• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • ब्रूकफील्ड इंडिया REIT का IPO 3 फरवरी को खुलेगा, जानें दूसरे आईपीओ से कैसे अलग है आरईआईटी आईपीओ

ब्रूकफील्ड इंडिया REIT का IPO 3 फरवरी को खुलेगा, जानें दूसरे आईपीओ से कैसे अलग है आरईआईटी आईपीओ

निवेशकों को कम से कम 200 यूनिट खरीदने होंगे और इसके बाद इसके मल्टीपल में इस IPO को सब्सक्राइब कर सकेंगे.

निवेशकों को कम से कम 200 यूनिट खरीदने होंगे और इसके बाद इसके मल्टीपल में इस IPO को सब्सक्राइब कर सकेंगे.

ब्रूकफील्ड इंडिया ने REIT IPO के लिए इश्यू प्राइस 274-275 रुपए प्रति शेयर तय किया है. इसका लॉट साइज 200 यूनिट्स का है. ब्रूकफील्ड से पहले माइंडस्पेस बिजनेस पार्क और एंबेसी ऑफिस पार्क REIT IPO भी लॉन्च हो चुका है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. ब्रूकफील्ड इंडिया रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट (Brookfield India Real Estate Investment Trust, REIT) लॉन्च करेगी. इस आरईआईटी को 3 फरवरी को पब्लिक इश्यु के जरिए  लाया जाएगा. कंपनी आरईआईटी के जरिये निवेशकों से 3800 करोड़ रुपए जुटाएगी. आईपीओ 3 से 5 फरवरी तक खुला रहेगा.
    ब्रूकफील्ड इंडिया ने आरईआईटी आईपीओ (REIT IPO) के लिए इश्यू प्राइस 274-275 रुपए प्रति शेयर तय किया है. इसका लॉट साइज 200 यूनिट्स का है. यानी निवेशकों को कम से कम 200 यूनिट खरीदने होंगे और इसके बाद इसके मल्टीपल में इस IPO को सब्सक्राइब कर सकेंगे. कंपनी इस IPO के जरिये जुटाए गए पैसे की इस्तेमाल अपने कर्ज (debt) को उतारने में करेगी.
    कनाडाई कंपनी ब्रूकफील्ड ऐसेट मैनेजमेंट इंक ( Brookfield Asset Management Inc) की स्वामित्व वाली भारतीय कंपनी ब्रूकफील्ड इंडिया REIT का यह आईपीओ किसी भी रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट द्वारा भारत में लॉन्च किया जाने वाला तीसरा REIT IPO है. इससे पहले 2020 में माइंडस्पेस बिजनेस पार्क REIT का IPO आ चुका है और 2019 में एंबेसी ऑफिस पार्क REIT (Embassy Office Parks REIT) का IPO भी लॉन्च हो चुका है. आपको बता दें कि ब्रूकफील्ड इंडिया REIT में ब्रूकफील्ड इंक की सहयोगी कंपनी बीपीजी होल्डिंग्स ग्रुप इंक (BPG Holdings Group Inc) की 99% हिस्सेदारी है.
    ब्रूकफील्ड इंडिया ने इस IPO के लिए बैंक ऑफ अमेरिका (Bank of America), सिटीग्रुप (Citi group) और Morgan Stanley को अपना लीड मैनेजर नियुक्त किया है.

    क्या होता है REIT और इसका आईपीओ

    REIT यानी रियल एस्टेट इंवेस्टमेंट ट्रस्ट (Real Estate Investment Trust) ऐसी कंपनी होती है जो रियल एस्टेट एसेट्स को शेयर की तरह यूनिट्स में बांट देती है. निवेशक इन यूनिट्स में निवेश कर सकते हैं. इसमें निवेशक किसी फिजिकल प्रॉपर्टी के मालिक नहीं होते, लेकिन उस संपत्ति से होने वाली कमाई में उनको हिस्सेदारी मिलती है. REIT IPO में भी कंपनी लोगों और इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स से आम IPO की तरह ही पैसे जुटाती है. इस IPO के जरिये जुटाए गए फंड्स का इस्तेमाल रियल एस्टेट के प्रोजेक्ट्स पर होता है और उस प्रोजेक्ट से होने वाले लाभ का हिस्सा हर साल इसमें निवेश करने वाले इंवेस्टर्स को मिलता है. साथ ही प्रॉपर्टी की मूल्य में वृद्धि होने की फायदा भी निवेशकों को मिलता है. यानी कंपनियां जब किसी रियल ऐस्टेट प्रॉपर्टी के डेवलपमेंट या निर्माण के लिए फंड्स जुटाने के लिए IPO लाती हैं तो उन्हें REIT IPO कहते है.

    कंपनी पर 6952.07 करोड़ रुपए का है कर्ज

    वित्त वर्ष 2020 में ब्रूकफील्ड इंडिया का मुनाफा 15.12 करोड़ रुपए था. जबकि इससे एक साल पहले इसका मुनाफा 15.75 करोड़ रुपए रहा था. कंपनी की कुल आमदनी 5.54% बढ़कर 981.40 करोड़ रुपए पहुंच गई. 31 मार्च, 2020 तक कंपनी पर कुल बकाया कर्ज 6952.07 करोड़ रुपए था. ब्रूकफील्ड इंडिया की पेरेंट कंपनी ब्रूकफील्ड इंक ग्लोबल स्तर पर 578 बिलियन डॉलर यानी करीब 5.44 लाख करोड़ रुपए के एसेट्स को मैनेज करती है. वहीं, भारत में कंपनी इंफ्रास्ट्रक्चर और रियल ऐस्टेट के क्षेत्र में 2.20 लाख स्क्वायर फीट की ऑफिस प्रोपर्टी को मैनेज करती है. इसके अलावा कंपनी के पास 7 टोल रोड्स हैं, जिनकी कुल लंबाई 600 किमी से अधिक है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज