तक ई-टिकटों पर सर्विस चार्ज वसूला जाता था. आईआरसीटीसी सर्विस चार्ज के जरिए इकट्ठा रकम का इस्तेमाल ई-टिकटिंग सिस्टम के लिए करती थी. सूत्रों ने बताया, वित्त मंत्रालय ने रेलवे मंत्रालय को सर्विस चार्ज न वसूलने की सलाह दी थी और वादा किया था संचालन का खर्च रीइम्बर्स किया जाएगा.

ये भी पढ़ें: डिश टीवी-एयरटेल ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, होने वाला है बदलाव

शुरुआत में दिए निर्देशों के मुताबिक, सर्विस चार्ज न वसूले जाने की व्यवस्था जून 2017 तक रहनी थी, लेकिन बाद में कई बार इसकी समयसीमा बढ़ाई गई और अबतक पुरानी व्यवस्था को बहाल नहीं किया गया है. इस दौरान IRCTC की कमाई भी घटी क्योंकि सर्विस चार्ज से होने वाली कमाई का रेलवे की कुल आय में बड़ा योगदान था. सूत्रों ने बताया, वित्त मंत्रालय की तरफ से IRCTC को 88 करोड़ रुपयों का रीइम्बर्समेंट होना था, लेकिन यह भी पर्याप्त नहीं था.

वित्त मंत्रालय लेटर लिखने वाले रेलवे बोर्ड के जॉइंट डायरेक्टर ट्रैफिक कमर्शल(जनरल) बीएस किरन ने फिर सर्विस चार्ज लगाए जाने की बात कही है. सूत्रों का कहना है कि ममाला पर IRCTC के डायरेक्टर्स चर्चा करेंगे और सर्विस चार्ज की दर तय की जाएगी. उम्मीद है कि ई-टिकटों पर सर्विस चार्ज उसी दर से वसूला जाएगा, जैसा पहले किया जाता था.

ये भी पढ़ें: भारत के साथ कारोबार बंद होने से पाक को नुकसान, जानें वजह?
First published: August 8, 2019, 3:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...