अपना शहर चुनें

States

BPCL बीना रिफाइनरी में ओमान ऑयल की खरीदेगी हिस्सेदारी, 2000 करोड़ रुपए की होगी डील

निजीकरण के पहले होगी डील
निजीकरण के पहले होगी डील

भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) स्थित बीना रिफाइनरी (Bina Refinery) परियोजना में ओमान ऑयल कंपनी की हिस्सेदारी को खरीदने की मंजूरी पिछले महीने दे दी है. यह डील 1900 2000 करोड़ रुपए में हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 9:33 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) स्थित बीना रिफाइनरी (Bina Refinery) परियोजना में ओमान ऑयल कंपनी QQ की हिस्सेदारी को आपसी सहमति के आधार पर खरीदने की मंजूरी पिछले महीने दे दी थी. मनीकंट्रोल हिंदी की एक खबर के मुताबिक, यह डील 1900 2000 करोड़ रुपए में हो सकती है. इस मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने बताया कि BPCL के निजीकरण से पहले यह डील हो सकती है. सरकार एक तरफ BPCL में अपनी हिस्सेदारी बेचकर फंड जुटाने की तैयारी में है. दूसरी तरफ BPCL रणनीतिक डील कर रही है.

बीपीसीएल के पास भारत ओमान रिफाइनरीज लिमिटेड (बीओआरएल) में 63.68 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जो मध्य प्रदेश के बीना में 78 लाख टन क्षमता वाली तेल रिफाइनरी का परिचालन करती है. कंपनी ने बताया कि बोर्ड ने भारत ओमान रिफाइनरीज लिमिटेड में ओक्यू एसएओसी (पूर्व नाम ओमान ऑयल कंपनी) से 88.86 करोड़ इक्विटी शेयर (39.62 प्रतिशत) हिस्सेदारी खरीदने की मंजूरी दी.

ये भी पढ़ें: शिल्पकारों को टाटा का तोहफा, अब ऐप के जरिए मिलेगा कमाई करने का मौका



डील से BPCL की बढ़ सकती है वैल्यूएशन
BPCL की योजना बीना रिफाइनरी को मिलाने की है. बिना रिफाइनरी को भारत ओमान रिफाइनरी (BORL) के नाम से जाना जाता है. उम्मीद की जा रही है कि इस डील ने BPCL की वैल्यूएशन बढ़ सकती है और सरकार को अपनी हिस्सेदारी के बदले ज्यादा फंड मिल सकता है. इसके साथ ही पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स को बेचने में टैक्स एडवांटेज भी मिलेगा.

BPCL की बढ़ेगी हिस्सेदारी
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इस डील के बाद शेयरहोल्डिंग पैटर्न बदल जाएगा. डिबेंचर और वारंट्स को जोड़ लें तो BORL में BPCL की हिस्सेदारी बढ़कर 78 फीसदी हो जाएगी और QQ की हिस्सेदारी घटकर 22 फीसदी रह जाएगी.

ये भी पढ़ें: IRFC IPO: इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन के IPO में निवेश का आज है आखिरी मौका, ऐसे करें सब्सक्रिप्शन- जानें सबकुछ

खबर के अनुसार, BPCL ने BORL को 1254.10 करोड़ रुपए का कर्ज दिया था और 935.68 करोड़ रुपए का वारंट लिया था. BPCL ने 1000 करोड़ रुपए के ज़ीरो पर्सेंट कंप्लसरी कंवर्टिबल डिबेंचर भी सब्सक्राइब किया था. BPCL के बोर्ड ने बीना रिफाइनरी में QQ की हिस्सेदारी लेने का फैसला दिसंबर में किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज