Home /News /business /

bse appointed former deputy governor of rbi as chairman has long experience in banking sector jst

आरबीआई के पूर्व डिप्टी गवर्नर बने बीएसई के नये चेयरमैन, बैंकिंग क्षेत्र में है लंबा अनुभव

एस.एस. मुंद्रा.

एस.एस. मुंद्रा.

एसएस मुंद्रा तीन साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद 30 जुलाई, 2017 को भारतीय रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर के रूप में सेवानिवृत्त हुए थे. इससे पहले, वह बैंक ऑफ बड़ौदा के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक के रूप में सेवा दे चुके थे. जहां से वे जुलाई 2014 में सेवानिवृत्त हुए थे.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. बीएसई ने मंगलवार को बताया कि उसने कंपनी के निदेशक मंडल के अध्यक्ष के रूप में पब्लिक इंटरस्ट डायरेक्टर एस.एस. मुंद्रा की नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. एसएस मुंद्रा तीन साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद 30 जुलाई, 2017 को भारतीय रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर के रूप में सेवानिवृत्त हुए थे.

इससे पहले, वह बैंक ऑफ बड़ौदा के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक के रूप में सेवा दे चुके थे. जहां से वे जुलाई 2014 में सेवानिवृत्त हुए थे. हालांकि, इस नियुक्ति पर बाजार नियामक सेबी की मुहर लगना बाकी है.चार दशकों से अधिक के बैंकिंग करियर में मुंद्रा ने यूनियन बैंक के कार्यकारी निदेशक सहित कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया. वह यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के कार्यकारी के पद पर भी सेवा दे चुके हैं. उन्होंने जी20 फोरम की वित्तीय स्थिरता बोर्ड और इसकी विभिन्न समितियों में आरबीआई के नॉमिनी के रूप में भी कार्य किया. वह वित्तीय शिक्षा पर ओईसीडी के अंतर्राष्ट्रीय नेटवर्क (आईएनएफई) के उपाध्यक्ष भी रहे हैं.

ये भी पढ़ें- एसबीआई ने कहा- महंगाई के लिए आरबीआई दोषी नहीं, निकट भविष्य में कीमतें घटने की संभावना नहीं

इन बहुआयामी कंपनियों में दी सेवाएं
आरबीआई में शामिल होने से पहले, मुंद्रा ने क्लियरिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (सीसीआईएल), सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज इंडिया लिमिटेड (सीडीएसएल), बॉब एसेट मैनेजमेंट कंपनी, इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस कॉरपोरेशन (यूके) जैसी कई बहु-आयामी कंपनियों के बोर्ड में भी काम किया. इसके अलावा वह इंडिया फर्स्ट लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड, स्टार यूनियन दाई-इची लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड, नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

प्रखर वक्ता
मुंद्रा विभिन्न मंचों पर अध्यक्ष के रूप में नियमित रूप से उपस्थित रहे हैं. उन्होंने घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों मंचों पर बैंकिंग, वित्तीय समावेशन और साक्षरता, एमएसएमई वित्तपोषण, लेखा परीक्षा, धोखाधड़ी जोखिम प्रबंधन, साइबर सुरक्षा, उपभोक्ता संरक्षण, मानव संसाधन प्रबंधन आदि समेत विभिन्न मुद्दों पर 60 से अधिक भाषण/प्रस्तुतियां दी हैं. इनमें से कई भाषण भारतीय रिजर्व बैंक और बैंक फॉर इंटरनेशनल सेटलमेंट्स की वेबसाइटों पर प्रकाशित किए गए हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर